Home समाचार लोकतंत्र के ‘चौथे स्तंभ’ के साथ दुर्व्यहार कांग्रेसियों के लिए कोई नई...

लोकतंत्र के ‘चौथे स्तंभ’ के साथ दुर्व्यहार कांग्रेसियों के लिए कोई नई बात नहीं!

859
SHARE
फाइल तस्वीर

रिपब्लिक न्यूज चैनल के प्रमुख अर्नब गोस्वामी और उनकी पत्नी पर बुधवार रात हुए हमले के बाद कांग्रेस सवालों के घेरे में है। अर्नब गोस्वामी के अनुसार ऑफिस से वापस लौटते वक्त उनके और उनकी पत्नी के साथ दो लोगों ने दु‌र्व्यहार करने की कोशिश की। अर्नब गोस्वामी ने इस घटना की लिखित शिकायत दर्ज करा दी है।

अर्नब गोस्वामी का आरोप है कि हमला करने वाले गुंडे सत्ताधारी पार्टी से जुड़े हुए थे इसलिए उन्हें शिकायत दर्ज कराने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। अर्नब का कहना है कि दोनों गुंडे हिंदी में गालियां दे रहे थे। दोनों गुंडे उनका रास्ता रोक तरल पदार्थ फेंक कार का गेट थपथपाने लगे। लेकिन वो अपनी गाड़ी आगे ले जाने में कामयाब रहे। बाद में घर पहुंचने पर सुरक्षा में तैनात शिवाजी होस्मानी ने उन्हें बताया कि उन पर हमला करने वाले युवा कांग्रेस के थे। इसके बाद डीसीपी ने भी आकर बताया कि हमलावर यूथ कांग्रेस के थे, लेकिन बाद में डीसीपी ने कहना शुरू कर दिया कि ये तो जांच के बाद ही पता चलेगा कि वे यूथ कांग्रेस के थे या नही?

ये पहली बार नहीं है कि कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं ने पत्रकारों के साथ दु‌र्व्यहार किया हो। इससे पहले भी कई मौकों पर कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार कर चुके हैं। कांग्रेसी कार्यकर्ता अलग- अलग चैनलों और मीडिया हाउस के पत्रकारों के साथ दु‌र्व्यहार कर चुके हैं। आइए आपको बताते हैं मीडिया में प्रकाशित ऐसी ही कुछ खबरों के बारे में।   

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ABP रिपोर्टर के साथ की बदसलूकी 

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अगस्त 2019 में यूपी के सोनभद्र के उम्भा गांव गई थीं। इस दौरान जब एबीपी गंगा के रिपोर्टर ने अनुच्छदे 370 पर प्रियंका गांधी से सवाल पूछा तो कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता रिपोर्टर को धमकी देने लगे और इस दौरान रिपोर्टर के साथ धक्कामुक्की की गई। 

राहुल गाँधी की जन-आक्रोश रैली में पत्रकार के साथ बदसलूकी

2018 में राहुल गांधी जन आक्रोश रैली कवर करने गए एक पत्रकार से कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बदसूलकी की। कुछ पत्रकार मैदान में मौजूद भीड़ के साथ उस कुर्सी की भी तस्वीर लेने लगे जो मैदान में खाली पड़ी थीं। यह देख कांग्रेस के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचकर पत्रकारों को रोकने लगे और कवरेज कर रहे पत्रकार के साथ बदसलूकी पर उतर आए। 

बैतूल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पत्रकार पर हमला किया 

मध्यप्रदेश के बैतूल में जब एक फोटोग्राफर मंच की फोटो लेने की कोशिश कर रहा था तो कांग्रसे कार्यकर्ताओं ने पहले उसे धमकी दी और फिर बाद में उसके साथ मारपिटाई करने लगे। घटना साल 2013 की है।

जी न्यूज की टीम पर हमला 

गुजरात में चुनाव के दौरान कवर करने गए जी न्यूज के पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार किया गया है। एक शो के दौरान सवाल पूछने पर कांग्रेसी भड़क गए और दु‌र्व्यहार करने लगे। 

 

 

 

 

Leave a Reply