Home समाचार 208 VCs व शिक्षाविदों ने PM मोदी को पत्र लिखकर उठाया लेफ्ट...

208 VCs व शिक्षाविदों ने PM मोदी को पत्र लिखकर उठाया लेफ्ट प्रयोजित हिंसा का मामला

592
SHARE

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हिंसा पर जारी हंगामे के बीच देश की 208 यूनिवर्सिटीज के वाइस चांसलर, रजिस्ट्रार और शिक्षाविदों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। इस पत्र में कुलपतियों और शिक्षाविदों ने यूनिवर्सिटी कैंपस में वाम प्रयोजित हिंसा का मामला उठाया है। पत्र में लिखा गया है कि छात्र राजनीति के नाम पर विघटनकारी वामपंथी एजेंडा फैलाया जा रहा है।

जनसत्ता डॉट कॉम में छपी खबर के अनुसार हाल के दिनों में जेएनयू से जामिया, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से लेकर जादवपुर यूनिवर्सिटीज तक वामपंथी कार्यकर्ताओं के कुछ छोटे गुटों द्वारा शिक्षा का महाौल बिगाड़ा जा रहा है, जिसके चलते संस्थानों में शैक्षित गतिविधियां प्रभावित हो रही हैं।

छपी खबर के अनुसार पत्र में लिखा गया है कि छात्रों को कम उम्र में ही कट्टरपंथी बनाकर उनकी मुक्त सोच और रचनात्मकता को कुंद किया जा रहा है। राजनीतिक गतिविधियों के चलते छात्रो की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।

विचारधारा के नाम पर छात्र बहुलतवाद के खिलाफ असहिष्णु हो रहे हैं। पत्र के अनुसार इससे छात्रों के विभिन्न गुटों के बीच हिंसा हो रही है और अध्यापकों और बौद्धिक लोगों के खिलाफ असहिष्णुतता बढ़ रही है।

पत्र में कहा गया है कि वामपंथी राजनीति की सेंसरशिप के चलते सार्वजनिक मटिंग और खुलकर बोलने की आजादी मुश्किल में आ गई है। वामपंथी दलों के गढ़ में हड़ताल, धरना और बंद आम बात हो गई है। वामपंथ की इस राजनीति का सबसे ज्यादा शिकार छात्र हो रहे हैं। 

शिक्षाविदों के पत्र में लोकतांत्रिक ताकतों से अपील की गई है कि वह साथ आएं और शैक्षिक संस्थानं की आजादी, बोलने की आजादी और बहुलतावाद की सोच की रक्ष करें। 

Leave a Reply