Home समाचार मेक इन इंडिया, इंवेस्ट इन इंडिया- पीएम मोदी

मेक इन इंडिया, इंवेस्ट इन इंडिया- पीएम मोदी

643
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया भर के उद्यमियों से भारत में निर्माण करने और भारत में निवेश करने का आह्वान किया है। पीएम मोदी ने मंगलवार को हैदराबाद में आयोजित ग्लोबल आंत्रप्रन्योरशिप समिट में ये आह्वान किया। इस कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की एडवाइजर इंवाका ट्रंप अमेरिका का प्रतिनिधित्व कर रही हैं। ये समिट दक्षिण एशिया का पहला ग्लोबल आंत्रप्रन्योरशिप समिट है। इससे पहेल इवांका ट्रंप ने कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पीएम मोदी का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि बचपन में चाय बेचने से लेकर प्रधानमंत्री बनकर पीएम मोदी ने दिखा दिया है कि बदलाव संभव है।

भारत की विकास यात्रा में भागीदार बनें उद्यमी
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया भर के उद्यमियों से कहा है कि वे भारत और विश्व के लिए भारत में आकर निर्माण करें और भारत में निवेश करें। पीएम मोदी ने कहा कि युवाओं की बड़ी जनसंख्या वाले भारत में विकास की असीम संभावनाएं हैं। ऐसे में दुनिया भर के उद्यमियों के लिए भारत की विकास यात्रा में भागीदार बनने का एक बहुत बढ़िया अवसर है। उन्होंने कहा कि यह समिट सिलिकन वैली और हैदराबाद को सिर्फ नजदीक ही नहीं ला रहा है, दोनों देशों के संबंधों को और भी मजबूत कर रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत प्राचीन काल से ही नई-नई खोजों और उद्यमों की भूमि रहा है। इसके लिए उन्होंने चरक संहिता, योग, आर्यभट्ट और कॉटिल्य के अर्थशास्त्र से लेकर प्राचीन भारतीय बंदरगाहों और डॉकयार्ड्स का भी जिक्र किया। पीएम ने कहा कि चीजों को अलग तरीके से और समय से पहले सोचने की क्षमता ही एक सफल उद्यमी की पहचान है, जो कि आज के भारतीय युवाओं में मौजूद है। भारत की बड़ी युवा जनसंख्या इस क्षेत्र के उज्जवल भविष्य का संकेत है।

विकास के लिए महिला सशक्तिकरण आवश्यक
कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि देश के विकास के लिए महिला सशक्तिकरण काफी अहम है। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्‍कृति में महिला को शक्‍ति का प्रतीक माना गया है। इनकी तरक्‍की से ही देश और समाज की तरक्‍की संभव है। पीएम मोदी ने बताया कि भारत का इतिहास महिलाओं की गौरवगाथा से भरा पड़ा है। उन्होंने प्राचीन काल की दार्शनिक गार्गी से लेकर रानी अहिल्‍याबाई होल्‍कर और रानी लक्ष्‍मीबाई की बात बताई जिन्होंने अपने राज्य की रक्षा के लिए बहादुरी से लड़ाइयां लड़ीं। भारतीय नारी शक्ति की भूमिका बताते हुए उन्होंने भारतीय मूल की अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला और सुनीता विलिम्स का भी नाम लिया। उन्होंने कहा कि भारत के 4 में से 3 पुराने हाईकोर्ट में महिला चीफ जस्टिस हैं। खेल में महिलाओं ने तो देश का नाम काफी रोशन किया है। अकेले हैदराबाद से ही सायना नेहवाल, पी वी संधु और सानिया मिर्जा जैसी खिलाड़ियों का नाम जुड़ा हुआ है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत की स्थानीय सरकारों में महिलाओं की 33% भागीदारी सुनिश्चित की गई है। कृषि से जुड़े क्षेत्र में 60% से ज्यादा वर्कर महिला हैं। गुजरात मिल्क कॉ-ऑपरेटिव सोसाइटी और लिज्जत पापड़ महिलाओं की सफलता की कहानियां बयां करती हैं। दिलचस्प बात ये है कि ग्लोबल आंत्रप्रन्योरशिप समिट में भाग ले रही प्रतिनिधियों में भी 50 % से ज्यादा महिलाएं हैं।

LEAVE A REPLY