Home समाचार गोवंश की पूजा कर ‘पाप’ से मुक्ति चाह रही है कांग्रेस?

गोवंश की पूजा कर ‘पाप’ से मुक्ति चाह रही है कांग्रेस?

319
SHARE

कांग्रेस देश को किस तरह से गुमराह करती है इसकी एक और बानगी गुजरात में देखने को मिल रही है। गोवंश को सरेआम काटने वाली कांग्रेस गुजरात में गाय की पूजा कर रही है। वह भी तामझाम के साथ जिससे मीडिया अटेंशन मिले। गुजरात नगर निगम की जेनरल बोर्ड की मीटिंग से पहले कांग्रेस नेताओं ने जो कुछ किया वो कांग्रेस की डबल स्टैंडर्ड की राजनीति को बयां करती है। केरल में सरेआम गाय का कत्ल और गुजरात में सार्वजनिक तौर पर गाय की पूजा।

कांग्रेस नेताओं ने गुजरात में राजकोट नगर निगम की जेनरल बोर्ड की मीटिंग से पहले गाय की पूजा की। गाय की पूजा करने के लिए कांग्रेस ने इसकी पूरी तैयारी की थी कि इसे खूब प्रचार भी मिले। कांग्रेस ने गाय की पूजा के बहाने स्थानीय मुद्दों को सामने लाने की बात कही। लेकिन ये साफ हो गया कि कांग्रेस इस गोवंश की पूजा कर अपनी छवि बहुसंख्यकों के बीच में सुधारने की जद्दोजहद में लगी है।

‘पाप’ धोना चाहती है कांग्रेस!
दरअसल केरल में कांग्रेस कार्यकर्ता द्वारा गाय के सरेआम कत्ल के बाद बहुसंख्यक लोगों की नजरों में चढ़ चुकी कांग्रेस अपना पाप धोना चाहती है। वो जानती है कि गुजरात की जनता गोवंश को किस पवित्र दृष्टि से देखती है। आने वाले वक्त में गुजरात में विधानसभा चुनाव भी होने वाले हैं। जाहिर है कांग्रेस को चिंता लोगों की नहीं वोटों की है। उन वोटों की जो गोवंश के अपमान के बाद कांग्रेस को सबक सिखाना चाहती है।

क्या कांग्रेस को गोवंश पर बात करने का हक है?
दरअसल कांग्रेस उन 292 गायब गायों के बारे में बात कर रही है जो मवेशियों के तालाब से गायब हो गए हैं। लेकिन कांग्रेस का मकसद क्या है बीजेपी ने इस बात का भांडा फोड़ा है। बीजेपी कहती है कि सरेआम गाय की हत्या करने वाली काग्रेस को गोवंश के सरंक्षण की बात करने का अधिकार नहीं है। बीजेपी ने कहा है कि कांग्रेस अपनी राजनीति को फिर से पटरी पर लाने के लिए गाय के मुद्दे के साथ सामने आई है।

LEAVE A REPLY