Home समाचार हाथ से निकलती फिल्म सिटी से बौखलाए उद्धव ठाकरे, सीएम योगी को...

हाथ से निकलती फिल्म सिटी से बौखलाए उद्धव ठाकरे, सीएम योगी को दी धमकी, कहा- हिम्मत है तो फ़िल्म सिटी को यूपी ले जाकर दिखाएं

945
SHARE

शिवासेना धमकाने और गिदड़भभकी देने के लिए जानी जाती है। लेकिन कांग्रेस के साथ आने के बाद उसके साथ ‘नॉटी’ शब्द भी जुड़ गया है। शिवसेना नेता संजय राउत ने ‘नॉटी’ शब्द की जो परिभाषा दी है, वह शिवसेना पर अक्षरश: लागू होती है। मुंबई के बॉलीवुड को पहचान दिलाने में महाराष्ट्र के बाहर के लोगों का बड़ा योगदान है। इसका फायदा मुंबई को मिल रहा है, लेकिन महाराष्ट्र की उद्धव सरकार इस पर अपना पेटेंट समझती है। अब इस पेटेंट को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ी चुनौती दी है। इससे बौखलाए उद्धव ठाकरे अब इशारों-इशारों में धमकी देने पर उतर आए हैं।

दरअसल, गुरुवार को सिनेमा जगत से जुड़े हुए एक वेबीनार में बोलते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चुनौती दी। उन्होंने कहा है कि अगर हिम्मत है तो योगी फिल्म सिटी को उत्तर प्रदेश में ले जाकर दिखाएं। ठाकरे ने मुख्यमंत्री योगी की क्षमता पर सवाल खड़े करते हुए कटाक्ष किया कि अगर ये सब करने की क्षमता रखते हैं तो चला लीजिए फिल्म उद्योग। कुछ महीनों पहले आदित्यनाथ ने कहा था कि वे देश की सबसे बड़ी फिल्म सिटी उत्तर प्रदेश में बनाएंगे। तब से इस मुद्दे पर शिवसेना और सीएम योगी आमने-सामने हैं। 

हाथ से निकल रही फिल्म सिटी को बचाने के लिए उद्धव ठाकरे अब सुविधाओं और मदद की बात करने लगे हैं। वेबीनार में उद्धव ठाकरे ने मुंबई फिल्म सिटी में आधुनिक सुविधाएं मुहैया करवाने का भी भरोसा फिल्म जगत को दिया। उन्होंने कहा कि बॉलीवुड इंडस्ट्री में कई सारी समस्याएं और परेशानियां हैं जिनको दूर करने का काम हमारी सरकार करेगी। बॉलीवुड इंडस्ट्री को जो भी सुविधाएं चाहिए उन्हें मुहैया करवाया जाएगा। उद्धव ठाकरे ने कहा कि जिस भूमि पर दादा साहब फाल्के ने फिल्म निर्माण की शुरुआत की। उस जगह पर मैं किसी भी प्रकार की कमी नहीं होने दूंगा।

यह पहली बार नहीं है, जब शिवसेना ने फिल्म सिटी को लेकर मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधा हो। इससे पहले शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ ने लिखा था कि जब लॉकडाउन और कोरोना की वजह से फिल्म सिटी बंद है तब योगी जी नई फिल्म सिटी बनाने की बात कर रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय सलाहकारों के मार्गदर्शन के साथ यह काम शुरू किया जाएगा और अगले ढाई वर्ष के भीतर यह काम पूरा कर लिया जाएगा। यह सब होने के बाद भी मुंबई की फिल्म सिटी का महत्व कम नहीं होगा।

इस मामले में शिवसेना ने बीजेपी पर बॉलीवुड को मुंबई से दूसरी जगह शिफ्ट करने की साजिश का आरोप लगाया और धमकी दी कि हम इसे पूरा नहीं होने देंगे। मुंबई महाराष्ट्र की आर्थिक राजधानी ही नहीं बल्कि सांस्कृतिक राजधानी भी है। आज बॉलीवुड में हॉलीवुड को टक्कर देने वाली फिल्में बन रही हैं। लेकिन बीते कुछ दिनों से कुछ लोगों की वजह से बॉलीवुड को बदनाम करने की भी साजिश की जा रही है।

 

Leave a Reply