Home समाचार वाद हो, विवाद हो, संवाद तो होना ही चाहिए- प्रधानमंत्री मोदी

वाद हो, विवाद हो, संवाद तो होना ही चाहिए- प्रधानमंत्री मोदी

1620
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र में सभी सदस्य जनहित के मुद्दों को महत्व देंगे। मंगलवार को शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ‘हमारा निरंतर प्रयास रहा है कि सभी विषयों पर चर्चा हो। खुल करके चर्चा हो, तेज-तर्रार चर्चा हो, तीखी तमतमती चर्चा लेकिन चर्चा तो हो! वाद हो, विवाद हो, संवाद तो होना ही चाहिए।’ उन्होंने कहा कि, ‘यह सत्र महत्‍वपूर्ण है। सरकार की तरफ से कई महत्‍वपूर्ण विषय, जो जनहित के हैं, देशहित के हैं और सभी का यह प्रयास रहे कि जितने अधिकतम काम हम जनहित का कर पाएं, लोकहित का कर पाएं, देशहित का कर पाएं। मुझे विश्‍वास है कि सदन के सभी सदस्‍य इस भावना का आदर करते हुए आगे बढ़ेंगे।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ‘हमारा आग्रह रहेगा कि यह सदन निर्धारित समय से भी अधिक समय काम करे। सारे महत्‍वपूर्ण विषयों को नतीजे तक पहुंचाये। चर्चा करके उसको और अधिक सार्थक बनाने के लिए और अधिक मजबूत बनाने के लिए प्रयास हो और मुझे विश्‍वास है कि सभी राजनीतिक दल जो मई महीने में कसौटी पर कसने वाले हैं, तो जरूर जनता जनार्दन का ध्‍यान रख करके इस सत्र का सर्वाधिक उपयोग जनहित के लिए करेंगे, दल हित के लिए नहीं करेंगे।’

Leave a Reply