Home समाचार महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक गिरफ्तार, मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी...

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक गिरफ्तार, मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी का एक्शन

481
SHARE

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गिरफ्तार कर लिया है। ईडी ने उन्हें दाऊद इब्राहिम मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया है। पांच घंटे की पूछताछ के बाद मुंबई बम ब्लास्ट के आरोपी और दाऊद इब्राहिम से संबंधित लोगों के आर्थिक लेन-देन के मामले में उन्हें गिरफ्तार किया गया। सूत्रों के मुताबिक ईडी ने कुछ दिनों पहले ठाणे जेल से दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को कस्टडी में लेकर उससे पूछताछ की। इकबाल कासकर ने अपनी पूछताछ में नवाब मलिक का नाम लिया है। खबर है कि नवाब मलिक कई सवालों का संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए, इस वजह से उन्हें ईडी ने गिरफ्तार किया। गिरफ्तार करने के बाद उन्हें मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाया गया।

इसके पहले अंडरवर्ल्ड कनेक्शन को लेकर उद्धव ठाकरे के मंत्री नवाब मलिक से पूछताछ के लिए ईडी के अधिकारी सुबह करीब 6 बजे नवाब मलिक के घर पर पहुंचे। जहां करीब एक घंटे तक पूछताछ करने के बाद अधिकारी नवाब मलिक को अपने साथ ईडी दफ्तर ले गए। नवाब मलिक से अंडरवर्ल्ड से जुड़ी प्रॉपर्टी मामले में पूछताछ की गई। खबर के अनुसार अंडरवर्ल्ड कनेक्शन, संपत्ति की अवैध रूप से खरीद-फरोख्त और हवाला लेनदेन के संबंध में ईडी ने 15 फरवरी को मुंबई में छापेमारी की थी और एक नया मामला दर्ज किया था। जिसके बाद मलिक से पूछताछ की गई।

दैनिक भास्कर के अनुसार 9 नवंबर, 2021 को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने नवाब मलिक के अंडरवर्ल्ड से रिश्ते का सनसनीखेज खुलासा किया था। उन्होंने कहा था कि नवाब मलिक ने दाऊद इब्राहिम के गैंग से जमीनें खरीदीं। ये जमीनें मुंबई में ब्लास्ट करने के आरोपियों की हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सरदार शाह वली खान और हसीना पारकर के करीबी सलीम पटेल के नवाब मलिक के साथ व्यवसायिक संबंध हैं। इन दोनों ने नवाब मलिक के रिश्तेदार की एक कंपनी को मुंबई के एलबीएस रोड पर मौजूद करोड़ों की जमीन कौड़ियों के दाम में बेची। फडणवीस के अनुसार 3 एकड़ जमीन सिर्फ 20-30 लाख में बेची गई, जबकि इसका मार्केट प्राइस 3.50 करोड़ से ज्यादा थी। यह भी बताया जा रहा है कि दाऊद के भाई इकबाल कासकर ने ईडी की पूछताछ में उनका नाम लिया है। कासकर ईडी की कस्टडी में है।

एनसीपी नेता नवाब मलिक पर दाउद इब्राहिम से कनेक्शन का आरोप लगने के बाद ईडी ने अपना शिकंजा कसना शुरू कर दिया था।

Leave a Reply