Home समाचार उन्नाव मामले में फर्जी खबर फैलाने पर बरखा दत्त की ‘द मोजो...

उन्नाव मामले में फर्जी खबर फैलाने पर बरखा दत्त की ‘द मोजो स्टोरी’ सहित 8 ट्विटर हैंडल के खिलाफ कार्रवाई

1427
SHARE

उत्तर प्रदेश पुलिस ने उन्नाव में दलित लड़कियों की मौत के मामले में फर्जी खबर फैलाने के आरोप में बरखा दत्त की ‘द मोजो स्टोरी’ सहित 8 ट्विटर हैंडल के खिलाफ कार्रवाई की है। पुलिस ने भ्रामक सूचना फैलाने के लिए 21 फरवरी को आठ ट्विटर अकाउंट पर एफआईआर दर्ज की। उन्नाव पुलिस ने बबुरहा गांव में खेत में मृत पाई गईं दो नाबालिग लड़कियों के शवों की बरामदगी के संबंध में भड़काऊ पोस्ट के खिलाफ दर्ज एफआईआर में कहा है कि इन अकाउंट्स ने झूठी जानकारी फैलाई कि इन लड़कियों का बलात्कार किया गया था, जबकि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में ऐसी कोई बात नहीं मिली है। इन अकाउंट ने उनके शवों का घर वालों की मर्जी के खिलाफ अंतिम संस्कार किए जाने जैसी आक्रोश पैदा करने वाली खबर फैलाकर लोगों को भड़काने का भी प्रयास किया।

पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टरों के अनुसार दोनों लड़कियों की मौत जहरीला पदार्थ खाने से हुई। दोनों ने मौत से करीब 6 घंटे पहले खाना खाया था। जिन हैंडल्स के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई हैं, उनमें ‘द मोजो स्टोरी’ (बरखा दत्त की समाचार एजेंसी), निलिम दत्ता (यूनीफाइड पीपुल्स मूवमेंट के अध्यक्ष), @janjagranlive (जनजागरण लाइव- समाचार एजेंसी), SurajKrBaudh (आज़ाद समाज पार्टी का प्रवक्ता), @VijayAmbedkarUP (जय भीम आईटी टीम), @Abhaykumarazad9 (भीम आर्मी सदस्य), @Rahuldkkr (गाडगे यूथ ब्रिगेड नेता) और @BhimSenaChief (नवाब सतपाल तंवर) शामिल है।

उत्तर प्रदेश सरकार के ‘उत्तर प्रदेश फैक्ट चेक’ अकाउंट ने 19 फरवरी को ही बरखा दत्त के फर्जी ट्वीट को खारिज कर दिया था।

फर्जी खबर फैलाने का मामला पर सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है।

Leave a Reply