Home विपक्ष विशेष हिंसा और दमन के जरिए सत्ता पर काबिज रहने की आखिरी कवायद...

हिंसा और दमन के जरिए सत्ता पर काबिज रहने की आखिरी कवायद है ममता की धरना-पॉलिटिक्स

395
SHARE

भ्रष्टाचारियों और पश्चिम बंगाल में अपनी सत्ता को बचाने के लिए सीएम ममता बनर्जी बेहद गैरजिम्मेदाराना रवैये पर उतर आई हैं। सारदा चिटफंड मामले की जांच के लिए रविवार को कोलकाता पहुंची सीबीआई की टीम को अपना काम करने से रोकने के बाद ‘उलटा चोर कोतवाल को डांटे’ की तर्ज पर ममता केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ धरने पर बैठ गईँ। देश के इतिहास में यह पहला अवसर है, जब किसी राज्य की पुलिस ने मुख्यमंत्री के कहने पर सीबीआई को न सिर्फ जांच करने से रोका, बल्कि सीबीआई की टीम को भी हिरासत में ले लिया। सारदा चिटफंड मामले में सीबीआई टीम कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ के लिए कोलकाता पहुंची थी। विडंबना तो यह है कि ममता के इस गैरसंवैधानिक धरने और भ्रष्टाचारियों को कानूनी कार्रवाई से बचाने की कोशिशों को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ ही विपक्ष के तमाम नेताओं का समर्थन मिल रहा है। दरअसल, ममता के इस कदम ने राज्य में संवैधानिक संकट की स्थिति उत्पन्न कर दी है। सीबीआई इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंची है। कोर्ट ने आज सुनवाई के लिए मंगलवार का दिन तय करते हुए कहा कि अगर पुलिस कमिश्नर ने सबूतों को नष्ट किया है, तो उन्हें अंजाम भुगतना होगा। कमिश्नर राजीव कुमार पर रोजवैली और सारदा चिटफंड घोटाले की जांच से जुड़ी फाइलें गायब करने का आरोप है। 

धर्मतल्ला में ‘अधर्म’ का धरना और उसके समर्थन में आए नेताओं की हकीकत देखिए… 

* राहुल गांधी- इनकम टैक्स मामले में जमानत पर, नेशनल हेराल्ड मामले में 5000 करोड़ की हेराफेरी के आरोप       

* लालू यादव- चारा घोटाला के कई मामलों में सजायाफ्ता, IRCTC घोटाला मामले में भी आरोपी

* अखिलेश यादव- कैग की रिपोर्ट में अखिलेश सरकार पर 97 हजार करोड़ के घोटाले का आरोप, अवैध खनन घोटाले में भी शामिल होने का शक

* अरविंद केजरीवाल- 300 करोड़ का दवा घोटाला, सीएनजी घोटाला समेत अपने मंत्री से 2 करोड़ रुपये नकद घूस लेने के आरोप

* शरद पवार- लवासा प्रोजेक्ट के लिए निजी कंपनी को लाभ पहुंचाने का आरोप, सिंचाई घोटाले में आरोपी भतीजे अजीत पवार को राजनीतिक संरक्षण

क्या है चिटफंड घोटाला ?

* सारदा ग्रुप ने 2013 में गलत तरीके से निवेशकों से पैसे जुटाए

* करीब 10 लाख निवेशकों से 2500 करोड़ रुपये की ठगी

* रोजवैली के गौतम कुंडु पर 17,000 करोड़ की ठगी का आरोप

* सारदा और रोजवैली कंपनियों के तार तृणमूल कांग्रेस से जुड़े  

* हाई प्रोफाइल हस्तियों से जुड़े हैं दोनों मामले

* दोनों मामलों में कई तृणमूल नेता गिरफ्तार हो चुके हैं

LEAVE A REPLY