Home समाचार पीएम मोदी ने एक बार फिर दिखाई दरियादिली

पीएम मोदी ने एक बार फिर दिखाई दरियादिली

1931
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर अपनी दरियादिली दिखाई है। मीडिया में उनकी दरियादिली की जमकर तारीफ हो रही है।

प्रधानमंत्री ने स्वतः संज्ञान लेते हुए कैंसर पीड़ित एक महिला को तीन लाख रुपए की मदद मुहैया कराई है।

उनकी यह दरियादिली पहली बार सामने नहीं आई है बल्कि वे हमेशा देश के लोगों की सेवा करने में आगे रहते हैं। इसके पहले पटना के कैंसर पीड़ित सुमित रंजन सिन्हा को दो लाख, कुर्जी के सना अर्फी को तीन लाख और दिल्ली के प्रमोद जैन को 50 हजार रुपए की मदद दे चुके हैं.

इसी तरह बुलंदशहर की ढाई साल की कैंसर से पीड़ित रिद्धि को भी तीन लाख की मदद मुहैया करा चुके हैं. ताजा मामला भी एक कैंसर पीड़ित महिला डोरिस फ्रांसिस का है.

कैंसर से जूझ रही उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले की डोरिस फ्रांसिस को प्रधानमंत्री कार्यालय से तीन लाख रुपए की मदद मिली है।

खोड़ा निवासी डोरिस फ्रांसिस के कैंसर की खबर मीडिया में आने के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय ने स्वतः संज्ञान लेते हुए उन्हें आर्थिक सहायता मुहैया कराई है।

प्रधानमंत्री कार्यालय से इस बारे में एक पत्र बृहस्पतिवार को भेजा गया। डोरिस फ्रांसिस के परिजनों ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है।

हालांकि इस बारे में डोरिस या उसके परिजनों की ओर से प्रधानमंत्री कार्यालय को कोई सूचना नहीं भेजी गई थी. लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय ने खुद पहल करते हुए उनकी मदद की और इलाज के लिए तीन लाख रुपये की सहायता राशि दी।

कौन है डोरिस फ्रांसिस ?

खोड़ा की रहने वाली डॉरिस फ्रांसिस अपने काम की वजह से पिछले काफी समय से चर्चा में हैं। सर्दी-गर्मी हो या बरसात, पिछले कई साल से वह हाइवे पर ट्रैफिक मैनेज करती आ रही हैं। एक रोड एक्सिडेंट में अपनी बेटी की मौत के बाद से ही वह हर सुबह गाजियाबाद के एनएच-24 पर भीड़ वाले इलाके में ट्रैफिक संभालने का काम करती हैं।

डोरिस उसी जगह पर खड़ी होकर ट्रैफिर संभालती हैं जहां उनकी 17 वर्षीय बेटी की मौत हो गई थी।

हालत में सुधार

डोरिस को हाल ही में पेट में दर्द होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पता चला कि उन्हें कैंसर है। माली हालत सही नहीं होने का कारण वह इलाज नहीं करा पा रही थीं।

इसी बीच मीडिया में उनके कैंसर से बीमार होने की खबर आई जिसका संज्ञान लेते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय ने उन्हें इलाज के लिए आर्थिक सहायता मुहैया कराने का फैसला किया।

इसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने डोरिस के परिजनों से भी बात की। कार्यालय की तरफ से एम्स के डॉक्टरों से भी बात की गई.

डोरिस की हालत में अब काफी सुधार है. डॉक्टरों के मुताबिक उनकी हालत खतरे से बाहर है और उन्हें जल्द ही अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी।

LEAVE A REPLY