Home कोरोना वायरस यूं ही नहीं करता हर कोई प्यार: कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री...

यूं ही नहीं करता हर कोई प्यार: कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने फोन कर जाना हालचाल

854
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कोरोना संकट में व्यस्तता के बावजूद बुजुर्ग नेताओं को फोन कर उनका हालचाल पूछ रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी पिछले कुछ दिनों से लगातार अपने पुराने दोस्तों से बात कर रहे हैं, जिससे इन नेताओं को सुखद आश्चर्य की अनुभूति हो रही है। देश के बुजुर्ग नेता प्रधानमंत्री मोदी की आवाज सुन भावुक हो जा रहे हैं।

प्रसाद परिवार का जाना हालचाल, पुरानी यादें की ताजा
प्रधानमंत्री मोदी ने चंडीगढ़ भाजपा के मौजूदा कोषाध्यक्ष राज किशोर को फोन कर उनकी 75 वर्षीया मां चुन्नी देवी का हालचाल पूछा। प्रधानमंत्री ने उन्हें मां का विशेष ख्याल रखने के लिए कहा। 17 मिनट तक पीएम मोदी राज किशोर के साथ बात करते रहे। जागरण के अनुसार प्रधानमंत्री ने राजकिशोर से लॉकडाउन के बारे में पूछा। जिस पर उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ भाजपा 50 रसोइए लगाकर प्रतिदिन 75 हजार लोगों के लिए खाना बना रही है। राज किशोर ने भाजपा द्वारा पहुंचाए जा रहे सभी राहत कार्यो का ब्योरा भी दिया जिस पर उन्होंने हर्ष जताया। बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने अपने समकालीन कार्यकताओं यशपाल महाजन, देसराज टंडन, युद्धवीर शारदा सहित कई वरिष्ठ सदस्यों की भी सुध ली। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को हर पुरानी बातें याद है। उनसे बात करके उनमें एक नई ऊर्जा आ गई है। इतनी व्यस्तता में भी मोदी ने उन्हें संपर्क किया। इसके लिए वह पीएम मोदी के आभारी हैं। नरेन्द्र मोदी जब 90 के दशक में चंडीगढ़, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के प्रभारी थे तो वे पंचकूला में इनके परिवार के साथ ही रहा करते थे और संगठन का संचालन करते थे।

फोटो सौजन्य

मोहन लाल बौठियाल को नहीं हुआ यकीन
उत्तराखंड के वरिष्ठ बीजेपी नेता मोहन लाल बौठियाल को तो उस समय यकीन नहीं हुआ जब उन्हें प्रधानमंत्री कार्यालय से फोन आया कि प्रधानमंत्री मोदी उनसे बात करना चाहते हैं। बुधवार, 22 अप्रैल को सुबह साढ़े आठ बजे के करीब 76 साल के बौठियाल जब उत्तराखंड में पौड़ी जिले के पैतृक गांव एता में अपने गेहूं के खेतों की ओर जा रहे थे, तब फोन पर प्रधानमंत्री मोदी की आवाज सुनकर वह भाव-विभोर हो गए। प्रधानमंत्री मोदी ने करीब तीन मिनट तक अपने पुराने साथी से बातचीत की। नवभारत टाइम्स के अनुसार, उन्होंने इस बारे में बातचीत की कि कैसे 1998 में उनकी मुलाकात बद्रीनाथ में बीजेपी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में हुई थी और उसके बाद 2014 में उत्तराखंड के श्रीनगर (गढ़वाल) में एक चुनावी सभा में वे मिले थे। प्रधानमंत्री मोदी ने बौठियाल को बताया कि उन्होंने देश में संकट के इस समय में जनसंघ के दिनों के अपने पुराने साथियों से बात करने का फैसला किया है और इस नाते उनसे बात कर रहे हैं।

हैलो मैं नरेन्द्र मोदी बोल रहा हूं
फोन पर प्रधानमंत्री मोदी की आवाज सुन देवलचौड़ निवासी पूरन चंद्र शर्मा तो चौंक ही गए थे। प्रधानमंत्री मोदी ने फोन पर जैसे ही कहा कि हैलो शर्मा जी! नमस्कार, मैं नरेन्द्र मोदी बोल रहा हूं… तो पूरन चंद्र शर्मा को शुरू में यकीन नहीं हुआ। एक बार तो लगा कि अचानक यह कैसे, लेकिन आवाज तो मोदीजी की ही है। इतने में प्रधानमंत्री मोदी बोले, शर्मा जी आप कैसे हैं। आपका स्वास्थ्य ठीक है तो यह सुन 74 वर्षीय पूरन शर्मा बोले, ठीक है। बस, आपकी कृपा है। जागरण के अनुसार शुक्रवार की सुबह 10 बजे कुशलक्षेम जानने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने पूरन शर्मा से अल्मोड़ा के बारे में पूछा। उत्तराखंड में सब ठीक है। कोरोना वायरस के संदर्भ में शर्मा जी ने कहा कि यहां पर ज्यादा दिक्कत नहीं है। प्रधानमंत्री ने अल्मोड़ा की याद ताजा करते हुए कहा कि अल्मोड़ा की बाल मिठाई की बहुत याद आती है। मोदी के इस बात पर शर्मा ने कहा कि बहुत दिन हो गए हैं। आप आए नहीं। इसी के साथ शर्मा ने उन्हें अल्मोड़ा आने का आमंत्रण भी दिया। इस पर मोदी जी ने जरूर पूरन जी कह कर कोरोना से निपटने के बाद उत्तराखंड का दौरा करने पर अल्मोड़ा आने का भरोसा दिलाया।

फोटो सौजन्य

रायपुर की पहली महिला विधायक को फोन
प्रधानमंत्री मोदी ने रायपुर की पहली महिला विधायक रजनी ताई उपासने से भी फोन पर बात की। प्रधानमंत्री मोदी ने हालचाल पूछने के साथ ही उनका आशीर्वाद भी लिया। जागरण के अनुसार ताई के पुत्र और भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने ताई से कहा कि आपने पार्टी का बहुत काम किया और आपने जो जिम्मेदारी मुझे दी, उसका मैं पालन कर रहा हूं। उपासने ने कहा कि आज ताईजी और उपासने परिवार अभिभूत है कि इतनी व्यस्तता के बाद भी प्रधानमंत्री पार्टी के पुराने और वरिष्ठ जनों से सीधे बात कर उनका उत्साहव‌र्द्धन कर आशीर्वाद प्राप्त कर रहे हैं। प्रधानमंत्री से बातचीत के दौरान रजनी ताई ने पूछा कि रायपुर आना होगा क्या आपका, प्रधानमंत्री ने कहा कि अभी तो लॉकडाउन है, पर जरूर आउंगा। आप आर्शीवाद दें कि देश इस तकलीफ से बाहर निकले। जवाब में रजनी ताई ने कहा मेरा आर्शीवादा हमेशा आपके साथ है खूब आगे बढ़िए। 87 वर्षीय ताई 1977 में रायपुर विधानसभा सीट से विधायक चुनी गई थीं। रजनी ताई छत्तीसगढ़ की पहली महिला विधायक रहीं हैं।

फोटो सौजन्य

पूर्व राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी को फोन
प्रधानमंत्री मोदी ने पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी को भी फोन कर उनका हालचाल पूछा। प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे प्रयागराज के बारे में जानकारी ली। उन्होंने शासन-प्रशासन के प्रयासों की भी जानकारी ली। इस पर त्रिपाठी जी ने कहा कि भाजपा तो लगा ही है। उनके बेटे हाई कोर्ट के अपर महाधिवक्ता नीरज त्रिपाठी और बहू कविता रोज भोजन के 200 पैकेट जरूरतमंदों तक पहुंचाते हैं। जागरण के अनुसार उन्होंने कहा कि यह अच्छा है कि आप हालचाल ले लेते हैं, यही इंसान को बड़ा बनाता है। इस पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बस आप लोगों का स्नेह है। अंत में प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वस्थ रहिए और घर में सभी लोगों को मेरा प्रणाम बोलिएगा।

पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह गौर से जाना प्रयागराज का हाल
केशरीनाथ त्रिपाठी के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व शिक्षामंत्री डॉ. नरेंद्र सिंह गौर से बात की। जागरण के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी ने जरूरतमंद लोगों को दी जाने वाली मदद के बारे में पूछा और कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन करने के लिए उन्हें सम्मानित करने के बारे में भी जानकारी ली। डॉ. नरेंद्र सिंह गौर ने बताया कि अभी तक तो प्रयागराज में स्थिति खराब नहीं है। यहां पर पर भाजपा, संघ, सामाजिक कार्यकर्ता और राज्य सरकार की ओर से जरूरतमंद लोगों को भोजन और आवश्यक सामान उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें जनता की पूरी सहायता और सहयोग करने के लिए कहा। पूर्व मंत्री ने उन्हें भरोसा दिलाया कि प्रयागराज में किसी बात की कोई कमी नहीं रहेगी।

वयोवृद्ध नेता को फोन कर पूछा- कैसे हैं आप
प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा के वयोवृद्ध नेता मदनमोहन व्यास को फोन करके उनकी कुशलक्षेम पूछी। दोनों के बीच करीब डेढ़ मिनट हुई बातचीत हुई। जागरण के अनुसार पहले तो व्यास जी ने समझा कि कोई मजाक कर रहा है, लेकिन चंद सेकेंड में सामने से जाने-पहचाने लहजे में आई आवाज से पता चल गया कि प्रधानमंत्री मोदी ही बात कर रहे हैं। आरएसएस के विंग विद्या भारती के पूर्व प्रांतीय अध्यक्ष और लुधियाना नगर सुधार ट्रस्ट के दो बार चेयरमैन रह चुके मदनमोहन व्यास ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा कि पुराने साथियों से बात करने का मन था इस कारण उन्होंने उन्हें फोन किया। व्यास ने कहा कि बहुत परिश्रम कर रहे हैं आप। अपने स्वास्थ का ख्याल रखिए।

महेश शर्मा जी, मैं नरेंद्र मोदी बोल रहा हूं
प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को जमशेदपुर के भाजपा के वरिष्ठ नेता महेश चंद्र शर्मा से बात की। प्रधानमंत्री मोदी ने 77 वर्षीय महेश चंद्र शर्मा से उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा। कोरोना से निबटने के लिए चल रही गतिविधियों की जानकारी ली। जागरण के अनुसार जुगसलाई निवासी महेश शर्मा ने कहा कि लोग यह कह रहे हैं कि आपने जो कर दिखाया वह कोई और नहीं कर सकता। मैने भी भवन को क्वारंटाइन के लिए दे रखा है। आज भी उसमें 37 लोग रह रहे हैं। प्रधानमंत्री ने उनसे कहा कि जी ये बहुत अच्छा किया। आप जैसे लोगों के सहयोग से देश इस संकट से निकल जाएगा। जमशेदपुर में गुरुजी के नाम से लोकप्रिय महेशचंद्र शर्मा का मोदी जी से संघ के समय से परिचय है। उन्होंने कहा कि किसी प्रधानमंत्री का छोटे कार्यकर्ता को फोन करना बहुत बड़ी बात है। मुझे पहले तो आश्चर्य हुआ, फिर बहुत प्रसन्नता भी हुई। मैं वैसे तो भाजपा और संघ के लगभग सभी बड़े नेताओं से मिला हूं, लेकिन मोदी जी की बात ही अलग है। छोटे-छोटे कार्यकर्ताओं को इस तरह कौन याद करता है।

पानीपत में फोन करके पूछा, हरियाणा का क्‍या हाल है
प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार सुबह नौ बजे के करीब भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता और हरियाणा भाजपा उपाध्यक्ष नीति सेन भाटिया को फोन किया।प्रधानमंत्री मोदी और भाटिया जी के बीच करीब तीन मिनट तक बातचीत हुई। इस दौरान प्रधानमंत्री ने पारिवार के साथ प्रदेश की स्‍वास्‍थ्‍य, कानून सेवाओं और जनता के बारे में जानकारी ली। जागरण के अनुसार नीति सेन भाटिया प्रधानमंत्री मोदी के साथ भारतीय जन संघ के सक्रिय सदस्‍य रहे हैं।

मैं नरेंद्र मोदी बोल रहा हूं
प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार सुबह नौ बजे जम्मू-कश्मीर के भाजपा नेता और पहाड़ी विकास, सलाहकार बोर्ड के पूर्व वाइस चेयरमैन कुलदीप राज गुप्ता से फोन पर बात की। अमर उजाला के अनुसार तीन मिनट तक हुई बातचीत में उन्होंने कुलदीप राज गुप्ता से कुशलक्षेम पूछी। प्रधानमंत्री मोदी जम्मू-कश्मीर में कोरोना की स्थिति पर बात करने के साथ ही उन्हें अपनी सेहत का ख्याल रखने की भी सलाह दी। प्रधानमंत्री ने इस उम्र में भी जन कल्याण के लिए उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की। गुप्ता ने बताया कि सुबह प्रधानमंत्री के फोन आने पर सहसा विश्वास नहीं हुआ, लेकिन उन्होंने पहले भी उनके साथ काम किया है। पहाड़ी भाषी लोगों को आरक्षण के मुद्दे पर वह कई बार उनसे दिल्ली भी जाकर मिले हैं। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री की पहल से बुजुर्गों को संबल मिलेगा।

दिल्ली के दिग्गज BJP नेताओं से फोन कर पूछा हालचाल
कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली के बीजेपी नेताओं से भी बात की। न्यूज 18 के अनुसार उन्होंने बीजेपी नेता विजय कुमार मल्होत्रा को फोन किया। मल्होत्रा ने कहा कि बहुत बड़ी बात है कि प्रधानमंत्री ने वरिष्ठ नेताओं से बात करने के लिए अपने व्यस्त कार्यक्रम में से समय निकाला। विजय कुमार मल्होत्रा ने कहा, ‘मुझे मंगलवार सुबह प्रधानमंत्री की ओर से फोन आया। यह अभूतपूर्व था और मैं हैरान था।’ लोकसभा में पार्टी के पूर्व मुख्य सचेतक रहे मल्होत्रा ने कहा, ‘प्रधानमंत्री के अत्यंत व्यस्त कार्यक्रम को देखते हुए और भारत में कोरोना वायरस को रोकने में उनकी भूमिका के कारण बन गई उनकी विराट छवि पर विचार करते हुए उनकी यह भाव अभिव्यक्ति बहुत मायने रखती है।’

नंद किशोर गर्ग से की बात
प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली भाजपा के एक और दिग्गज नेता नंद किशोर गर्ग को भी फोन किया। दिल्ली के पूर्व विधायक गर्ग ने कहा, ‘मोदीजी के साथ मेरी पुरानी मित्रता है, फिर भी मंगलवार को उनका फोन आना बहुत अचरज की बात थी। उन्होंने मेरे परिवार के बारे में, दिल्ली के बारे में बात की और मेरा हालचाल पूछा। इन दिनों वह कोरोना वायरस महामारी से निपटने में व्यस्त हैं और फिर भी हमारे बारे में सोचना छोटी बात नहीं है।’

ओपी बब्बर से भी की बात
तिलक नगर से तीन बार विधायक रह चुके ओपी बब्बर को भी गुरुवार सुबह प्रधानमंत्री मोदी ने फोन किया। न्यूज 18 के अनुसार बब्बर ने एक वीडियो संदेश में कहा, ‘आज मैं बहुत खुश हूं और आप यह देख सकते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह उन लोगों से बातचीत कर रहे हैं जिनसे उन्होंने सीखा है। इस चीज ने मुझे अभिभूत कर दिया।’

मदन लाल खुराना के बेटे ने ट्वीट किया वीडियो
प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मदन लाल खुराना की पत्नी से भी फोन पर बात की और उनका कुशलक्षेम पूछा। खुराना के बेटे और दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता हरीश खुराना ने प्रधानमंत्री के फोन पर खुशी जता रहीं अपनी मां का एक वीडियो ट्वीट किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने 106 साल के बुजुर्ग नेता को फोन कर पूछा हालचाल
प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार, 22 अप्रैल को कुशीनगर के 106 साल के बुजुर्ग श्रीनारायण उर्फ भुलई भाई को फोन कर उनका हालचाल जाना। भाजपा नेता व जनसंघ के टिकट पर वर्ष 1977 में नौरंगिया से विधायक रहे भुलई भाई से बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपको देखे बहुत दिन हो गए थे, सोचा इस संकट की घड़ी में आपका हालचाल जानकर आशीर्वाद ले लूं। इसके साथ ही उन्होंने उनके पूरे परिवार को प्रणाम कहा। अमर उजाला के अनुसार प्रधानमंत्री का फोन आने से उत्साहित पूर्व विधायक ने बताया कि अब उनकी उम्र 106 साल की है। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को स्वस्थ रहने तक देश का नेतृत्व करने का आशीर्वाद दिया।

99 वर्षीय पूर्व विधायक रत्नाबापा को किया फोन
दो दिन पहले ही प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना से लड़ाई में अपनी पूरी बचत दान करने वाले गुजरात के पूर्व विधायक रत्नाभाई मंजीभाई थुम्मर उर्फ रत्नाबापा से फोन पर बात की। प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी बचत राशि में से 51,000 रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में दान करने के लिए 99 वर्षीय रत्नाबापा की सराहना की। उनकी बातचीत करीब तीन मिनट तक चली। अपनी बातचीत में प्रधानमंत्री मोदी ने जिक्र किया कि वह एक बार गुजरात में जूनागढ़ जिले के बिलखा शहर में थुम्मर के घर गए थे। जी न्यूज के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व विधायक से पूछा कि आप हमें याद करते हैं? तो रत्नाबापा ने कहा कि हां हम याद करते हैं। उन्होंने रत्नाबापा से बातचीत के दौरान उनकी तबीयत के बारे में भी पूछा। संजीवनी टुडे के अनुसार रत्नाबापा 1975 से 1980 के दौरान मालियाहाटी-मेंदर्डा से विधायक रह चुके हैं। बेहद साधारण जीवन जीने वाले रत्नाबापा ने बतौर विधायक अपना कभी वेतन भी नहीं लिया और न ही पेंशन ली।

Leave a Reply