Home समाचार प्रधानमंत्री मोदी की सभी राजनीतिक दलों के प्रमुखों के साथ बैठक

प्रधानमंत्री मोदी की सभी राजनीतिक दलों के प्रमुखों के साथ बैठक

154
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को नई दिल्ली में एक राष्ट्र-एक चुनाव के मुद्दे पर सभी राजनीतिक दलों के प्रमुखों के साथ बैठक की। देश में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराने के मामले पर तमाम दलों के नेताओं ने गंभीरता से चर्चा की। बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने के कई फायदे हैं। चुनाव एक साथ होंगे तो इससे पैसे और समय की बचत होगी। बार-बार चुनाव होने से प्रशासनिक काम पर भी असर पड़ता है। सभी चुनाव एक साथ होने पर पार्टियां विकास कार्यों पर ज्यादा समय दे पाएंगी। ज्यादातर दल इसके पक्ष में थे। वहीं कुछ सवाल को देखते हुए एक देश-एक चुनाव के विभिन्न पहलुओं के अध्ययन के लिए एक समिति गठित करने का फैसला किया गया। यह समिति अपनी रिपोर्ट निर्धारित समय-सीमा में सौंपेगी।

इस सर्वदलीय बैठक में एक राष्ट्र-एक चुनाव के अलावा संसदीय कार्यवाही के संचालन में सुधार, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती, आजादी की 75वीं सालगिरह पर न्यू इंडिया के निर्माण की रुपरेखा और देश के आकांक्षी जिलों के विकास जैसे मुद्दों पर भी चर्चा हुई। बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गांधी जी की जयंती की 150 वीं वर्षगांठ सिर्फ एक इवेंट नहीं है बल्कि उनके विचार आज भी प्रासंगिक है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ये सभी मुद्दे सरकार के नहीं बल्कि देश के एजेंडे है। उन्होंने कहा कि सरकार सभी राजनैतिक दलों को विश्वास में लेकर आगे बढ़ना चाहती हैं।

बैठक में भाजपा की ओर से अमित शाह, जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह, प्रहलाद जोशी मौजूद रहे। इसमें जेडीयू से नीतीश कुमार, बीजेडी से नवीन पटनायक, टीआरएस से केटी रामाराव, अकाली दल से सुखबीर बादल, एनसी से फारूक अब्दुल्ला, सीपीएम से सीताराम येचुरी, सीपीआई से सुधाकर रेड्डी, एनसीपी से शरद पवार, एलजेपी से राम विलास पासवान और वाईएसआर कांग्रेस से जगन मोहन रेड्डी शामिल हुए।

Leave a Reply