Home समाचार देखिए देश के सबसे बड़े बहुरूपिया के जनता, जाति, धर्म, जिले और...

देखिए देश के सबसे बड़े बहुरूपिया के जनता, जाति, धर्म, जिले और राज्य के हिसाब से बदलते रूप

358
SHARE

कांग्रेस पार्टी और उसके नेताओं के सितारे गर्दिश में हैं। कांग्रेस के नेताओं को समझ में नहीं आ रहा है कि पार्टी का फिर से उत्थान कैसे किया जाए। उनकी सबसे बड़ी दुविधा यह कि वे पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को किस रूप में जनता के सामने पेश करे। कभी वे मंदिर जाते हैं, कभी खुद को जनेऊधारी ब्राह्मण बताते हैं, तो कभी लिंगायत बन जाते हैं। उसके बाद कभी ईसाई तो कभी मुस्लिम बन जाते हैं। कभी हिन्दू और हिन्दुत्व में फर्क बताने लगते हैं तो कभी कहते हैं उनका हिन्दुत्व में विश्वास नहीं है। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान भी जनता, जाति, धर्म, जिले और राज्य के हिसाब से इनका रूप बदलता रहता है। इससे पार्टी के साथ-साथ जनत भी दुविधा में है और राहुल को गंभीरता से नहीं ले रही है।

मध्य प्रदेश में राहुल बन गए हिन्दू संत 

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा इस समय मध्य प्रदेश से होकर गुजर रही है। देश के हृदय स्थल और हिन्दी भाषी क्षेत्र में पहुंचते ही राहुल गांधी गांधी की एक तस्वीर सामने आई, जिसमें वो हिन्दू धर्म के सबसे बड़े अनुयायी और संत के रूप में नजर आ रहे हैं। राहुल गांधी का यह फोटो खंडवा जिले के ओंकारेश्वर में ब्रह्मपुरी घाट का है। जहां वो हाथों में दीपक लेकर नर्मदा मां की आरती कर रहे हैं। उनकी बढ़ी हुई दाड़ी, सिर पर मालवा का साफा और बदन पर ओम लिखी हुई चुनरी ओढ़ रखी थी। हालांकि उनके हाथ में स्मार्टवॉच भी थी। बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने राहुल की तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट किया कि एक कैथोलिक मां और एक पारसी पिता के बेटे राहुल गांधी को हिंदी हार्टलैंड में इस फैंसी ड्रेस ड्रामा को बंद करना चाहिए। 

महाराष्ट्र में भगवा टोपी पहने नजर आए

भगवा आतंकवाद की थ्योरी देने वाली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष जब महाराष्ट्र पहुंचे उन पर भगवा रंग चढ़ गया। कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भगवा टोपी पहने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तस्वीर साझा कर लिखा गया कि, ‘रंग केसरी वीरों का… देश जोड़ेने निकले रणधीरों का।’ इस तस्वीर पर लोगों ने जमकर टिप्पणी की। कुछ सोशल मीडिया यूजर्स उन पर तंज कसते हुए रिएक्शन दिया तो वहीं कुछ लोगों ने कहा कि आखिर उन्हें भगवा के शरण में आना ही पड़ा।

भारत जोड़ो यात्रा जब केरल पहुंची तो राहुल गांधी मुस्लिमों को खुश करने के लिए हिजाब पहने एक छोटी बच्ची के साथ नजर आए। राहुल गांधी की तस्वीर ने कांग्रेस की ‘तुष्टिकरण नीति’ को एक बार फिर सामने ला दिया। ऐसे समय में जब मुस्लिम राष्ट्र ईरान में महिलाएं अपना बाल काट रही हैं और हिजाब जला रही हैं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी धार्मिक कट्टरपंथियों का समर्थन कर बच्चियों पर हिजाब पहनने का दबाव बना रहे थे। इतना ही नहीं हिजाब मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान हिजाब वाली बच्ची के साथ तस्वीर शेयर कर कांग्रेस ने भारत में हिजाब का समर्थन किया। 

केरल में मछुआरे बन नाव खेते नजर आए

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस सांसद राहुल गांधी केरल के चेरिया कालावुर में स्थानीय नाविकों के साथ नाव चलाते नजर आए। ये बोट रेस अलाप्पुझा में हुई है, जिसे ‘ईस्ट के वेनिस’ के रूप में जाना जाता है। यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनीवास बीवी ने वीडियो शेयर करते हुए कहा कि राहुल गांधी ने बोट रेस में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा, ”लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।”

तमिलनाडु में हिन्दू विरोधी पादरी से मिले 

तमिलनाडु में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी कन्याकुमारी जिले में एक कैथलोलिक चर्च के पादरी जॉर्ज पोन्नैया से मुट्टीडिचन चर्च में मुलाकात की थी। इस दौरान उन्होंने पोन्नैया से सवाल किया कि यीशु मसीह भगवान का रूप है ? क्या सही है ? उनके इस सवाल पर पादरी ने पोन्नैया ने कहा कि केवल जीसस क्राइस्ट यानी यीशु मसीह ही एकमात्र वास्तविक भगवान हैं, कोई शक्ति देवी या देवता भगवान नहीं हैं। पोन्नैया हिन्दू देवी-देवताओं को असली गॉड मानने से इनकार करते हैं और राहुल गांधी उसे चुपचाप सुनते हैं।

फाइव स्टार सुविधा वाले कंटेनर में रात्रि विश्राम

कांग्रेस की 3,570 किलोमीटर और 150 दिन लंबी पदयात्रा सात सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी, जो जम्मू-कश्मीर में सम्पन्न होगी। यह यात्रा देश भर के 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेश को कवर करेगी। रात्रि विश्राम के लिए एक कंटेनर का इंतजाम किया गया है जिसमें बेड लगा हुआ है। पार्टी का ये भी कहना है कि अगले 150 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा में राहुल गांधी कंटेनर में ही सोएंगे। लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को देखकर आप दंग रह जाएंगे कि ये कंटेनर किसी फाइव स्टार सुविधा वाले किसी होटल से कम नहीं हैं। इस कंटेनर के अंदर सोने के लिए शानदार बेड के साथ टॉयलेट, गीजर और एसी भी लगाए गए हैं। कंटेनर में अंदर नेताओं की सुख-सुविधाओं का पूरा ख्याल रखा गया है। आपको हैरानी होगी कि इस तरह के एक-दो नहीं करीब 60 कंटेनर तैयार किए गए हैं। 

Leave a Reply