Home समाचार इंदौर में कांग्रेस विधायक के बेटे को बचाने रेप पीड़िता को आया...

इंदौर में कांग्रेस विधायक के बेटे को बचाने रेप पीड़िता को आया कॉल, कहा- राहुल गांधी ने भेजा है, मामला सुलझाना है

197
SHARE

कांग्रेस पार्टी में महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं, इस समय इंदौर की एक रेप पीड़िता से बेहतर कोई नहीं जानता। युवा कांग्रेस की महिला पदाधिकारी के रूप में जुड़ी रेप पीड़िता पर अब समझौता करने का दबाव बनाया जा रहा है। इसका खुलासा एक वायरल ऑडियो से हुआ है, जिसमें पीड़िता से बात करने वाले एक युवक ने खुद को राहुल गांधी के ऑफिस से जुड़ा बताया। उसका दावा है कि उसे इस मामले को सुलझाने के लिए दिल्ली से भेजा गया है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता ने कॉल करने वाले युवक से पूछा कि क्या आपको कमलनाथ जी ने भेजा है, तो युवक ने जवाब दिया कि कमलनाथ जी से ऊपर भी कई लोग हैं। मुझे इस मामले को सुलझाने के लिए भेजा गया है। आपको राजनीति करना है तो आप मुझसे आकर मिल लीजिए। मुझे राहुल गांधी के ऑफिस से मैसेज आया था कि कोई इश्यू क्रिएट हुआ है। बड़ा मैटर है। विधायक के बेटे ने आपके साथ कुछ किया है। युवक ने कहा कि उसे पीवी राजू ने भेजा है जो राहुल गांधी के ऑफिस में हैं। उनसे मेरी चर्चा हुई थी कि राहुल गांधी की इच्छा है। 

वायरल ऑडियो में युवक और पीड़िता के बीच हुई बातचीत……

युवक – मैं इंदौर आ गया हूं, आपकी इच्छा हो तो आकर मिल लीजिए।
पीड़िता – क्या बात करूँ मैं आपसे, आप बताओ न।
युवक – देखो मैडम, आपके लिए ही स्पेशल आया हूं, मुझे कोई काम नहीं था, इंदौर में। आपकी इच्छा हो तो मिल लो, नहीं मिलना तो मना कर दो। मैं आगे बोल दूंगा कि आपने मिलने से मना कर दिया।
पीड़िता – नहीं, मैं तो कोई समझौता चाहती नहीं हूं, मैं लड़ना चाहती हूं।
युवक – समझौता तो करना ही नहीं है अपने को, मैं आपके फायदे की बात बता रहा हूं मैम।
पीड़िता – आपने बोला तो सही कि कमलनाथ जी चाहते हैं।
युवक – अरे मैडम सुनो, कमलनाथ जी के चाहने से कुछ नहीं होता। दुनिया उनके हिसाब से नहीं चलती है। कमलनाथ जी के ऊपर भी कई लोग होते हैं। मैं दिल्ली से आया हूं मैम।
पीड़िता – आप सच्चाई बताओ, किसने बोला फिर मैं आपसे मिलती हूं।
युवक – मेरे को राहुल गांधी जी के ऑफिस से मैसेज आया था कि कोई इश्यू क्रिएट हुआ है। बड़ा मैटर है। विधायक के बेटे ने आपके साथ कुछ किया है। कुल मिलाकर जाकर देखो सच्चाई क्या है झूठ क्या है।
पीड़िता – दिल्ली से भी किसने भेजा है, राहुल जी ने या किसने? कुछ तो बताओ, मेरा डर खत्म हो जाएगा, तब मिलूंगी।
युवक – मुझे पीवी राजू ने भेजा है जो राहुल गांधी के ऑफिस में हैं। उनसे मेरी चर्चा हुई थी कि राहुल गांधी की इच्छा है। आपको ग्रोथ चाहिए, राजनीति करनी है ना?
पीड़िता – अरे राजनीति करनी है तो अपनी इज्जत दांव पर लगाकर थोड़ी राजनीति करनी है।
युवक – मैं आपको आगे बढ़ा सकता हूं। मुझे आपसे सवाल नहीं करना है। मैं सच्चाई जानने आया हूं कि प्रॉब्लम क्या है। विधायक जी का लड़का गलत है तो सजा मिलनी चाहिए।

दरअसल तीन माह पूर्व मध्य प्रदेश के इंदौर में युवा कांग्रेस की एक पदाधिकारी ने अपनी ही पार्टी के विधायक मुरली मोरवाल के बेटे करण मोरवाल पर रेप का मामला दर्ज कराया था। मामले में 12 जुलाई को जिला कोर्ट ने अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। रेप का आरोप लगाने वाली कांग्रेस नेता ने कहा कि पुलिस एफआईआर दर्ज होने के 100 दिन बाद भी आरोपी को पकड़ नहीं पाई है। इसके बाद पुलिस ने आरोपी करण मोरवाल पर 5 हजार का इनाम घोषित किया था ।

दुष्कर्म पीड़िता ने पुलिस को बताया था कि पिछले साल दिसंबर में वह करण के संपर्क में आई थी। इसी दौरान दोनों की दोस्ती हुई। धीरे-धीरे वॉट्सऐप और मोबाइल पर बातें होने लगीं। कई बार करण मोरवाल उससे मिलने इंदौर भी आया। इसके बाद इंदौर बायपास स्थित होटल में उसे प्रपोज किया और शादी करने का झांसा देकर उसे नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया था। इसके बाद उसके साथ करण ने कई बार दुष्कर्म किया। साथ ही किसी को नहीं बताने और जान से मारने की धमकी दी। 

Leave a Reply