Home समाचार गैर-जिम्मेदार सवाल कर घिरे राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्रियों ने किया पलटवार, पूछा...

गैर-जिम्मेदार सवाल कर घिरे राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्रियों ने किया पलटवार, पूछा – क्या सेना पर भरोसा नहीं है ?

636
SHARE

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी अपने बयानों के लिए हमेशा सुर्खियों में रहते हैं। राहुल हमेशा कुछ न कुछ ऐसे बयान देते रहते हैं, जिससे उनकी राजनीतिक समझ पर सवाल उठने लगते हैं। फिर उन्होंने अज्ञानता का परिचय देते हुए लद्दाख में चीन के साथ जारी टकराव पर बयान दिया है। केंद्रीय मंत्रियों ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए सवाल पूछा कि क्या उन्हें देश की सेना पर भरोसा नहीं है ? 

राहुल गांधी पर भारी पड़ा उनका शायराना अंदाज

राहुल गांधी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बयान पर सवाल उठाया था। शाह ने कहा था कि पूरी दुनिया मानती है कि अमेरिका और इजरायल के बाद भारत ही ऐसा देश है जो अपनी सीमा की सुरक्षा को लेकर सक्षम है। उन्होंने कहा था कि भारत की रक्षा नीति को वैश्विक स्वीकार्यता मिली है। इस पर राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में ट्वीट किया, ‘सब को मालूम है ‘सीमा’ की हकीकत लेकिन, दिल के खुश रखने को, ‘शाह-यद’ ये ख्याल अच्छा है।’

राजनाथ सिंह का नहले पर दहला

राहुल गांधी के इस ट्वीट पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी शायराना अंदाज में ही कटाक्ष किया। उन्होंने नहले पर दहला मारते हुए लिखा, ‘मिर्जा गालिब का ही शेर थोड़ा अलग अन्दाज़ में है। ‘हाथ’ में दर्द हो तो दवा कीजै, ‘हाथ’ ही जब दर्द हो तो क्या कीजै..

सवाल पूछकर फंसे राहुल गांधी

रक्षा मंत्री के इसी ट्वीट पर राहुल गांधी ने उनसे पूछ डाला कि अगर हाथ छाप (कांग्रेस पार्टी का चुनाव निशान) पर टिप्पणी हो गई हो तो रक्षा मंत्री लद्दाख की परिस्थिति बता दें। उन्होंने रक्षा मंत्री से यह पूछ डाला कि क्या लद्दाख में चीन ने भारत की जमीन हड़प ली है?

राजनाथ सिंह ने कहा- संसद में सब बताऊंगा

राहुल ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के बयान को लेकर तंज कसा तो राजनाथ सिंह ने उन्हें उन्हीं के अंदाज में जवाब तो दिया ही, बाद में उन्होंने यह भी कहा कि वो लद्दाख को लेकर पूरी जानकारी संसद में देंगे। उन्होंने ट्वीट किया, ‘कांग्रेस के कई नेता सवाल पूछ रहे हैं कि भारत चीन सीमा पर क्या हो रहा है? मैं देश की जनता को आश्वस्त करना चाहूँगा कि संसद में इस बारे में विस्तार से जानकारी दूँगा।’

रिजिजू ने पूछा- क्या सेना पर भरोसा नहीं?

राहुल गांधी के ट्वीट के जवाब में केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने कहा, ‘इस तरह के गैरजिम्मेदाराना बयान और व्यवहार तब सामने आते हैं जब कोई खुद की सेना पर भरोसा करना बंद कर देता है और राजनीतिक हित राष्ट्रीय हित से आगे निकल जाता है।’ उन्होंने राहुल को 1962 युद्ध और उसके परिणाम की याद दिला दी। उन्होंने लिखा, ‘उम्मीद करता हूं कि कोई (राहुल) 1962 की गलतियां महसूस करे जिसने NEFA (अरुणाचल प्रदेश) को दूसरे (चीन) के अनावश्यक और अनुचित दावेदारी में धकेल दिया था।’

राहुल के सवाल पर रविशंकर प्रसाद ने दी नसीहत 

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी को पता होना चाहिए कि चीन जैसे अंतरराष्ट्रीय मामलों पर ट्विटर पर सवाल नहीं पूछा जाना चाहिए। वे वही व्यक्ति हैं जिन्होंने बालाकोट हवाई हमले और 2016 के उरी हमले के बाद सबूत मांगे थे।

लद्दाख के BJP सांसद का राहुल को जवाब

लद्दाख से बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल ने राहुल को जवाब में ट्वीट किया। नामग्‍याल ने ट्वीट में लिखा कि ‘हां, चीन ने ये इलाके कब्‍जाए हैं।’ इसके बाद उन्‍होंने उन जगहों की लिस्‍ट दी जो उनके मुताबिक, कांग्रेस के शासनकाल में गंवा दी गईं। इसमें अक्‍साई चिन से लेकर पैंगनक और चबजी घाटी, दूम चेले जैसे इलाकों का उदाहरण दिया है।

Leave a Reply