Home कोरोना वायरस चीन मामले पर लद्दाख के बीजेपी सांसद ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी...

चीन मामले पर लद्दाख के बीजेपी सांसद ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को धो डाला

1528
SHARE

लद्दाख में चीनी सेना के घुसपैठ को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार से सवाल किया कि क्‍या चीन ने भारत की जमीन पर कब्‍जा कर लिया है? कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बेटे राहुल गांधी के सवाल पर लद्दाख से बीजेपी सांसद जामयांग सेरिंग नामग्याल ने करारा जवाब दिया है। जामयांग ने कहा, ‘हां चीन ने भारत की जमीन पर कब्जा किया है।’ अपने जवाब के साथ जामयांग सेरिंग नामग्याल ने ट्विटर पर उन जगहों की लिस्ट भी ट्वीट कीहै जिसे भारत ने सन 1962 से 2012 के दौरान कांग्रेस शासनकाल में गंवा दी थी। उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि राहुल गांधी और कांग्रेस तथ्यों पर आधारित मेरे जवाब से सहमत होंगे और उम्मीद है कि वो फिर गुमराह करने की कोशिश नहीं करेंगे।’

राहुल गांधी के सवाल पर अपने जवाब में नामग्याल ने कहा, “हां, चीन ने नीचे दी गई जानकारी के मुताबिक भारतीय क्षेत्र पर कब्जा किया है-

  • कांग्रेस के शासनकाल में सन 1962 में अक्साई चिन (37,244 वर्ग किलोमीटर)
  • यूपीए के शासनकाल में सन 2008 तक चुमूर इलाके में टिया पांगनाक और चाबजी घाटी (250 किलोमीटर लम्बाई)
  • यूपीए शासनकाल में सन 2008 में चीनी सेना ने डेमजोक में जोरावर किले को नष्ट कर दिया। सन 2012 में यहां पीएलए का ऑब्जर्विंग प्वाइंट बनाया गया। इसके साथ ही सीमेंट से 13 घर बनाकर चीनी कॉलोनी बनाई गई
  • यूपीए के शासनकाल में 2008-09 में भारत ने डेमजोक और डूंगती के बीच डूम चेली (द एंशिएट ट्रेड प्वाइंट) गंवा दिया

नामग्याल ने अपने ट्वीट में डेमजोक इलाके का एक नक्शा भी शेयर किया है, जिसमें सन 2012 तक की कांग्रेससरकार के दौरान भारतीय क्षेत्रों पर चीनी सेना के कब्जे को दिखाया गया है।

राहुल गांधी के साथ कई कांग्रेसी नेता पिछले कुछ दिनों से लद्दाख में चीनी और भारतीय सेना के बीच चल रहे विवाद को लेकर सरकार पर हमले बोल रहे हैं। इसपर नामग्याल ने ट्वीट करके राहुल गांधी पर पलटवार किया।

राहुल गांधी के ट्वीट के बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया-

इसे भी पढ़िए-

गैर-जिम्मेदार सवाल कर घिरे राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्रियों ने किया पलटवार, पूछा – क्या सेना पर भरोसा नहीं है ?

अक्साई चिन और पीओके गंवाने वाली कांग्रेस को समझना होगा कि यह राजनीति का मोदी युग है, नेहरू युग नहीं

Leave a Reply