Home नरेंद्र मोदी विशेष पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के शिलान्यास पर बोले पीएम मोदी, देश के पूर्वी हिस्से...

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के शिलान्यास पर बोले पीएम मोदी, देश के पूर्वी हिस्से को बनाएंगे विकास का नया कॉरिडोर

2219
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया। 342 किलोमीटर लंबे छह लेन के हाई-वे के लिए 23 हजार करोड़ की रकम खर्च की जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि अपने निर्माण के पूरा होने के बाद यह सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे होगा। इससे न केवल पूर्वी उत्तर प्रदेश बल्कि पूर्वी भारत में भी विकास का नया अध्याय आरंभ होगा। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘’देश के इस पूर्वी हिस्से को एक प्रकार से विकास का नया कॉरिडोर बनाने का काम किया जा रहा है।‘’

पीएम मोदी ने कहा कि बीते चार वर्षों में पूर्वांचल, बिहार, झारखंड पश्चिम बंगाल असम नॉर्थ ईस्ट इन क्षेत्रों में रोड रेल एयरपोर्ट से जुड़े अनेक प्रोजेक्ट स्वीकृत किए गए हैं। नये मेडिकल कॉलेज, एम्स, बंद पड़े खाद के कारखानों को खोलने का कार्य किया जा रहा है। इस क्षेत्र के संतुलित विकास को बढ़ावा दिया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा, ”हमारी सरकार देश की, देश के नागरिकों की आवश्यकताओं को समझते हुए योजनाएं बना रही है, फैसले ले रही है। ऐसे फैसले जिनका बरसों से इंतजार था, जिन्हें पहले की सरकारें सिर्फ फाइलों में घुमाती रहीं, उन फैसलों को लेने का काम भी एनडीए की ही सरकार कर रही है।” पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी बोलकर कर की और उपस्थित जनसभा का अभिवादन भी भोजपुरी में ही किया।

आपको बता दें कि इस एक्सप्रेस-वे से लखनऊ सहित बाराबंकी, अमेठी, सुल्तानपुर, फैजाबाद, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर को लोगों को फायदा पहुंचेगा।

प्रधानमंत्री ने यूपी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि भाजपा की सरकार ने विकास का उत्तम वातावरण बनाने का काम किया है। अपराध और भ्रष्टाचार पर नियंत्रण लगाकर, मुख्यमंत्री योगी जी ने प्रदेश में निवेश लाने और उद्यमियों के लिए व्यापार को सुलभ बनाने का काम किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे के बन जाने के बाद पूर्वी भारत में, पूर्वी उत्तर प्रदेश के एक बड़े क्षेत्र में विकास की एक नई गंगा बहेगी। उन्होंने कहा कि यूपी में जो इलाके पिछड़े हैं, उन्हें ज्यादा ऊर्जा लगाकर दूसरों के बराबर लाने की दिशा में काम किया जा रहा है। इसके लिए ही प्रदेश की जनता ने भाजपा सरकार को चुना है।

पीएम मोदी ने कहा कि पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे पूरे यूपी, विशेष तौर पर पूर्वी यूपी की आशाओं आकांक्षाओं को नई बुलंदिया देने वाला है। उन्होंने कहा कि लखनऊ से लेकर गाजीपुर के बीच जितने भी शहर कस्बे और गांव आएंगे वहां की तस्वीर बदलने जा रही है। इतना ही नहीं इस सड़क के बनने के बाद दिल्ली से गाजीपुर की दूरी भी कई घंटे कम हो जाएगी। इस रोड के बन जाने से पूर्वांचल के किसान भाईयों बहनों का अनाज, फल, दूध दिल्ली की मंडियों तक पहुंच पाएगा।

उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे के बन जाने से इंडस्ट्रियल कॉरिडोर विकसित होगा। इस पूरे एक्प्रेस-वे के इर्द गिर्द नए उद्योग विकसित होंगे। भविष्य में यहां शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीच्यूट, मेडिकल इंस्टीच्यूट जैसी तमाम संभावनाएं पैदा होंगी।

इसके अलावा पर्यटन क्षेत्र में भी वृद्धि होगी। पौराणिक स्थान जो भगवान राम और ऋषि मुनियों से जुड़े हुए हैं। उनका अब अधिक प्रचार-प्रसार हो पाएगा। इससे यहां के युवाओं को पारंपरिक कार्य के साथ रोजगार के नये अवसर उपलब्ध होंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में गोरखपुर को भी एक एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जाएगा। इसके अलावा बुंदेलखंड में भी ऐसा ही एक्सप्रेस-वे बनाने का यहां का भाजपा सरकार ने किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में कनेटक्टिविटी को नये स्तर पर ले जाया जाएगा। उन्होंने कहा,  ”21वीं सदी में विकास की बुनियादी शर्त होती है कनेक्टिविटी। जैसे-जैसे किसी इलाके में कनेक्टिविटी पैदा होती है वहां पर पूरा इको सिस्टम खुद विकसित होने लगता है।”  उन्होंने कहा कि कनेक्टिविटि से रोजगार के अवसर पैदा करना, कारोबार को आसान करना और शोषित, पीड़ित, पिछड़ों का जीवन स्तर ऊपर उठाने का निरंतर प्रयास चल रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि किसान हो या नौजवान, महिलाएं हो या पीड़ित, शोषित, वंचित वर्ग हो। सभी के उत्थान के लिए संकल्पबद्ध होकर प्रदेश की सरकार जनता सेवा में लगी हुई है।

पीएम मोदी ने कहा कि पहले के दस वर्षों में उत्तर प्रदेश की जिस तरह की पहचान बन गई थी वह पहचान अब बदलनी शुरू हो चुकी है। जनता का पैसा अब जनता की भलाई के लिए खर्च किया जा रहा है। एक एक पाई को ईमानदारी के साथ खर्च किया जा रहा है।

उन्होंने कहा, ”जब आपकी नीयत काम करने की हो और लक्ष्य विकास हो, तो काम की गति अपने आप बढ़ जाती है।”  पीएम मोदी ने कहा कि फाइलों को अब किसी सिफारिश के इंतजार में दबाया नहीं जाता, यही वजह है कि प्रदेश में बीते चार वर्षों में नेशनल हाई-वे का नेटवर्क लगभग दोगुना हो चुका है। आजादी के बाद जितनी सड़कें बनीं उतनी चार वर्षों में बनाई गई हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि योगी जी की सरकार बनने के बाद विकास की गति और बढ़ गई है। यूपी में सिर्फ हाई-वे ही नहीं बल्कि वाटर-वे और एयर-वे पर भी काम तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि  बनारस से हल्दिया तक चलने वाला जहाज इस क्षेत्र को और आगे ले जाएगा।

पीएम मोदी ने कहा कि एयर-वे पर भी विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘’मैंने हमेशा सपना देखा है कि हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज पर उड़ सके।  इसे ध्यान में रखते हुए सरकार उड़ान योजना को तेज गति से आगे बढ़ा रही है। इस योजना के माध्यम से छोटे शहरों को हवाई योजना के तहत जोड़ा जा रहा है। यूपी के 12 एयरपोर्ट इसी योजना के तहत विकसित किए जा रहे हैं। इसके अलावा कुशीनगर में और झेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट के काम को गति दी गई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी हो या योगी आप ही लोग हमारा परिवार हैं। आपके सपने यही हमारे सपने हैं। हम गरीब और मध्यम वर्ग की आशा-आकांक्षा से जुड़े हुए हैं। इसलिए एक घंटे के हवाई यात्रा के लिए ढाई हजार किराया तय किया गया। उन्होंने कहा कि इसी का परिणाम है कि पिछले साल जितने लोगों ने ट्रेन के एसी कोच में यात्रा की उससे अधिक लोगों ने हवाई जहाज में यात्रा की।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार गांवों को विकास का केंद्र बिंदु बनाने के लिए काम कर रही है। देश के हर बड़ी पंचायत को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ने का काम चल रहा है। अब तक एक लाख पंचायत को जोड़ा भी जा चुका है। लगभग तीन लाख कॉमन सर्विस सेंटर गांव-गरीब के जीवन को आसान कर रहा है। गावों में डेढ़ लाख से आरोग्य के लिए वेलनेस सेंटर भी बनाए जा रहे हैं। पिछले चार साल मे पीएम आवास योजना और पुरानी आवास योजनाओं को पूरा कर गांव के एक करोड़ से अधिक गरीबों के घरों का निर्माण किया गया है। प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत देश के हर गांव को जोड़ने का कार्य भी अब आखिरी चरण में चल रहा है।

प्रधानमंत्री ने समता और समानता की बातें कर जनता को बरगलाने और अपना एवं अपने परिवार का हित साधने वाले राजनीतिक दलों को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा, ”बाबासाहेब और राम मनोहर लोहिया जी के नाम पर इन दलों ने जनता और गरीब का भला नहीं किया बल्कि अपना और अपने परिवार के सदस्यों का भला किया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि परिवारवादी पार्टियां विकास की गति को रोकने पर तुले हुए हैं। उन्होंने कहा कि वे आपको सशक्त होने से रोकना चाहते हैं। उन्हें पता है कि गरीब, किसान दलित सशक्त हो गए तो उनकी दुकानें हमेशा के लिए बंद हो जाएंगी।

प्रधानमंत्री ने तीन तलाक के मुद्दे पर कांग्रेस के दोहरे रवैये की आलोचना की। उन्होंने कहा कि पार्टी को मुस्लिम महिलाओं की फिक्र नहीं है। उन्हें मुस्लिम बहनों की पीड़ा से कोई लेना देना नहीं है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि तीन तलाक बिल का विरोध कर ये दल सिर्फ मुस्लिम बहन बेटियों के जीवन को संकट में डालने का काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी कहती है कि वह मुस्लिमों की पार्टी है, लेकिन उसे यह साफ करना चाहिए कि क्या वह सिर्फ मुस्लिम पुरुषों की पार्टी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी में रहने वाले ये राजनीतिक दल देश को  18वीं सदी में ले जाने का काम कर रहे हैं। ये चाहते हैं कि तीन तलाक बने रहे।

प्रधानमंत्री ने कहा केंद्र सरकार ने कई फसलों के समर्थन मूल्य में 200 रुपये से 1800 रुपये तक की वृद्धि की है। कई में तो 200 प्रतिशत तक की वृद्धि की गई है।

उन्होंने कहा कि सरकार देश की आवश्यकताओं को देखते हुए कई फैसले ले रही है। ये सरकार पूरी तरह संवेदनशील है। जनहित और राष्ट्रहित को आगे रख कर फैसले होते हैं।

Leave a Reply