Home समाचार चीन से मतभेदों को झगड़ा नहीं बनने देंगे : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

चीन से मतभेदों को झगड़ा नहीं बनने देंगे : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

148
SHARE

भारत के दो दिवसीय दौरे पर तमिलनाडु पहुंचे चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच आज औपचारिक मुलाकात हुई। दोनों नेताओं के बीच कोव रिजॉर्ट में करीब एक घंटे तक शिखर वार्ता चली। इसके बाद दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत हुई। प्रतिनिधिमंडल की बैठक में भारत की ओर से पीएम मोदी के अलावा विदेश मंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी शामिल थे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत और चीन दोनों देश विश्व में शांति का उदाहरण हैं। चेन्नई विजन से दोनों देशों के बीच सहयोग का एक नया दौर शुरू होगा। हम अपने मतभेदों को झगड़े की वजह नहीं बनने देंगे। पीएम मोदी ने कहा कि वुहान स्पिरिट ने हमारे संबंधों को एक नया मोमेंटम और विश्वास दिया था। आज हमारे चेन्नई विजन से दोनों देशों के बीच सहयोग का एक नया दौर शुरू होगा।

उन्होंने कहा कि भारत और चीन के बीच सांस्कृतिक संबंध हैं। दोनों देशों के रिश्ते पहले से मजबूत हुए हैं। दोनों देशों के रिश्ते विश्व में शांति का उदाहरण हैं। दोनों देशों के बीच पनपे मतभेदों को हम झगड़ों में नहीं बदलने देंगे।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि मैं आप सभी का गर्मजोशी से स्वागत करता हूं। साल 2000 से दोनों देश आर्थिक शक्ति बने हुए हैं। हम एक दूसरे की समस्याओं के प्रति सोचेंगे। एक दूसरे के बारे में संवेदनशील बने रहेंगे। उन्होंने कहा कि चेन्नई समिट में अब तक हमारे बीच द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों पर महत्वपूर्ण विचार विनिमय हुआ है।

प्रधानमंत्री मोदी के बयान के बाद चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि  भारत में मिले सम्मान से अभिभूत हूं। मैंने और चीन से आए मेरे सहयोगियों ने इसे महसूस किया है। चेन्नई का ये दौरा मुझे और मेरे सहयोगियों को हमेशा याद रहेगा।

 

इसके पहले शुक्रवार को रात्रिभोज के दौरान दोनों नेताओं के बीच ढाई घंटे तक बातचीत हुई। उन्होंने द्विपक्षीय विकास साझेदारी को नई ऊर्जा देने और विवादास्पद मामलों पर मतभेदों से संपूर्ण संबंधों को अलग रखने का संकल्प लिया। इस तटीय शहर में समुद्र किनारे स्थित एक रंगबिरंगे तम्बू के नीचे भव्य ‘शोर मंदिर’ परिसर में बैठक तय समय से काफी लंबी चली। 

चीनी राष्ट्रपति भारत के दो दिवसीय दौरेे के बाद आज नेपाल के लिए रवाना हो जाएंगे। 

 

Leave a Reply