Home समाचार गणतंत्र दिवस 2021 : देश के 100 मेधावी छात्र-छात्राओं को पीएम मोदी...

गणतंत्र दिवस 2021 : देश के 100 मेधावी छात्र-छात्राओं को पीएम मोदी के साथ परेड देखने का मिलेगा मौका

423
SHARE

गणतंत्र दिवस का राष्ट्रीय पर्व 26 जनवरी, 2021 को पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। इस बार भी देश के मेधावी छात्र-छात्राओं को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ परेड देखने का मौका मिलेगा। प्रधानमंत्री मोदी ऐसे 100 प्रतिभाशाली छात्रों के साथ पीएम बॉक्स शेयर करेंगे। शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक छात्र-छात्राओं का चयन 50 स्कूलों से और 50 उच्च शिक्षा संस्थानों से किया गया है। इन छात्र-छात्राओं को कार्यक्रम के बाद शिक्षा मंत्री से बातचीत करने का मौका भी मिलेगा।

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्ववीट किया है, ‘मुझे यह जानकारी देते हुए खुशी हो रही है कि देश भर के मेधावी छात्रों को गणतंत्र दिवस 2021 की परेड पीएम बॉक्स से देखने का मौका दिया जाएगा। इन छात्र-छात्राओं के पास परेड के बाद शिक्षा मंत्री से मिलने और बातचीत करने का भी मौका होगा।’

इसके अलावा शिक्षा मंत्री निशंक ने एक और ट्वीट में जानकारी दी है कि 20 जनवरी से 30 जनवरी तक शिक्षा मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय द्वारा बच्चों के लिए क्विज कॉन्टेस्ट, निबंध प्रतियोगिता और कविता प्रतियोगिता भी आयोजित कर रहा है।

सीबीएसई बोर्ड से 12वीं कक्षा में जीव विज्ञान संवर्ग से देश भर में दूसरा स्थान हासिल करने वाली गोरखपुर की बेटी दिव्यांगी त्रिपाठी भी 100 विद्यार्थियों में शामिल है, जिसे प्रधानमंत्री बॉक्स में बैठकर गणतंत्र दिवस परेड देखने का निमंत्रण मिला है। दिव्यांगी के मुताबिक, वह प्रधानमंत्री मोदी के भाषण से प्रभावित हैं, उनसे मिलने का मौका मिला तो मन की बात जरूर कहेंगी।

गौरतलब है कि पिछले साल देशभर के सीबीएसई और विश्वविद्यालयों के कुल 105 टॉपरों को प्रधानमंत्री बॉक्स से 71वीं गणतंत्र दिवस परेड देखने का मौका मिला था। अधिकारी ने शुक्रवार को कहा था कि कोविड-19 सुरक्षा मानदंडों के कारण मोटर साइकिल सवारों की कलाबाजी राजपथ पर इस वर्ष गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल नहीं होगी। वहीं दर्शकों की संख्या भी कम रहेगी।

अधिकारी ने कहा था कि एक दूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम की वजह से 72 वें गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में वीरता पुरस्कार विजेताओं और बहादुरी पुरस्कार हासिल करने वाले बच्चों की परेड भी नहीं होगी। साथ ही, इस वर्ष आयोजन में कोई मुख्य अतिथि नहीं होगा। कोविड-19 संबंधी नियमों के चलते इस वर्ष, गणतंत्र दिवस के सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भाग लेने वालों की संख्या कम करके मात्र 401 कर दी गई है।

Leave a Reply