Home समाचार हमारा संगठन चुनाव जीतने की सिर्फ मशीन नहीं बल्कि सेवा का माध्यम...

हमारा संगठन चुनाव जीतने की सिर्फ मशीन नहीं बल्कि सेवा का माध्यम है: प्रधानमंत्री मोदी

522
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज भारतीय जनता पार्टी के ‘सेवा ही संगठन’ अभियान समीक्षा कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। उन्होंने कहा कि हमारे लिए हमारा संगठन चुनाव जीतने की सिर्फ मशीन नहीं है बल्कि हमारे लिए हमारे संगठन का मतलब है-सेवा। व्यक्ति के जीवन में, समाज के जीवन में, राष्ट्र के जीवन में बदलाव लाने के लिए हर दिन यज्ञ में आहुति देते रहना है। हमारे लिए हमारे संगठन का मतलब है- सबका संग, सबका साथ। हमारे लिए हमारे संगठन का मतलब है-सबका सुख, सबकी समृद्धि। हमारा संगठन समाज हित के लिए काम करने वाला है, संघर्ष करने वाला है, समाज और देश के लिए खप जाने वाला है। हमारे लिए हमेशा नेशन फर्स्ट रहा है।

उन्होंने कहा कि जनसंघ और बीजेपी के जन्म का उद्देश्य था कि हमारा  देश कैसे सुखी और समृद्ध बने। इसी मूल प्रेरणा के साथ हम लोग राजनीति में आए हैं। हम लोगों ने राजनीति में सत्ता को सेवा का माध्यम माना है। हमने कभी भी सत्ता को अपने लाभ का माध्यम नहीं बनाया। निःस्वार्थ सेवा ही हमारा संकल्प और संस्कार रहा है।

पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे समाज में दूसरों के लिए कुछ करने और सेवा भाव की बहुत बड़ी ताकत है। हमें समाज की इस ताकत को पूजने का कोई अवसर छोड़ना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता को अपने साथ- 7 ‘S’  यानि सेवाभाव, संतुलन, संयम, समन्वय, सकारात्मकता, सद्भावना और संवाद की शक्ति लेकर आगे बढ़ना चाहिए और इन दिनों कोरोना की लड़ाई में इसका भरपूर रूप से प्रभाव दिखाई दिया है।

उन्होंने कहा कि एक ऐसे समय में जब दुनिया में सब अपने आपको बचाने में लगे हों, आप सब ने अपनी चिंता छोड़कर खुद को गरीबों और जरूरतमंदों की सेवा में समर्पित कर दिया है। ये सेवा का बहुत बड़ा उदाहरण है। उन्होंने कहा कि जिसकी हम सेवा करते हैं, उसका सुख ही हमारा संतोष है। इसी भावना से हमारे कार्यकर्ताओं ने इतने कठिन समय में ‘सेवा ही संगठन’ का इतना बड़ा अभियान चलाया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा के सेवा कार्यक्रमों की इतनी बड़ी व्यापकता, इतनी बड़ी विविधता, इतने बड़े स्केल पर और इतने लंबे समय तक सेवा, शायद मानव इतिहास का सबसे बड़ा सेवा यज्ञ है। उन्होंने कहा कि कोरोना की लड़ाई में इस सेवा यज्ञ ने बहुत बड़ी ताकत दी है। एक राजनीतिक दल के रूप में आपने जो काम किया, उसके लिए आप बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में हमारा ये महायज्ञ रुकना नहीं जाहिए। महामारी के खिलाफ हमारी लड़ाई रुकनी नहीं चाहिए। कोरोना संकट में हमें खुद भी सावधानी रखनी है और दूसरों को भी जागरूक करते रहना है।

पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें गर्व है कि देश में 52 दलित, 43 आदिवासी और 113 से ज्यादा पिछड़े वर्ग के सांसद भाजपा के हैं। विधानसभाओं में करीब-करीब 150 से ज्यादा आदिवासी विधायक बीजेपी के हैं। यानि भारतीय जनता पार्टी हर वर्ग से जुड़ी है और समाज का हर वर्ग हमसे जुड़ा है। 

‘सेवा ही संगठन’ अभियान कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान भारतीय जनता पार्टी की राजस्थान, महाराष्ट्र, बिहार, दिल्ली, कर्नाटक, असम और उत्तर प्रदेश की पार्टी इकाईयों ने कोरोना संकट के समय जनहित में किए अपने कार्यों के बारे में जानकारी दी। इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे।

 

 

Leave a Reply