Home समाचार रिपब्लिक का प्रसारण रोकने की साजिश पर उद्धव सेना को अर्णब की...

रिपब्लिक का प्रसारण रोकने की साजिश पर उद्धव सेना को अर्णब की दो-टूक, धमकियों से हम झुकेंगे नहीं

579
SHARE

महाराष्ट्र में शिवसेना अब गुंडागर्दी पर उतर आई है। मुंबई में अभिनेत्री कंगना रनौत का ऑफिस तोड़ने के बाद शिवसेना ने राज्य में सभी केबल ऑपरेटरों को रिपब्लिक टीवी और रिपब्लिक भारत को बैन करने की धमकी दी। शिव केबल सेना ने सभी केबल ऑपरेटरों को भेजे पत्र में चैनल बंद करने या परिणाम भुगतने की धमकी दी है। पत्र पर संजय राउत के भाई और संगठन के प्रमुख सुनील राउत ने साइन किए हैं।

इसको लेकर रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी ने साफ कहा है कि वे धमकियों से ना तो डरेंगे ना झुकेंगे। अपने दर्शकों के नाम एक संदेश में अर्णब ने कहा है कि हमारी रिपोर्टिंग आपके जानने के अधिकार के लिए है और हमारा चैनल देश के लिए रिपोर्ट करता है। वे हमें आप तक पहुंचने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं। वे हमें ब्लॉक नहीं कर सकते, आप भारत के लोग उन्हें ऐसा करने ना दें। इस लड़ाई में हमारे साथ शामिल हो, इस लड़ाई में हमारा साथ दें, हमें आपके समर्थन की जरूरत है। अर्णब ने #CantBlockRepublic पिटीशन के जरिए जुड़ने की भी अपील की है। 

अर्णब गोस्वामी का संदेश-

“मैं जब ये रिकॉर्ड कर रहा हूं तो आधी रात से ज्यादा हो चुकी है और मेरे पास सबूत हैं कि महाराष्ट्र और मुंबई में रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क, रिपब्लिक टीवी और रिपब्लिक भारत को बैन करने के लिए केबल ऑपरेटरों को खुली धमकी दी गई है। हमारे नेटवर्क को आप और आपके घरों तक पहुंचने से रोकने के लिए शिवसेना की बैचेनी देखकर मैं हैरान हूं। मैं पहले से कहीं ज्यादा आश्वस्त हूं कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में रिपब्लिक भारत, रिपब्लिक टीवी और रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क जांच के सही रास्ते पर है।

दरअसल शिवसेना का एक ग्रुप है जिसका नाम है-शिव केबल सेना। इसके प्रमुख मार्गदर्शक हैं संजय राउत, आदेश उनके भाई सुनील राउत ने साइन किया है। वे आपको वो जांच नहीं देखने देना चाहते जो हमने की है, वे हमें ब्लॉक करना चाहते हैं, वे नहीं चाहते कि हम सुशांत सिंह राजपूत मामले में अपना काम जारी रखें, वे नहीं चाहते कि हम बॉलीवुड ड्रग माफिया पर रिपोर्ट करें, वे हमें ये सुनिश्चित नहीं करने देना चाहते कि भारत के लोगों के सामने सच बाहर आए।

दर्शकों आप रिपब्लिक हैं और हम आपकी आवाज। हमने हमेशा सच्चाई और न्याय के लिए लड़ाई की है। हम लगातार सुशांत सिंह राजपूत मामले में सवाल उठाते रहे हैं, हमने संभावित दिशा सालियान कनेक्शन की जांच की और हमने मुंबई पुलिस की अक्षमता के बारे में बताया। जब उन्होंने हमें चुप कराने की कोशिश की तो हमने विरोध किया। हमारे रिपोर्टर अनुज और क्रू को तीन दिनों तक जेल में रखने के बावजूद भी हमने अपने सूत्रों के बारे में बताने से मना कर दिया। और आज भी हम झुकने से मना करते हैं जब वे महाराष्ट्र में केबल ऑपरेटरों को हमारे चैनल को ब्लॉक करने के लिए धमकी दे रहे हैं।

ये लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर प्रहार है। शिवसेना चाहती है कि हम उनके सामने घुटने टेक दें, वे हमसे हमारे रिपोर्ट करने के मूल अधिकार को छीनना चाहती है। संविधान के अनुच्छेद 19 (ए) के तहत, उद्धव ठाकरे आपको ऐसा करने का कोई अधिकार नहीं है। हमारी कवरेज सत्ता के लिए सच बोलती है। भारत के लोग 1975 में इमरजेंसी के लिए खड़े नहीं हुए थे और वे उसके लिए भी खड़े नहीं होंगे जो अब सोनिया सेना कर रही है।

हमारी पत्रकारिता लोगों के लिए है, हमारी रिपोर्टिंग आपके जानने के अधिकार के लिए है और हमारा चैनल देश के लिए रिपोर्ट करता है। वे हमें आप तक पहुंचने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं। वे हमें ब्लॉक नहीं कर सकते, आप भारत के लोग उन्हें ऐसा करने ना दें। इस लड़ाई में हमारे साथ शामिल हो, इस लड़ाई में हमारा साथ दें, हमें आपके समर्थन की जरूरत है।”

देखिए वीडियो-

 

 

Leave a Reply