Home समाचार फिर खुली केजरीवाल के झूठ की पोल: शहीदों को सम्मान राशि देने...

फिर खुली केजरीवाल के झूठ की पोल: शहीदों को सम्मान राशि देने का छपवा दिया करोड़ों का विज्ञापन, पर नहीं मिली सम्मान राशि

659
SHARE

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी की पूरी राजनीति ही झूठे वादों और नौटंकी पर टिकी है। केजरीवाल के करीबी डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने 19 जून को ट्वीट कर लिखा कि कोरोना महामारी के दौरान ड्यूटी पर शहीद हुए पुलिस वालों के साथ सेना के 6 जवानों के परिवारों को एक-एक करोड़ रु. की सहायता सम्मान राशि देने का निर्णय लिया। इसमें से 3 भारतीय वायु सेना से, 2 दिल्ली पुलिस से और एक सिविल डिफ़ेंस से थे। इस ट्वीट को अरविंद केजरीवाल ने भी रिट्वीट किया था। इस दौरान क्रेडिट लेने के लिए शहीदों को सम्मान राशि देने का करोड़ों रुपये का विज्ञापन छपवा दिया गया, लेकिन आरटीआई में खुलासा हुआ कि 2015, 2018 और 2019 में शहीद होने के बाद भी आजतक किसी को कोई सम्मान राशि नहीं दी गई।

आरटीआई खुलासे के बाज सोशळ मीडिया पर युजर्स इसी पर चर्चा कर रहे हैं और केजरीवाल सरकार की थू-थू कर रहे हैं। आप भी देखिए-

इसे भी पढ़िए-

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की जाति-धर्म की राजनीति और यू-टर्न

फिर झूठ बोलते पकड़े गए मनीष सिसोदिया, सबूत सामने आने के बाद केजरीवाल सरकार की हो रही है किरकिरी

पकड़ा गया केजरीवाल और कांग्रेसी सरकार का झूठ, खुद रिपोर्ट में कह चुकी है ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई कोई मौत

किसानों को भड़काने के बाद केजरीवाल शादी में गए थे, लेकिन सुबह झूठ बोलने लगे कि पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया

Leave a Reply