Home समाचार दिल्ली हिंसा में योगेंद्र यादव की साजिश, कांग्रेस सांसद का दावा- किसानों...

दिल्ली हिंसा में योगेंद्र यादव की साजिश, कांग्रेस सांसद का दावा- किसानों और सरकार में बात बन सकती है,असली आग लगाने वाले योगेंद्र यादव ही हैं

1195
SHARE

गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में हिंसा को लेकर पंजाब के लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने बुधवार को संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव पर बड़ा आरोप लगाया। लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर बहस के दौरान बिट्टू ने किसान ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के पीछे योगेंद्र यादव की साजिश बताई। बिट्टू ने कहा कि अगर योगेंद्र यादव को पकड़ लिया जाए, तो किसानों और सरकार में आज ही बात बन सकती है, क्योंकि असली आग लगाने वाले वही हैं।

कांग्रेस सांसद बिट्टू ने योगेंद्र यादव पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अगर योगेंद्र यादव को हटा दिया जाए तो किसानों और सरकार में आज ही बात बन सकती है। बिट्टू ने कहा कि किसान आंदोलन में खालिस्तानी फंडिंग हो रही है। किसान अपने आंदोलन को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन योगेंद्र यादव अपना एजेंडा सीधा कर रहे हैं। 

गौरतलब है कि 26 जनवरी की हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने भी योगेंद्र यादव के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज किया है। इसमें साजिश रचने का भी केस दर्ज है। हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने जो एफआईआर की है उसमें आरोप है कि पुलिस की ओर से ट्रैक्टर रैली के लिए जो एनओसी जारी की थी उसका पालन नहीं किया गया। ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा के मामले में खुद पर लगे आरोपों से पल्ला झाड़ते हुए योगेंद्र यादव ने दीप सिद्दू पर हिंसा का ठीकरा फोड़ दिया था।  

योगेंद्र यादव पर आरोप लगाने वाले कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू कुछ दिन पहले किसान आंदोलन को अपना समर्थन देने सिंघु बॉर्डर पर पहुंचे थे, जहां उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा था। उन पर हमला किए जाने की बात भी सामने आई। इसके साथ ही बिट्टू को कथित रूप से अपमानित भी किया गया था। 

किसान आंदोलन में हमले को लेकर बिट्टू ने कहा था कि आप झंडे उठाकर खालिस्तान के नारे लगाओ, फिर भी हम भागने वाले नहीं है। पहले भी शहादत दी है। हम पर बड़ी प्लानिंग के तहत हमला किया गया है, मारने की प्लानिंग थी। हम लोगों पर कातिलाना हमला किया गया है। हमारी पगड़ी पर हमला किया गया। लाठी से हमला हुआ। हम जाने वाले नहीं है। कुछ लोग हैं, इनसे सरकार और एजेंसी निपट लेंगी।

Leave a Reply