Home समाचार भारत के खिलाफ जहर उगलने वाली इस महिला का असली आका कौन?

भारत के खिलाफ जहर उगलने वाली इस महिला का असली आका कौन?

916
SHARE

भारत को बदनाम करने के लिए देश के साथ-साथ विदेशी ताकतें भी लगातार कोशिश में जुटी हैं। तथाकथित सेक्युलर और खान गैंग में अब संयुक्त अरब अमीरात की महिला, प्रिंसेस हेंड अल कासिमी भी शामिल हो गई हैं। कासिमी लगातार भारत के खिलाफ जहर उगल रही हैं और ट्वीट व इंटरव्यू के जरिए भारत की धर्मनिरपेक्षता पर सवाल उठाकर बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं। कासिमी ये काम देश के “तथाकथित सेक्युलर पत्रकारों” के साथ मिलकर कर रही है। देश के तथाकथित सेक्युलर पत्रकार आरफा खानम शेरवानी व निधि राजदान समेत कई पत्रकारों को वो इंटरव्यू दे चुकी हैं। 

प्रिंसेस हेंड अल कासमी यूनाइटेड अरब अमीरात की रहने वाली हैं लेकिन भारत के खिलाफ लगातार ट्वीट कर जहर फैलाने की कोशिश में जुटी हैं। आइए, सबसे पहले आपको उनके ट्वीट्स दिखाते हैं जिसके जरिए वो भारत को बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं। 

पहला-

दूसरा- 

तीसरा 

चौथा

न्यूज 18 के साथ इंटरव्यू में प्रिंसेस हेंड अल कासिमी ने यहां तक कह डाला कि भारतीय लोगों को कैसा महसूस होगा जब मैं कहूं कि उन्हें यूएई में आने की इजाजत नहीं होगी। 

लेकिन सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर प्रिंसेस हेंड अल कासिमी के इस भारत विरोधी अभियानों के पीछे उनका आका कौन है? सोशल मीडिया में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और सैम पित्रोदा के साथ प्रिंसेस हेंड अल कासिमी की तस्वीर शेयर की जा रही है, जिसमें सैम पित्रोदा को एचआर मैनेजर और राहुल गांधी को अस्टिटेंट मैनेजर कहा जा रहा है। इस ट्वीट के साथ हेंड अल कासिमी की तस्वीर शेयर की जा रही हैं।

हालांकि कई ट्वीट्स के जरिए कासिमी महात्मा गांधी और भारत व यूएई के बेहतर संबंधों की प्रशंसा भी कर चुकी हैं। 

प्रिंसेस हेंड अल कासिमी कौन है?

गूगल से प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्रिंसेस हेंड अल कासिमी का संबंध Emirati Royal फैमिली से है और वो एक महिला उद्यमी हैं। उनका जन्म शारजाह में हुआ है और शाहजाह के अमेरिकन यूनिवर्सिटी से उन्होंने आर्किटेक्ट की पढ़ाई की हैं। 

Leave a Reply