Home समाचार अंग्रेज भूल गए थे कि ये नरेन्द्र मोदी का नया भारत है,...

अंग्रेज भूल गए थे कि ये नरेन्द्र मोदी का नया भारत है, ‘जैसे को तैसा’ मिला जवाब तो ब्रिटेन की निकली हेकड़ी, क्वारंटाइन की शर्त खत्म करने का किया ऐलान

541
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शासन में विश्व के रंगमंच पर एक नये भारत ने दस्तक दी है, जिसकी धमक हर जगह सुनाई दे रही है। प्रधानमंत्री मोदी के करिश्माई एवं दूरदर्शी नेतृत्व में आत्मविश्वास से परिपूर्ण, दृढ़ निश्चयी और मजबूत भारत का उदय हुआ है, जो देश के खिलाफ दुस्साहस करने वालों के घर में घुसकर मारता है और ‘जैसे को तैसा’ जवाब भी देता है। यह भारत का बदलता मिजाज और बढ़ती धमक का ही नतीजा है कि भारत की ओर से करारा जवाब मिलने के बाद ब्रिटेन ने क्वारंटाइन नियमों में बदलाव किया और भारतीय यात्रियों के लिए क्वारंटाइन की शर्त को खत्म करने का ऐलान किया।

गुरुवार (07 अक्टूबर, 2021) को भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त एलेक्स एलिस ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि ब्रिटेन जाने वाले भारतीय यात्रियों के लिए 11 अक्टूबर से कोविशील्ड या यूके द्वारा अनुमोदित किसी अन्य वैक्सीन लेने वालों को क्वारंटाइन में नहीं रहना होगा। इससे पहले ब्रिटिश सरकार ने भारतीय यात्रियों के लिए 10 दिनों का क्वारंटाइन अनिवार्य कर दिया था। ब्रिटेन का यह नया नियम 4 अक्टूबर से अमल में आ गया था।

मोदी सरकार के करारा जवाब से झुका ब्रिटेन

ब्रिटिश सरकार ने इस महीने की शुरुआत में भारतीय कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट को मान्यता देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद भारत की मोदी सरकार ने ‘जैसे को तैसा’ जवाब दिया। भारत ने भी ब्रिटेन से आने वाले लोगों के लिए 10 दिनों तक क्वारंटीन में रहना जरूरी कर दिया। भारत की ओर से जारी किए गए नए नियम 4 अक्टूबर से लागू हो गए। इसके तहत भारत पहुंचने वाले ब्रिटिश नागरिकों को 72 घंटे पहले ही आरटी-पीसीआर रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है। साथ ही भारत आने के बाद भी आठ दिनों के बाद टेस्टिंग करवाने का प्रावधान किया गया है। भले ही आने वाले यात्री को कोरोना वैक्सीन के दो टीके लग चुके हों, लेकिन उसे दस दिन तक अपने खर्चे पर आइसोलेशन में रहना होगा। इस तरह मोदी सरकार के कड़े तेवर के बाद ब्रिटेन को झुकना पड़ा है।

Leave a Reply