Home समाचार देश में कोरोना की भयावह स्थिति के लिए तबलीगी जमात जिम्मेदार

देश में कोरोना की भयावह स्थिति के लिए तबलीगी जमात जिम्मेदार

1351
SHARE

आज अगर देश में कोरोना की इतनी भयावह स्थिति बनी है तो इसके लिए सिर्फ और सिर्फ तबलीगी जमात जिम्मेदार है। यह न तो कोई अफवाह है न ही कोई कहानी बल्कि यह ठोस रूप से आंकड़े पर आधारित तथ्य है। देश के कई राज्यों में कोरोना संक्रमण पहुंचने का कारण ही तबलीगी जमात है। उदाहरण के लिए देश के पूर्वी राज्य अरुणाचल प्रदेश में तो सौ प्रतिशत कोरोना संक्रमण पहुंचाने के लिए तबलीगी जमात कसूरवार है।

कोरोना को लेकर सचेत थी सरकार   

देश के पूर्वी राज्य हो या फिर सुदूर दक्षिण राज्य 90 से 100 प्रतिशत कोरोना संक्रमण पहुंचाने के लिए तबलीगी जमात जिम्मेदार है। अगर तबलीगी जमात अपनी करतूत न दिखाई होती तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दूरदर्शिता के कारण भारत में दूसरी बार लॉकडाउन बढ़ाने तक की नौबत नहीं आई होती। कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए पीएम मोदी इतने चौकस थे कि दुनिया से दो कदम आगे ही सोच रहे थे और उस अनुरूप कदम भी उठा रहे थे। जब देश में कोरोना का कोई केस सामने नहीं आया था तभी से कोरोना संक्रमित देशों से आने वाले यात्रियों की भारत में स्क्रीनिंग शुरू हो गई थी।

तबलीगी की करतूत ने बढ़ाया मामला

इसी बीच दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज में दुनिया भर से जमा हुए तबलीगी जमात ने कोरोना का खेल कर दिया। उस घटना के बाद अभी तक के घटनाक्रम से तो यह स्पष्ट हो गया है कि जमातियों ने साजिश के तहत देश में कोरोना को फैलाया है। अब तो आंकड़े भी स्पष्ट संकेत देने लगे हैं कि तबलीगी जमात के लोगों ने जानबूझ कर इसे पूरे देश में फैलाया है।

कोरोना बढ़ाने में तबलीगियों का योगदान

अरुणाचल प्रदेश हो या अंडमान निकोबार, दिल्ली हो या तमिलनाडु या फिर आंध्र प्रदेश हो या उत्तर प्रदेश, इन सभी जगहों में 60 प्रतिशत से लेकर सौ प्रतिशत तक कोरोना संक्रमण बढ़ाने में तबलीगी का हाथ रहा है। तमिलनाडु में अभी कोरोना संक्रमितों की संख्या 1072 है, जिमसे 91 प्रतिशत लोगों में कोरोना फैलाने के तबलीगी जमात कसूरवार है। दिल्ली के 1551 एक्टिव मामले में करीब 69 प्रतिशत लोगों में तबलीगियों की करतूत के कारण कोरोना संक्रमण फैला है।  

जानिए कैसे तबलीगियों ने राज्यवार फैलाया संक्रमण 

राज्यवार आंकड़ों पर नजर डाले तो देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना से संक्रमित तबलीगी जमातियों की संख्या सबसे ज्यादा है। अमर उजाला की खबर के अनुसार दिल्ली में सोमवार को ही एक दिन में 356 नए मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं और इनमें से 325 तब्लीगी जमात के हैं। इन सभी जमामियों को मरकज से निकालने के बाद क्वारंटीन केंद्रों में रखा गया था। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक राजधानी में अब कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 1510 हो चुकी है। इनमें 1071 संक्रमित मरीज तब्लीगी जमात से जुड़े हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उत्तर प्रदेश में सोमवार को सर्वाधिक 151 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, इनमें से 84 तबलीगी जमात के हैं। वैसे यूपी में कुल कोरोना पीड़ितों की संख्या 651 और इनमें आधे से अधिक यानि 393 तबलीगी जमात के हैं। एक अन्य खबर के अनुसार इसी प्रकार तमिलनाडु में कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1173 हैं, इनमें 90 प्रतिशत से भी अधिक तबलीगी जमात से जुड़े हैं। महाराष्ट्र में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या करीब 2334 है और इनमें आधे से अधिक लोग तबलीगी जमात जुड़े हुए हैं। तेलंगाना मरीजों की संख्या 573 के पार हो चुकी है और यहां भी लगभग आधे तबलीगी जमात से जुड़े लोग हैं। मध्यप्रदेश में कोरोना पीड़ितों का आंकड़ा 600 के पार पहुंच गया है, यहां भी 250 से अधिक मरीज तबलीगी जमात के हैं। जम्मू कश्मी में भी अधिकतर मरीज तबलीगी जमात से हैं।

 

          

Leave a Reply