Home समाचार केरल से आ रहे कोरोना के सबसे ज्यादा मामलों पर प्रोपगेंडा पक्षकारों...

केरल से आ रहे कोरोना के सबसे ज्यादा मामलों पर प्रोपगेंडा पक्षकारों ने साधी चुप्पी, सोशल मीडिया पर रवीश कुमार की हो रही है किरकिरी

910
SHARE

देश में जहां कोरोना संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं, वहीं केरल में स्थिति संभल नहीं रही है। एक छोटा सा राज्य केरल कोरोना हब बन गया है। इसके लिए मुस्लिम तुष्टिकरण भी जिम्मेवार है। कोरोना मामले में आगे होने के बाद भी केरल की वामपंथी सरकार ने मुस्लिम तुष्टिकरण के लिए बकरीद पर प्रतिबंधों में छूट दे दी थी। इससे राज्य में एक बार फिर कोरोना विस्फोट हो गया है। केरल सरकार की लापरवाही के कारण यहां कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 43,509 नए मामले सामने आए हैं इसमें से सबसे अधिक 50 प्रतिशत से भी ज्यादा 22,056 नए मामले सिर्फ केरल से आए हैं। इन आंकड़ों से साफ है कि प्रोपगेंडा और लेफ्ट मीडिया के बल पर दुनिया भर में केरल मॉडल का बखान करने वाली केरल सरकार की पोल खुल गई है। केरल मॉडल की तारीफ करने वाले कांग्रेस और लेफ्ट के करीबी पक्षकारों ने चुप्पी साध ली है। केरल में कोरोना के मामलों पर ये पक्षकार कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर एनडीटीवी के रवीश कुमार की किरकिरी हो रही है। यूजर्स उनकी एकतरफा पक्षकारिता पर लताड़ लगा रहे हैं…

Leave a Reply