Home पोल खोल महबूबा ने फिर उगली देशद्रोह की आग, मोदी सरकार की तुलना ‘ईस्ट...

महबूबा ने फिर उगली देशद्रोह की आग, मोदी सरकार की तुलना ‘ईस्ट इंडिया कंपनी’ से की, ट्ववीटर पर लोगों का भड़का गुस्सा

607
SHARE

पीडीपी अध्यक्ष और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर देशद्रोही बोल बोले हैं। पार्टी के 22वें स्थापना दिवस के अवसर पर 28 जुलाई को श्रीनगर में पार्टी मुख्यालय पर अपने संबोधन में महबूबा मुफ्ती ने सारी हदें पार करते हुए केंद्र की लोकप्रिय मोदी सरकार की तुलना ईस्ट इंडिया कंपनी से कर दी। महबूबा ने जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को बहाल करने की मांग करते हुए कहा कि 5 अगस्त, 2019 को केंद्र सरकार ने जो भी अवैध तरीके से छीना था, वो उसे ब्याज के साथ लौटाना पड़ेगा। महबूबा ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत में एकमात्र मुस्लिम बहुल राज्य विभाजित कर दिया गया है और ये सब भारत और उसके संविधान के द्वारा नहीं, बल्कि एक पार्टी ने किया है।”

महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर संस्थानों को कमजोर करने का आरोप लगाते हुए उसे आधुनिक ईस्ट इंडिया कंपनी करार दिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह अंग्रेजों यानि ईस्ट इंडिया कंपनी ने भारत के ऊपर हुकूमत की। केंद्र की भाजपा सरकार भी उसी तर्ज पर शासन कर रही है। उन्हें मुल्क में रहने वाले हर शख्स पर शक है, चाहे वो कोई बड़ा नेता ही क्यों न हो। इजराइल से मशीनें लाकर हर एक की बातचीत पर नजर रखी जा रही। इससे साबित होता है कि ईस्ट इंडिया कंपनी और भाजपा सरकार में कोई फर्क नहीं है। ईस्ट इंडिया कंपनी भी हिंदुस्तान के लोगों को शक की नजर से देखती थी।

महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान के प्रति अपने प्रेम को दिखाते हुए पाकिस्तान से बातचीत करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे का हल निकालने और इस क्षेत्र में खून-खराबा रोकने के लिए भारत को पाकिस्तान से बात करनी चाहिए।

लेकिन महबूबा मुफ्ती की इस देशद्रोही बयानबाजी को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर अपना गुस्सा निकाला है।

Leave a Reply