Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 31 दिसंबर

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 31 दिसंबर

342
SHARE

31 दिसंबर 2014

सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई निर्भया के पैरेंट्स ने मुलाकात की।

31 दिसंबर 2015

भारत सरकार के सचिवों को संबोधित किया, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया, जनसभा में उद्बोधन।

31 दिसंबर 2016

नव वर्ष 2017 के मौके पर राष्ट्र के नाम संबोधन में देशवासियों को उद्बोधन दिया।

31 दिसंबर 2017

केरल के वरकाला में 85वें शिवगिरी तीर्थ समारोह का वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उद्बोधन।

31 दिसंबर 2018

लोकसभा में पारित होने के बाद तीन तलाक बिल राज्यसभा में पेश।

31 दिसंबर 2019

नागालैंड विधानसभा के अध्यक्ष विखो-ओ-यहोशु के निधन पर दुख जताया।

31 दिसंबर 2020

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्मय से गुजरात के राजकोट में एम्स का शिलान्यास किया।

 

Leave a Reply