Home समाचार G-20 समिट में पीएम मोदी का बेहद बिजी शेड्यूल, इंडोनेशिया के बाली...

G-20 समिट में पीएम मोदी का बेहद बिजी शेड्यूल, इंडोनेशिया के बाली में 45 घंटे, 10 बड़े नेताओं से मुलाकात, 20 कार्यक्रम

197
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी-20 शिखर सम्‍मेलन में शामिल होने के लिए आज यानि 14 नवंबर, 2022 को इंडोनेशिया के बाली जा रहे हैं। यह तीन दिवसीय यात्रा बेहद खास और व्‍यस्‍त रहने वाली है। प्रधानमंत्री मोदी बाली में करीब 45 घंटे तक रुकेंगे। इस दौरान 20 कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। 10 वैश्विक नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे और इसके इतर भी कुछ कार्यक्रमों में वह दिख सकते हैं। इस शिखर सम्मेलन में जहां वैश्विक चुनौतियों पर व्यापक विचार-विमर्श होने की उम्मीद है, वहीं प्रधानमंत्री मोदी वैश्विक नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता और प्रवासी भारतीयों को संबोधित करेंगे। शिखर सम्मेलन भारत के लिए खास माना जा रहा है। 

प्रधानमंत्री मोदी की कई नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठकें

प्रधानमंत्री मोदी इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो के न्यौते पर जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा ले रहे हैं। इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग भी हिस्सा लेंगे। इस दौरान रूस-यूक्रेन संघर्ष और इसके प्रभावों समेत वैश्विक चुनौतियों पर व्यापक विचार-विमर्श होने की उम्मीद है। विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने बताया कि शिखर सम्मेलन के इतर प्रधानमंत्री मोदी कई नेताओं के साथ अलग-अलग द्विपक्षीय बैठकें करेंगे। 

शिखर सम्मेलन में वैश्विक चुनौतियों को लेकर चर्चा

प्रधानमंत्री मोदी जी-20 शिखर सम्मेलन में वैश्विक अर्थव्यवस्था समेत प्रमुख मुद्दों पर व्यापक विचार-विमर्श करेंगे। इसमें ऊर्जा, पर्यावरण, कृषि, स्वास्थ्य और डिजिटल परिवर्तन से संबंधित मुद्दे प्रस्तावित हैं। इस शिखर सम्मेलन में वैश्विक चुनौतियों को लेकर चर्चा होगी, जिसमें महामारी के बाद आर्थिक सुधार, यूरोप में चल रहे संघर्ष और इसके प्रभाव, दुनिया के सभी देशों पर खाद्य सुरक्षा चुनौतियों, ऊर्जा संकट और मुद्रास्फीति जैसे मुद्दे शामिल होंगे। 

जी-20 शिखर सम्मेलन भारत के लिए बहुत अहम

विदेश सचिव ने कहा कि शिखर सम्मेलन भारत के लिए बहुत अहम है, क्योंकि यह एक दिसंबर से एक साल के लिए समूह की अध्यक्षता करेगा। क्वात्रा ने कहा, ‘‘अगले अध्यक्ष के रूप में भारत वैश्विक दक्षिण के हितों के मुद्दों को एक बड़ी आवाज प्रदान करने का प्रयास करेगा और संतुलित तरीके से जी-20 एजेंडा को आगे बढ़ाएगा।’’

प्रवासी भारतीयों को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी इंडोनेशिया के डायस्पोरा में भारतीय प्रवासियों से मुलाकात करेंगे और बातचीत भी करेंगे। यहां 15 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी के लिए स्वागत समारोह रखा गया है। इंडोनेशिया में भारतीय समुदाय के लोगों की अच्छी खासी संख्या है। प्रधानमंत्री मोदी 16 नवंबर को शिखर सम्मेलन के समापन के बाद बाली से रवाना होंगे। भारत की जी-20 की अध्यक्षता के दौरान इंडोनेशिया और ब्राजील शामिल होंगे। जी-20 में यह पहली बार होगा कि ट्रोइका (जी-20 की वर्तमान, पिछली और आगामी अध्यक्षता) में लगातार तीन विकासशील देश और उभरती अर्थव्यवस्थाएं शामिल होंगी।

इंडोनेशिया से जी-20 की अध्यक्षता स्वीकार करेगा भारत

गौरतलब है कि जी-20 शिखर सम्मेलन 15 और 16 नवंबर को आयोजित होगा। वार्षिक सभा के समापन समारोह में इंडोनेशिया जी-20 प्रेसीडेंसी को भारत को सौंपेगा। इंडोनेशिया जी-20 का वर्तमान अध्यक्ष है। भारत एक दिसंबर से औपचारिक रूप से जी-20 की अध्यक्षता संभालेगा। जी-20 या 20 देशों का समूह दुनिया की प्रमुख विकसित और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं का एक अंतर सरकारी मंच है। इसमें अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्किये, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीय संघ (ईयू) शामिल हैं। 

 

Leave a Reply