Home समाचार ऐसा प्रधानमंत्री कहीं देखा है, जो हार में भी साथ खड़ा होता...

ऐसा प्रधानमंत्री कहीं देखा है, जो हार में भी साथ खड़ा होता है- देखिए वीडियो

380
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ियों के साथ फोन पर बात की। प्रधानमंत्री मोदी जब बात कर रहे थे तो इस दौरान खिलाड़ियों के आंसू निकल पड़े। प्रधानमंत्री ने उनका हौसला बढ़ाते हुए कहा कि पदक नहीं आ सका, लेकिन आपका पसीना देश की करोड़ों बेटियों की प्रेरणा बन गया है। मैं टीम के सभी साथियों और कोच जोर्ड मरीन को बधाई देता दूं। कप्तान रानी रामपाल ने जवाब में कहा कि धन्यवाद सर, बहुत धन्यवाद सर। बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने नवनीत कौर को लगी चोट के बारे में भी जानकारी ली। खिलाड़ियों ने बताया कि नवनीत कौर को आंख पर चोट लगी है और 4 टांकें लगाने पड़े हैं। प्रधानमंत्री ने इस पर दुख जताते हुए पूछा आंख तो ठीक है ना कोई दिक्कत तो नहीं है? इस पर रानी रामपाल ने जवाब दिया, आंख ठीक है सर। इसके बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि वंदना और सलिमा आप सब बहुत अच्छा खेले। यह बहुत ही भावुक पल था। सभी खिलाड़ी भावुक होकर सुबकने लगे। प्रधानमंत्री ने जब रोने की आवाज सुनी तो उन्होंने कहा कि आप लोग रोना बंद करिए। आपके रोने के आवाज मुझे सुनाई दे रही है। निराश होने को जरूरत नहीं है। आपने कितने दशकों बाद हॉकी को पुनर्जीवित किया है। आप पर देश को गर्व है। प्रधानमंत्री ने टीम के कोच को भी बधाई दी। कोच ने धन्यवाद जेते हुए कहा कि ये हमारे लिए भावुक पल है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आप ने अपना बेस्ट दिया है। बहुत अच्छा प्रयास किया है। लड़कियों का आप ने उत्साह बढ़ाया है। हम आपके शुक्रगुजार रहेंगे। प्रधानमंत्री के यह कहने पर कोच के पास मौजद सभी खिलाड़ी रोने लगी। ऐसा प्रधानमंत्री कहीं देखा है, जो हार में भी साथ खड़ा होता है- देखिए वीडियो

 

 

 

 

 

 

 

सोशल मीडिया पर यूजर्स इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं…

Leave a Reply