Home समाचार कार्पोरेट सेक्टर, प्राइवेट सेक्टर और सामाजिक संगठनों ने स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत...

कार्पोरेट सेक्टर, प्राइवेट सेक्टर और सामाजिक संगठनों ने स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने में अहम योगदान दिया है- प्रधानमंत्री मोदी

250
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 21 अक्तूबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) नई दिल्ली के झज्जर परिसर के राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में इंफोसिस फाउंडेशन विश्राम सदन का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के कार्पोरेट सेक्टर, निजी सेक्टर और सामाजिक संगठनों ने निरंतर देश की स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने में अपना योगदान दिया है।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह ऐतिहासिक दिन है कि आज भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन डोज का आंकड़ा पार कर लिया है। उन्होंने कहा कि 100 वर्षों में आई सबसे बड़ी महामारी का मुकाबला करने के लिए, देश के पास अब 100 करोड़ वैक्सीन डोज का मजबूत सुरक्षा कवच है। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह उपलब्धि पूरे भारत की और भारत के नागरिकों की है। प्रधानमंत्री ने देश की वैक्सीन बनाने वाली सभी कंपनियों, वैक्सीन को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने वाले कर्मयोगियों, वैक्सीन लगाने में जुटे स्वास्थ्य सेक्टर के प्रोफेशनलों का आभार व्यक्त किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज एम्स झज्जर में कैंसर का इलाज कराने आने वाले मरीजों को एक बड़ी सहूलियत मिली है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय कैंसर संस्थान में बना यह विश्राम सदन, मरीजों और उनके रिश्तेदारों की चिंता कम करेगा। प्रधानमंत्री ने विश्राम सदन की इमारत बनाने के लिए इंफोसिस फाउंडेशन और उसके लिए जमीन, बिजली तथा पानी उपलब्ध कराने के लिए एम्स झज्जर की सराहना की। उन्होंने इस सेवाकार्य के लिए एम्स प्रबंधन और सुश्री सुधा मूर्ति की टीम के प्रति आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत–प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना इसका एक बेहतरीन उदाहरण है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब मरीज को आयुष्मान भारत योजना के तहत मुफ्त में इलाज मिलता है, तो उसकी सेवा होती है। उन्होंने कहा कि यह सेवाभाव ही है, जिसकी वजह से हमारी सरकार ने कैंसर की लगभग 400 दवाओं की कीमतों को कम करने के लिये कदम उठाये।

देखिए वीडियो-

Leave a Reply