Home समाचार यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने लगाया ‘MDH’ का तड़का, टूटेगा पिछले...

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने लगाया ‘MDH’ का तड़का, टूटेगा पिछले 30 साल का रिकॉर्ड

398
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ‘डबल इंजन’ की सरकार में उत्तर प्रदेश का चौतरफा विकास हो रहा है। जहां किसानों की उपज की खरीद के नए रिकार्ड बना रहे हैं, वहीं उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था ने 2020-21 में लंबी छलांग लगाकर देश में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई। जबकि 2015-16 में यूपी की अर्थव्यवस्था देश में छठवें नंबर पर थी। इसी तरह ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में प्रदेश 2015-16 में 14 वें स्थान पर था, आज उत्तर प्रदेश नंबर-2 पर है। 2016 में बेरोजगारी दर 17 प्रतिशत थी, वह अब गिरकर 4 प्रतिशत रह गई है। योगी सरकार ने 4.5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां दी हैं। माफिया और अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई ने लोगों और महिलाओं को सुरक्षा का अहसास कराया है। इन उपलब्धियों के साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने ‘MDH’ का तड़का लगाकर योगी सरकार के लिए 2022 से आगे का मार्ग प्रशस्त कर दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी के ताबड़तोड़ यूपी दौरे से यह बात साफ हो गई है कि उन्होंने उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने का जो संकल्प लिया है, उसे वे आगे भी जारी रखना चाहते हैं। उत्तर प्रदेश का चुनावी इतिहास गवाह है कि पिछले तीन दशकों में कोई भी सरकार दोबोरा चुन के नहीं आई है। प्रधानमंत्री मोदी इस बार इस पैटर्न को बदलने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसलिए उन्होंने उत्तर प्रदेश में पिछले तीस सालों का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए MDH यानि महिला, डेवलपमेंट और हिन्दुत्व पर फोकस किया है। बीजेपी की चुनावी तैयारी आधी आबादी, विकास और हिन्दुत्व के इर्द-गिर्द ही घूमती नजर आ रही है। इनको प्राथमिकता देकर योजनाएं बनायी और लागू की जा रही हैं।

देश की आधी आबादी यानि महिला (M) एक साइलेंट वोटर है, जो बोलती नहीं, लेकिन सरकार बनाने और बिगाड़ने में इनकी अहम भूमिका हो गई है। क्योंकि आज महिलाएं पहले की अपेक्षा ज्यादा जागरूक हो गई है और अपने हितों के लिए स्वतंत्र रूप से फैसले लेने लगी हैं। प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार ने महिलाओं की इस ताकत को समझा और योजनाओं के जरिए उन्हें साधने की कोशिशें कीं। इसमें मोदी सरकार को सफलता मिली है। प्रधानमंत्री मोदी ने प्रयागराज में महिला स्वयं सहायता समूहों की 16 लाख महिला सदस्यों के बैंक खाते में 1,000 करोड़ रुपए की धनराशि भेजी। साथ ही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत एक लाख कन्याओं के बैंक खाते में 20 करोड़ रुपए से अधिक की धनराशि ट्रांसफर किया। 20 हजार बीसी सखियों (बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेन्ट सखी) के खातों में पहले महीने का 4,000 रुपये मानदेय हस्तांतरित किया।

इसके अलावा ‘डबल इंजन’ की सरकार ने मिशन शक्ति हो या फिर उज्जवल्ला गैस कनेक्शन या फिर कई तरह की छूटें देकर महिलाओं को राहत दी। ट्रिपल तलाक की कुप्रथा से मुक्ति दिलाकर मुस्लिम महिलाओं का अपना समर्थक बना लिया। अब शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल किए जाने के कदम को भी इसी रूप में देखा जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने महिला उत्थान को प्राथमिकता देकर बीजेपी के लिए हर घर में एक वोटर तैयार कर दिया है। 

प्रधानमंत्री मोदी उत्तर प्रदेश को विकास (D) के पथ पर तेजी से दौड़ाने के लिए राज्य का लगातार दौरा कर रहे हैं। पिछले दो महीने में प्रधानमंत्री मोदी के दौरों पर नजर डाले तो पता चलता है कि वे राज्य के हर इलाके में गए और विकास योजनाओं की सौगातें दीं। उन्होंने काशी को 2100 करोड़ रुपए की 27 परियोजनाओं की सौगात दी। प्रधानमंत्री मोदी ने गोरखपुर में एम्स और खाद कारखाने का उद्घाटन किया तो झांसी और बलरामपुर में सिंचाई योजनाओं का। सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की सौगात दी और शाहजहांपुर में उन्होंने गंगा एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया। जहां कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का उद्घाटन किया, वहीं ग्रेटर नोएडा के जेवर में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का शिलान्यास किया।

प्रधानमंत्री मोदी का शासनकाल हिन्दुत्व (H) के पुनर्जागरण का काल है। मोदी सरकार ने सैकड़ों वर्षों से उपक्षित हिन्दू मंदिरों का जीर्णोद्धार कर उनको नया रूप दिया है। काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर का उद्घाटन इसका सबसे बड़ा प्रमाण है। बीजेपी ने श्री राम जन्मभूमि और मंदिर निर्माण को लेकर 90 के दशक में जो आंदोलन शुरू किया था। इससे बीजेपी को राष्ट्रीय स्तर पर उभरने का आधार तैयार हुआ। उसे मोदी सरकार में बड़ी कामयाबी मिली और मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ। आज प्रधानमंत्री  मोदी और सीएम योगी के संयुक्त प्रयास से अयोध्या का सर्वांगीण विकास हो रहा है। इसके माध्यम से मोदी सरकार ने जहां हिन्दुओं को गर्व का अहसास कराया है, वहीं हिन्दू विरोधी पार्टियों को सॉफ्ट हिन्दुत्व के मार्ग पर चलने के लिए मजबूर किया है।

Leave a Reply