Home समाचार झारखंड में फल विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई पर फूटा लोगों का गुस्सा,...

झारखंड में फल विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई पर फूटा लोगों का गुस्सा, कांग्रेस को बताया ‘हिन्दूफोबिया’ से ग्रसित

1566
SHARE

कांग्रेस को ‘हिन्दू’ शब्द से इतनी नफरत है कि उसे किसी बैनर पर इस शब्द को लिखने पर भी आपत्ति है। झारखंड के जमशेदपुर में कुछ फल विक्रेताओं ने अपनी दुकान पर ‘हिन्दू फल दुकान’ लिखा हुआ बैनर लगा रखा था। पुलिस ने न सिर्फ बैनर को हटाने का निर्देश दिया, बल्कि कई दुकानदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। इस कार्रवाई के खिलाफ लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। कुछ ही समय में सोशल मीडिया पर हैशटैग ‘hinduphobia_in_jharkhand !’ ट्रेंड करने लगा। कोई लोगों ने सोशल मीडिया पर झारखंड की हेमंत सरकार से सवाल किया कि किस कानून के तहत कार्रवाई की गई है। न तो विश्व हिन्दू परिषद प्रतिबंधित संगठन है और न ही हिन्दू लिखना अपराध है?

कोई लोगों ने सवाल किया कि जब दूसरे धर्म के लोग अपनी दुकानों पर अपने धर्म का नाम लिखते हैं, तो उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं होती है ? क्या सिर्फ हिन्दू शब्द लिखना अपराध है ?

कई लोगों ने कांग्रेस की झारखंड सरकार पर तुष्टिकरण करने और हिन्दुओं का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया।

झारखंड पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ आपत्ति जताते हुए कई लोगों ने कहा कि कांग्रेस और हेमंत सोरेन सरकार ‘हिन्दूफोबिया’ से ग्रसित है।

Leave a Reply