Home समाचार कोरोना संकट के दौरान पांचवीं बार पीएम मोदी का संबोधन, 12 मई...

कोरोना संकट के दौरान पांचवीं बार पीएम मोदी का संबोधन, 12 मई को दर्शकों ने सबसे अधिक समय तक देखा

456
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रिकॉर्ड के पर्याय बन चुके हैं। वे खुद कोई रिकॉर्ड बनाते हैं या किसी न किसी रूप में रिकॉर्ड उनके साथ जुड़ जाता है। 12 मई, 2020 को प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना संकट के दौरान टीवी पर पांचवीं बार देश को संबोधित किया। इस दौरान उनके संबोधन के साथ एक नया रिकॉर्ड जुड़ गया। उनके संबोधन को दर्शकों ने सबसे अधिक समय तक देखा। 

गुरुवार को प्रसारण दर्शक अनुसंधान परिषद ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने इस सप्ताह मंगलवार को देश को संबोधित किया। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की। प्रधानमंत्री मोदी के 33 मिनट का संबोधन आत्म-निर्भर भारत पर केंद्रित था। इसे 19.3 करोड़ लोगों ने देखा। हालांकि, उनके इससे पिछले संबोधन को सबसे अधिक 20.3 करोड़ लोगों ने देखा था। दर्शक मिनट के हिसाब से बात की जाए, तो इसे 4.3 अरब प्रदर्शन मिनट तक देखा गया। यह प्रधानमंत्री मोदी के पांचों संबोधनों में सबसे अधिक है। बार्क ने कहा कि उनके इस संबोधन का प्रसारण 197 चैनलों ने किया। इससे पिछले संबोधन का प्रसारण 199 चैनलों की ओर से किया गया था।

अब तक कोरोना संकट पर पांच बार राष्ट्र के नाम संबोधन
प्रधानमंत्री मोदी ने 19 मार्च को जनता कर्फ्यू और 24 मार्च को 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी समय-समय पर अपने संबोधन के माध्यम से देश को दिशा-निर्देश देते रहे हैं।

पहला संबोधन- 19 मार्च:
प्रधानमंत्री मोदी ने इस दिन 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की बात कही थी। 22 मार्च को देशभर में सबकुछ बंद रहा और शाम में लोगों ने ताली और थाली बजाकर डॉक्टरों, नर्सों और पुलिस के साथ कोरोना वॉरियर्स को आभार जताया था।

दूसरा संबोधन- 24 मार्च:
प्रधानमंत्री मोदी ने देश के नाम संबोधन में 25 मार्च से 14 अप्रैल तक 21 दिन के लॉकडाउन का एलान किया था। इसमें उन्होंने घर में रहकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा था।

तीसरा संबोधन- 3 अप्रैल:
प्रधानमंत्री मोदी ने 3 अप्रैल को एक वीडियो संदेश जारी कर लोगों से 5 अप्रैल की रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की लाइट बंद कर घरों में दीये, मोमबत्ती और मोबाइल की लाइट जलाकर एकजुटता दिखाने की अपील की थी।

चौथा संबोधन- 14 अप्रैल:
प्रधानमंत्री मोदी ने 14 अप्रैल, 2020 को देश को संबोधित किया। उन्होंने राष्ट्रव्यापी बंद लॉकडाउन को 19 दिन बढ़ाने की घोषणा की।

पांचवां संबोधन- 12 मई:
प्रधानमंत्री मोदी ने 12 मई, 2020 को देश को संबोधित किया। इसमें उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज के साथ आत्मनिर्भर भारत अभियान की घोषणा की।

इसके पहले भी प्रधानमंत्री मोदी कई मुद्दों पर राष्ट्र के नाम संबधोन कर चुके हैं। आइए जानते हैं प्रधानमंत्री कब-कब और किन-किनों मुद्दों पर राष्ट्र को पहले संबोधित कर चुके हैं।

8 नवम्बर 2016
राष्ट्र के नाम संबोधन में 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने की ऐतिहासिक घोषणा।

27 मार्च 2019
उपग्रह रोधी प्रक्षेपास्त्र’ (एएसएटी) के सफल परीक्षण पर राष्ट्र के नाम संबोधन।

8 अगस्त 2019
जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाने के मुद्दे पर राष्ट्र के नाम संबोधन।

10 नवंबर 2019
राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राष्ट्र के नाम संबोधन।

 

Leave a Reply