Home समाचार केजरीवाल को मिली चुनौती, बस एक बार बोलकर दिखा दो ‘भिंडरावाले मुर्दाबाद’,...

केजरीवाल को मिली चुनौती, बस एक बार बोलकर दिखा दो ‘भिंडरावाले मुर्दाबाद’, AAP के बड़बोले सुप्रीमो ने साधी चुप्पी

631
SHARE

कुमार विश्वास ने सियासी बम फोड़कर कभी सहयोगी रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। दूसरों पर आरोपों की बौछार करने वाले केजरीवाल को कुमार विश्वास ने खुला चैलेंज दिया कि केजरीवाल ये बोलकर दिखाएं कि वो खालिस्तान के खिलाफ हैं। इसके बाद बीजेपी एक कदम आगे बढ़ते हुए पंजाब में मतदान के दिन केजरीवाल को खुला चैलेंज दिया कि यदि उनका खालिस्तानियों से कोई संबंध नहीं है तो वे मतदान खत्म होने से पहले खालिस्तान या भिंडरावाले का विरोध करें। लेकिन तुरंत पलटवार करने वाले केजरीवाल ने चुप्पी साध रखी है।  

एक समाचार चैनल पर डिबेट के दौरान बीजेपी के प्रवक्ता आरपी सिंह और आम आदमी पार्टी के समर्थक भी बैठे हुए थे। बीजेपी के प्रवक्ता ने आम आदमी पार्टी को चैलेंज देते हुए कहा कि अभी 7 बजकर 19 मिनट हो रहे हैं और मैं सुबह 7 बजकर 19 मिनट तक का समय देता हूं और अरविंद केजरीवाल एक बार भिंडरावाले मुर्दाबाद बोल कर दिखा दें। पोस्टर दिखाते हुए बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि इन लोगों ने भिंडरावाले की बरसी भी मनाई थी। अब आम आदमी पार्टी जानबूझकर हिंदुओं-सिखों में टकराव पैदा करने की कोशिश कर रही है जिससे उसे वोटों का लाभ मिले।

रविवार (20 फरवरी, 2022) को राजघाट पर आयोजित बीजेपी के विरोध-प्रदर्शन के दौरान बीजेपी के सरदार आरपी सिंह ने अरविंद केजरीवाल की नीयत पर सवाल उठाए। उन्होंने अरविंद केजरीवाल को  भिंडरावाला के समर्थक बताते हुए कहा कि केजरीवाल पंजाब में सत्ता पाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगर केजरीवाल भिंडरावाला के समर्थक नहीं हैं तो ट्वीट करके भिंडरावाला मुर्दाबाद का अपना स्टेटमेंट दें, लेकिन उन्होंने अभी तक ट्वीट करके इस बारे में कुछ नहीं कहा है, क्योंकि वह भिंडरावाला के समर्थक हैं।

उधर दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर न सिर्फ निशाना साधा बल्कि उन्हें खालिस्तानी समर्थक बताने के साथ यह भी कहा कि वह पंजाब को देश से तोड़ना चाहते हैं, ताकि वो सत्ता में आ सकें। आदेश गुप्ता ने कहा कि कुमार विश्वास का बयान संयोग नहीं है, कई घटनाक्रमों के आधार पर उन्होंने ये बात कही है। गुप्ता ने भी चुनौती दी कि केजरीवाल खालिस्तान मुर्दाबाद का नारा लगाकर दिखाएं।

गौरतलब है कि कुमार विश्वास ने 20 फरवरी को हुए पंजाब विधानसभा चुनाव के मतदान से पहले अरविंद केजरीवाल को लेकर एक बयान दिया जिसके बाद पूरे देश में राजनीति गर्म हो गई। कुमार विश्वास ने बताया था कि अरविंद केजरीवाल ने एक बार उनसे कहा था कि वह पंजाब के मुख्यमंत्री बनेंगे या फिर एक स्वतंत्र देश खालिस्तान के पहले प्रधानमंत्री बनेंगे। यानि एक तरीके से अरविंद केजरीवाल पर खालिस्तानियों से सांठगांठ का आरोप लगा है।

Leave a Reply