Home समाचार राम मंदिर की जगह यूनिवर्सिटी बनाने की बात करने वाले मनीष सिसोदिया...

राम मंदिर की जगह यूनिवर्सिटी बनाने की बात करने वाले मनीष सिसोदिया पहुंचे रामलला का दर्शन करने, यूजर्स ने लगाई क्लास

1297
SHARE
फोटो सोशल मीडिया

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव करीब आते ही नेताओं में रामभक्त बनने की प्रतियोगिता शुरू हो गई है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा, समाजवादी पार्टी नेता अखिलेश यादव और बीएसपी सुप्रीमो मायावती के बाद अब आम आदमी पार्टी के मनीष सिसोदिया भी हिंदुओं को रिझाने के लिए मंदिर-मंदिर दौड़ लगाने लगे हैं। सोमवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के करीबी डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया रामलला का दर्शन करने अयोध्या पहुंचे। सिसोदिया ने ट्वीट कर लिखा, “आज रामलला के दर्शन करने जा रहा हूं। अयोध्या में प्रभु श्रीराम ने जनता की ख़ुशहाली की सत्ता का ऐसा मानक स्थापित किया कि ‘राम राज’ आज भी स्वच्छ शासन-प्रशासन की सर्वोच्च प्रेरणा माना जाता है। प्रभु चरणों में यही विनती है कि हमारे विचारों को सदैव पवित्र बनाए रखने की कृपा बनी रहे।”

आपको यह डानकर हैरानी होगी कि इसी सिसोदिया ने सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि मंदिर और मस्जिद दोनों वालों से पूछ लिया जाए अगर उनकी सहमति हो तो वहां एक अच्छी यूनिवर्सिटी बना दी जाए। जिसमें हिंदू, मुस्लिम, और इसाई सभी धर्मों के बच्चे पढ़ाई करें। वहां पर यूनिवर्सिटी बनें, वहीं से राम के सिद्धांतों को निकालो। राम मंदिर बनाने से राम राज्य नहीं नहीं आएगा, पढ़ाने से रामराज्य आएगा।

ऐसे में सिसोदिया के राम मंदिर जाने की घोषणा के साथ ही सोशल मीडिया पर यूजर्स ने क्लास लगानी शुरू कर दी। यूजर्स ने सिसोदिया के पहले वाले वीडियो और ट्वीट निकाल कर शेयर करने शुरू कर दिए।

Leave a Reply