Home समाचार कूचबिहार हिंसा का नया वीडियो आया सामने, उन्मादी भीड़ ने किया था...

कूचबिहार हिंसा का नया वीडियो आया सामने, उन्मादी भीड़ ने किया था लाठी-डंडों से पुलिस और CISF पर हमला, 4 लोगों की गई थी जान

905
SHARE

पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में 10 अप्रैल को हुई हिंसा के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्रीय सुरक्षा बलों को जिम्मेदार बताया था। उन्होंने इस मामले में सियासत करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और चुनाव आयोग पर निशाना साधा था। लेकिन एक नया वीडियो सामने आने के बाद इस मामले की सच्चाई अब दुनिया के सामने है। 11 मिनट के इस वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि उस दिन लाठी-डंडों से लैस उन्मादी भीड़ ने हिंसा का पूरा तांडव किया था। 

रिपब्लिक बांग्ला ने कूचबिहार हिंसा का वीडियो जारी किया है। इसमें स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है कि लाठी-डंडे से लैस भीड़ किस तरह हिंसा पर उतारू है। वीडियो में सुरक्षा बल उन्हें रोकते नजर आते हैं। लेकिन कुछ लोग रुके नहीं। भीड़ और सुरक्षा बलों के जवानों के बीच नोंकझोंक होती है और भीड़ बूथ पर कब्जा करने की कोशिश करती है।

वीडियो के आखिर के हिस्से में भीड़ बुरी तरह से बूथ पर हावी होती है। भीड़ को दरवाजों पर हमले करते हुए भी देखा जा सकता है। जब जवानों ने भीड़ को रोकने की कोशिश की तो, हिंसक भीड़ ने जवानों पर हमला कर दिया। भीड़ ने जवानों को घेर लिया था, जिसके बाद जवानों ने आत्मरक्षा में गोलियां चलाईं। इस गोलीबारी में चार लोगों की जानें चली गईं।

इससे पहले इस हिंसा का जो वीडियो सामने आया था, उसमें गोली की आवाज सुनाई दे रही है और धुआं उठता हुआ दिखाई दे रहा है। इस दौरान गोली की आवाज सुनते ही बूथ पर मौजूद महिलाएं और अन्य लोग बदहवास होकर भागते नजर आ रहे हैं। 

इस हिंसा को लेकर चुनाव आयोग ने बयान जारी किया था। चुनाव आयोग ने कहा था कि मतदान केंद्र पर लाइन में खड़े मतदाताओं, अन्य मतदान कर्मियों और खुद की जान बचाने के लिए सीआईएसएफ के कर्मियों को ओपन फायर जरूरी हो गया था क्योंकि भीड़ ने उनके हथियार छीनने का भी प्रयास किया था।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार यानि 14 अप्रैल को कूचबिहार के सीतलकुची में माथाभांगा का दौरा किया। इस दौरान ममता बनर्जी ने यहां सीआईएसएफ की गोलीबारी में मारे गए चारों लोगों के परिवारों से मुलाकात की। ममता बनर्जी ने वादा किया कि हम हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करेंगे। साथ ही ममता ने शहीद बेदी बनाने का वादा किया। उन्होंने चुनाव आयोग पर हमला बोलते हुए कहा,”हो सकता है कि चुनाव आयोग मुझे एक और नोटिस दे, लेकिन मैं वहीं करूंगी, जो करना चाहती हूं।”

गौरतलब है कि 10 अप्रैल को पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान कूचबिहार के सीतलकुची विधानसभा क्षेत्र की बूथ संख्या 126 पर हिंसा हुई थी। इस हिंसा पर सियासत भी काफी देखने को मिली। बीजेपी ने इस हिंसा के लिए टीएमसी पर आरोप लगाया। तो टीएमसी ने इसे काला दिवस के रूप में मनाया और केंद्रीय बलों को हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया। वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने टीएमसी पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि ‘ममता बनर्जी के उकसावे वाली राजनीति के चक्कर में लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी।’

 

Leave a Reply