Home समाचार शिवसेना-कांग्रेस की सरकार ने मुंबई पुलिस की कराई फजीहत, सोशल मीडिया में...

शिवसेना-कांग्रेस की सरकार ने मुंबई पुलिस की कराई फजीहत, सोशल मीडिया में उड़ रहा मजाक

419
SHARE

पूर्व में मुंबई पुलिस की तुलना स्कॉटलैंड यार्ड से की जाती रही है लेकिन शिवसेना-कांग्रेस की सरकार के कारण आज मुंबई पुलिस का सोशल मीडिया पर मजाक उड़ाया जा रहा है। दरअसल, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में केंद्र ने बिहार सरकार की सीबीआई जांच की सिफारिश मान ली है। बिहार सरकार ने सोमवार को मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश भेजी थी। बुधवार को मामले में सीबीआई जांच की मांग करने वाली एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही थी, जिस दौरान केंद्र की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता भी मौजूद थे। सॉलिसिटर जनरल ने बताया कि केंद्र ने बिहार की सीबीआई जांच की सिफारिश मान ली है और केस सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया है।

इससे पहले महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख जोर देखकर कह रहे थे कि सुशांत सिंह राजपूत केस सीबीआई को नहीं सौंपा जाएगा, महाराष्ट्र पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है, उधर बिहार सरकार ने पूरे मामले के निष्पक्ष जांच के लिए केस सीबीआई को सौंपने की मांग कर रही थी। मामले की जांच करने गए बिहार के आईपीएस अफसर विनय तिवारी को काम करने से रोका गया है और उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन कर दिया है। अब सुशांत सिंह राजूपत सुसाइड मामले में मुबंई पुलिस की भूमिका को लेकर सोशल मीडिया पर मजाक उड़ाया जा रहा है। 

सुशांत सिंह राजूपत केस सीबीआई को सौंपे जाने के बाद ट्विटर पर #SCForSushant नाम से ट्रेंड शुरू हो गया है और लोग अलग-अलग तरह से प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। मनु जिंगायल ट्विटर हैंडल से लिखा गया है कि सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं। भगवान की चक्की धीमी जरूर है पर पीसती बहुत बारीक है। 

 

आपको बता दें कि इससे पहले मंगलवार को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के नेता नारायण राणे सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में पुलिस की ओर से प्राथमिकी दर्ज करने में 50 दिन से अधिक की देरी किए जाने पर सवाल उठाया। उन्होंने बकायदा बीजेपी दफ्तर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया है कि ‘दिशा सालियान ने आत्महत्या नहीं कि है बल्कि उसकी हत्या हुई है। इस दौरान नारायण राणे ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में भी सवाल किया कि सरकार किसके दबाव में काम कर रही है और किसको बचाने के लिए मुंबई पुलिस की छवि को बर्बाद किया जा रहा है। 

Leave a Reply