Home समाचार वीडियो के आधार पर हो रही है स्वाति मालीवाल से छेड़छाड़ मामले...

वीडियो के आधार पर हो रही है स्वाति मालीवाल से छेड़छाड़ मामले की जांच, केजरीवाल के सीसीटीवी कैमरे से महिला सुरक्षा के दावे की खुली पोल

258
SHARE

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल राष्ट्रीय राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बड़े-बड़े दावे करते हैं। दोनों महिला सुरक्षा के मामले में खुद क्रेडिट लेने का कोई मौका नहीं चूकते हैं। लेकिन जब अपने पर आती है तो हकीकत का एहसास होता है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर अपने साथ हुई छेड़छाड़ की घटना के बारे में जानकारी दी। हालांकि दिल्ली पुलिस ने तुरंत छेड़छाड़ के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन अब सवाल उठ रहे हैं कि क्या सीसीटीवी कैमरे से महिलाओं की सुरक्षा का केजरीवाल का दावा खोखला साबित हो रहा है ?

दरअसल दिल्ली महिला आयोग अध्यक्ष स्वाति मालीवाल बुधवार (18 जनवरी, 2023) को देर रात एम्स के पास खड़ी थी। इस दौरान एक कार सवार ने उनको गलत इशारे किए और छेड़छाड़ की कोशिश की। मालीवाल के मुताबिक, जब मैंने उसे पकड़ने की कोशिश की तो उसने गाड़ी का शीशा बंद कर दिया, जिससे मेरा हाथ फंस गया। इसके बाद उसने मुझे 10 से 15 मीटर तक घसीटा। उन्होंने इस घटना की जनकारी देते हुए ट्वीट किया, “कल देर रात मैं दिल्ली में महिला सुरक्षा के हालात Inspect कर रही थी। एक गाड़ी वाले ने नशे की हालत में मुझसे छेड़छाड़ की और जब मैंने उसे पकड़ा तो गाड़ी के शीशे में मेरा हाथ बंद कर मुझे घसीटा। भगवान ने जान बचाई। यदि दिल्ली में महिला आयोग की अध्यक्ष सुरक्षित नहीं, तो हाल सोच लीजिए।”

दिल्ली पुलिस के डीसीपी चंदन सिंह के मुताबिक, हौज़ खास थाने से एक कॉल आया था। एक महिला को एक कार वाले ने गलत इशारे किए और 10-15 मीटर तक घसीटा। पुलिस ने बताया कि आरोपित हरीश चंद्र की उम्र 47 वर्ष है और उसने शराब का सेवन किया था। मामले में FIR दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। डीसीपी ने कहा कि स्वाति मालीवाल कोटला पुलिस स्टेशन क्षेत्र के तहत आने वाले एम्स के गेट नंबर 2 पर अपनी टीम के साथ खड़ी थी। जब वह फुटपाथ पर खड़ी थी, तब एक सफेद रंग की कार उनके पास आई, जिसके चालक ने उन्हें कहा कि वह कार के अंदर बैठ जाए। स्वाति ने मना कर दिया और कार की साइड विंडो के पास गई, तो चालक ने कार का कांच बंद कर दिया। इसी दौरान स्वाति मालीवाल का हाथ विंडो में फंस गया और वह 10-15 मीटर तक घसीटती चली गई।

दिल्ली पुलिस ने आरोपी चालक को गाड़ी सहित रात 3.34 बजे पकड़ लिया। पकड़े गए आरोपी का नाम हरीश चंद्र (47) है। उसके पिता का नाम दुर्जन सिंह बताया जा रहा है। वह संगम विहार का रहने वाला है। ये भी जानकारी सामने आई है कि जिस समय ये घटना हुई, स्वाति के ही साथ उनकी टीम के कुछ दूसरे लोग मौजूद थे। उनकी तरफ से वीडियो बनाया गया था। अब उस इलाके में क्योंकि कोई सीसीटीवी नहीं है, ऐसे में पुलिस भी उस वीडियो के आधार पर ही आगे की जांच करने की तैयारी कर रही है। ऐसे में अब सवाल उठ रहे हैं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सीसीटीवी कैमरे के मामले में दिल्ली को दुनिया का नंबर वन शहर होने का दावा करते हैं, लेकिन छेड़छाड़ मामले की जांच के लिए वीडियो की मदद ली जा रही है।

गौरतलब है कि सीएम अरविंद केजरीवाल ने अगस्त 2021 में दावा किया था कि प्रति वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरे लगाने के मामले में दिल्ली दुनिया में नंबर एक पर पहुंच गई है। दिल्ली में प्रति वर्ग मील 1826 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। यह संख्या चेन्नई की तुलना में तीन गुनी और मुंबई से 11 गुना अधिक है। दिल्ली में अब तक 2.75 लाख सीसीटीवी लग चके हैं और अगले कुछ महीने में 1.4 लाख सीसीटीवी और लगाए जाएंगे। इस मामले में दिल्ली भारत ही नहीं, पूरी दुनिया के शहरों से आगे निकल गया है। इस कैटेगरी में लंदन, शंघाई और न्यूयॉर्क जैसे शहर भी पीछे हो चुके हैं। सीसीटीवी के मामले में दिल्ली दुनियाभर के 150 शहरों में पहले स्थान पर है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह पूरी दिल्ली के लिए गर्व की बात है।

दिल्ली की इस उपलब्धि पर टिप्पणी करते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा था कि हमारे लिए राजधानी के नागरिकों, बच्चों और महिलाओं की सुरक्षा सबसे ऊपर है। हर गली, हर मुहल्ले में सीसीटीवी कैमरे लगने से चोरी-डकैती और छिनैती जैसे अपराधों में भी कमी हुई है जिससे लोग सुरक्षित महसूस करते हैं। इसका सबसे बड़ा लाभ महिलाओं को हुआ है। उनके साथ होने वाले अपराधों के मामले में खासी कमी दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार अपनी योजना को आगे बढ़ाएगी और भारी संख्या में कैमरे लगाए जाएंगे। लेकिन स्वाति मालीवाल के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना ने केजरीवाल के दावे की पोल खोलकर रख दी है।

 

Leave a Reply