Home पोल खोल अभी से हार से डरे सपा सांसद एसटी हसन ने मुस्लिमों को...

अभी से हार से डरे सपा सांसद एसटी हसन ने मुस्लिमों को दिखाया UCC का खौफ, बोले-इस कानून से दूसरी शादी नहीं कर पाएंगे, ये वही सांसद जो राष्ट्रगान भूले थे

468
SHARE

उत्तर प्रदेश में जिस पार्टी की डबल इंजन की सरकार है, उससे समाजवादी पार्टी को डबल डर सता रहा है। पीएम मोदी के मार्गदर्शन में योगी आदित्यनाथ की मेहनत रंग ला ही रही है। उधर केंद्र में सरकार जनहित में एक के बाद एक नए कानून ला रही है। इसके चलते सपा और उसके नेता बौखलाए हुए हैं। मुरादाबाद से समाजवादी पार्टी सांसद डॉ. एसटी हसन मुसलमानों को कॉमन सिविल कोड का खौफ दिखाकर डराते नजर आए। हसन ने कहा कि अगर यह कानून आया तो मुसलमानों के अधिकार छिन जाएंगे। इस कानून के आने के बाद आप दूसरी शादी नहीं कर पाएंगे।चुनाव आने वाले हैं…अल्लाह के वास्ते इसमें बंट मत जाना
दरअसल, समाजवादी पार्टी को अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव में हार का डर अभी से सता रहा है। मुरादाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में डॉ. एसटी हसन ने कहा,”कौम के लिए मैं आपसे इतनी दरख़्वास्त करना चाहता हूं कि चुनाव आने वाले हैं। अल्लाह के वास्ते इसमें बंट मत जाना। सिर्फ एक ही मकसद होना चाहिए कि बीजेपी को हराना है।’ बीजेपी कानून ला रही है, इसके बाद मुस्लिम संस्थाओं में 50% मुस्लिमों के पढ़ने का अधिकार खत्म हो जाएगा। अगर आप चुनावों में बंटे तो इसके नतीजे घातक होंगे।यह कानून आया तो मुसलमानों के अधिकार छिन जाएंगे
सपा सांसद यहीं नहीं रुके, भाजपा के खिलाफ उनका जहर उगलना जारी रहा। उन्होंने कहा कि BJP देश के मुसलमानों को मजदूर बनाकर रखना चाहती है। बहुत जल्द कॉमन सिविल कोड आने वाला है. उन्होंने कहा कि BJP कॉमन सिविल कोड लाने वाली है। अगर । इस कानून के आने के बाद आप दूसरी शादी नहीं कर पाएंगे। मुस्लिम पर्सनल लॉ खत्म हो जाएगा। मुस्लिमों के शैक्षणिक संस्थानों का माइनॉरिटी स्टेटस खत्म हो जाएगा।

सपा सांसद ने उपमुख्यमंत्री पर भी किया था पलटवार
सपा सांसद डॉ. एसटी हसन ने सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि केशव प्रसाद मौर्य साइकोसिस (मानसिक बीमारी) से ग्रसित हैं। उन्हें इलाज की जरूरत है। दरअसल, केशव प्रसाद मौर्य ने पिछले दिनों कहा था कि 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले लुंगी छाप गुंडे घूमते थे। जालीदार टोपी लगाए लोग बंदूक-गोली लिए व्यापारियों को डराने का काम करते थे। जब शिकायत की जाती थी तो धमकी भी देते थे। ऐसे लोगों से बीजेपी ने निजात दिलायी है।

 

यह वही सांसद जो ध्वजारोहण के बाद राष्ट्रगान गाना भूले
सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को मानसिक बीमार बताने वाले सपा के ये वही सांसद हैं जी खुद ध्वजारोहण के बाद राष्ट्रगान ही भूल गए थे। सपा सांसद एसटी हसन, पहली लाइन के बाद बोले- जय हे, जय हे। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। सांसद डॉ. एसटी हसन ध्वजारोहण करने के बाद थोड़ा सा राष्ट्रगान गाने के बाद आगे की पंक्तियां ही भूल गए। सिर्फ सांसद ही नहीं वहां मौजूद सपा जिला अध्यक्ष डीपी यादव, महानगर अध्यक्ष शाने अली शानू सहित अन्य किसी को भी राष्ट्रगान याद नहीं था। जिसके बाद बमुश्किल राष्ट्रगान पूरा किया गया।

राष्ट्रगान को अधूरा छोड़ना अपमान, लोगों ने की ट्रोलिंग
दरअसल मुरादाबाद से सांसद डॉ. एसटी हसन स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम के लिए शहीद पार्क पहुंचे थे। सांसद ने वहां मौजूद लोगों को संबोधित किया और फिर उनके ओर से झंडारोहण किया गया। झंडारोहण होते ही राष्ट्र गान शुरू हुआ, लेकिन उनके साथ खड़े उनके लोग राष्ट्र गान ही भूल गए। लोगों की तो छोड़िए सांसद भी राष्ट्र गान नहीं गा पाए। दूसरी ही पंक्ति पर सब अटक गए और एक दूसरे का मुंह देखने लगे। सांसद भी खुद अपने साथी कार्यकर्ताओं का मुंह देखने लग गए। अंत में जब किसी को आगे की लाइनें याद नहीं आई तो सांसद धीरे से जय हे-जय हे.. बोलने लगे और ध्वजारोहण कार्यक्रम खत्म हो गया। सोशल मीडिया पर इस कार्यक्रम के झंडारोहण का वीडियो वायरल हो गया और लोग जमकर कमेंट करते हुए सांसद को ट्रोल किया। एक यूजर ने लिखा, ‘अगर सांसद ही राष्ट्रगान भूल जाएंगे तो फिर आम नागरिकों के लिए क्या संदेश जाएगा. यह तो राष्ट्रगान का अपमान है।’

 

 

Leave a Reply