Home नरेंद्र मोदी विशेष रूसी राष्ट्रपति पुतिन फिर PM MODI की तारीफों के पुल बांधते बोले-...

रूसी राष्ट्रपति पुतिन फिर PM MODI की तारीफों के पुल बांधते बोले- मोदी सच्चे देशभक्त और उनके नेतृत्व में स्वर्णिम है भारत का भविष्य, वैश्विक मामलों में बढ़ा रहे भारत की भूमिका

666
SHARE

पीएम मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद विश्व के कई नेताओं ने पीएम मोदी और भारत के उत्तरोतर बुलंदियों को छूने की मुक्तकंठ से प्रशंसा की है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक बार फिर भारत और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी बड़े देशभक्त हैं। पीएम मोदी के चलते ही वैश्विक स्तर पर भारत की भूमिका पूरी दुनिया में बढ़ रही है। भारत की जमकर तारीफ करते हुए पुतिन ने कहा कि औपनिवेशिक स्वतंत्रता के बाद भारत ने बहुत प्रगति की है। खासकर पीएम मोदी के कार्यकाल में भारत नई ऊंचाइयों को छू रहा है। अपने देश के लिए कुछ भी कर सकने की क्षमता रखने वाले पीएम मोदी देश की स्वतंत्र सोच को आगे बढ़ाने में सक्षम हैं। उन्होंने भारत की तारीफ करते हुए दोनों देशों के संबंधों को बहुआयामी बताया। पुतिन ने कहा कि भारत की एक स्वतंत्र विदेश नीति रही है और रूस के हमेशा से ही खास संबंध रहे हैं।

पीएम मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ विचार के आर्थिक और नैतिक रूप में बहुत मायने
मास्को में आयोजित वार्षिक वल्दाई चर्चा के दौरान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि एक ब्रिटिश उपनिवेश से स्वतंत्र आधुनिक देश बनने तक भारत ने विकास के क्षेत्र में काफी प्रगति की है। खासकर पिछले कुछ सालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत में कई अद्भुत काम हुए हैं। रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में बहुत कुछ किया गया है। वह सच्चे देशभक्त हैं। ‘मेक इन इंडिया’ का उनका विचार आर्थिक और नैतिकता दोनों रूप में ही बहुत मायने रखता है। यह कह सकते हैं कि भविष्य भारत का है, इस पर गर्व हो सकता है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है।अपने देश और देशवासियों के हित के लिए कुछ भी कर सकते हैं मोदी: पुतिन
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपने भाषण में कहा कि पीएम मोदी एक देशभक्त हैं और अपने देश की स्वतंत्र सोच को आगे बढ़ाने में सक्षम हैं। वे अपने देश के लिए कुछ भी कर सकते हैं। पुतिन ने कहा कि वे ऐसी वह शख्सियत हैं, जो अपने लोगों के हित के लिए खुद की स्वतंत्र विदेश नीतियां बना सकते हैं। भारत पर अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध लगाए जाने की कोशिशों के बावजूद, एक आइस-ब्रेकर की तरह उन्होंने भारत के हित के लिए उसी दिशा में सफर जारी रखा। वह भारत को भारतीय लोगों के लिए आवश्यक दिशा में आगे बढ़ा रहे हैं। इसके बावजूद भी कि शांति बनाए रखने के लिए चाहे कुछ करना हो या कोई सीमा तय करनी हो। उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि भारत का एक महान भविष्य और वैश्विक मामलों में बढ़ती भूमिका है।

स्वर्णिम है भारत का भविष्य, वैश्विक मामलों में बढ़ रही भारत की भूमिका
भारत की तारीफ करते हुए रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि भारत ने विकास के मामले में जबरदस्त कामयाबी हासिल की है। भारत का भविष्य स्वर्णिम है। उन्होंने भारत और रूस दोनों देशों के संबंधों के बारे में कहा कि भारत और रूस ने आपसी सहयोग की नींव पर अपने विशेष संबंध स्थापित किए हैं। पुतिन ने कहा कि मोदी दुनिया के उन लोगों में से एक हैं जो अपने देश के हित में स्वतंत्र विदेश नीति का संचालन करने में सक्षम हैं। वह भारत को भारतीय लोगों के लिए आवश्यक दिशा में आगे बढ़ा रहे हैं। भारत की भूमिका वैश्विक मामलों में बढ़ रही है।‘भारत और रूस के हमेशा से रहे हैं खास रिश्ते, हमने एक-दूसरे का समर्थन किया’
रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि हमारे भारत के साथ खास रिश्ते हैं। हमने हमेशा एक दूसरे का समर्थन किया है। मुझे विश्वास है कि यह भविष्य में भी ऐसा ही रहेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने मुझसे उर्वरक की आपूर्ति बढ़ाने की मांग की थी और हमने ऐसा किया भी है। हमने 7.6 गुणा तक इसको बढ़ाया है। रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि हमारे बीच आर्थिक सहयोग बढ़ रहा है, हमने व्यापार की मात्रा बढ़ाई है। कृषि में व्यापार लगभग दोगुना हो गया है।

यूक्रेन के खिलाफ परमाणु हथियारों के इस्तेमाल से पुतिन ने किया इनकार
इसी बीच पुतिन ने न्यूक्लियर हथियारों के उपयोग के किसी भी इरादे से इनकार कर दिया है। लेकिन उन्होंने पश्चिमी देश वैश्विक प्रभुत्व को स्थापित रखना चाहते हैं, इसी कारण युद्ध हुआ है। उन्होंने स्पष्ट किया कि वैश्विक प्रभुत्व को बनाने के पश्चिमी देशों की कोशिशें नाकाम होंगी। पुतिन ने अंतरराष्ट्रीय विदेश नीति विशेषज्ञों के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कल बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि वह यूक्रेन पर परमाणु हथियारों का इस्तेमाल नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि रूस के लिए यूक्रेन पर परमाणु हथियारों से हमला करना निरर्थक है। पुतिन ने कहा, ‘हमें इसकी कोई जरूरत नहीं दिख रही है। इसका न तो राजनीतिक और न ही सैन्य रूप से कोई मतलब है।

रूसी राष्ट्रपति पुतिन ही नहीं, पीएम नरेन्द्र मोदी की शख्सियत और व्यक्तित्व की पूरी दुनिया कायल है। पहले भी कई देशों के राष्ट्राध्यक्ष प्रधानमंत्री मोदी के व्यक्तित्व और कृतित्व की भूरि-भूरि प्रशंसा कर चुके हैं। कई देशों के प्रधानमंत्रियों का मानना है कि पीएम मोदी के कार्यकाल में भारत ने विकास के नए सोपान तय किए हैं और भविष्य में भी बुलंदियों पर जाएगा...

डोनाल्ड ट्रंप कई मौकों पर कर चुके हैं पीएम मोदी की तारीफ
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पहले भी कई मौकों पर प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ कर चुके हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्रंप के अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के बाद अमेरिका की यात्रा की थी। इस दौरान दोनों नेताओं में मुलाकात हुई और फिर दोनों ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की। तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम मोदी का अपना सच्चा मित्र बताते हुए कहा कि आतंकवाद को खत्म करने के लिए दोनों देश साथ मिलकर काम करेंगे। उन्होंने अफगानिस्तान में भारत के सहयोग के लिए धन्यवाद भी दिया।

डोनाल्ड ट्रंप ने अपने विदेश दौरे के दौरान भी कहा कि पीएम मोदी ने लोगों को एक साथ लाने की दिशा में काम किया है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत ने शानदार ग्रोथ हासिल की है, और वो देश की प्रगति के लिए बहुत ही सफलतापूर्वक काम कर रहे हैं। ट्रंप ने यह भी कहा कि भारत ने खुली अर्थव्यवस्था को आत्मसात किया है तब से इसने शानदार ग्रोथ प्राप्त की है और नए- नए अवसर पैदा किए हैं।

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा भी मान चुके हैं पीएम मोदी का लोहा
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ पीएम मोदी के मजबूत संबंध जगजाहिर हैं। 2015 में गणतंत्र दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा को मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया था। भारत आने से पहले ओबामा ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की थी, उन्होंने चाय बेचने से लेकर प्रधानमंत्री तक के सफर का जिक्र करते हुए कहा था कि यह भारतीयों की इच्छाशक्ति को दर्शाता है। श्री ओबामा ने कहा था कि पीएम मोदी का विजन एकदम साफ है और उनकी ऊर्जा प्रभावित करने वाली है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी विकास के रास्ते में रोड़े अटकाने वाले मुद्दों को फौरन हटाने को तैयार हो जाते हैं। पिछले साल दिसंबर में जब पूर्व अमेरिका राष्ट्रपति ओबामा ने भारत का दौर किया था, तभी उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए, उन्हें कड़े फैसले लेने वाला नेता बताया था। बराक ओबामा ने कहा कि मोदी के पास देश के लिए विजन है।

नैंसी पेलोसी ने की जलवायु परिवर्तन पर प्रतिबद्धता की सराहना
अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री ने पृथ्वी के अस्तित्व को खतरा पैदा करने वाली चुनौतियों से निपटने का जिम्मा लेकर महात्मा गांधी के मूल्यों को बरकरार रखा है। जलवायु परिवर्तन पर समझौते को सुनिश्चित करने में प्रधानमंत्री मोदी की प्रतिबद्धता का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि यह आसान नहीं था, लेकिन यह किया गया।  पेलोसी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि चाहे जल संरक्षण हो या जो कुछ भी हो, गांधी ने प्रकृति का मूल्य और इस बात को समझा कि हमें उसका सम्मान करना होगा।वाशिंगटन में अमरीका-भारत सामरिक और भागीदारी फोरम के दूसरे लीडरशिप शिखर सम्‍मेलन में उन्होंने कहा, ‘मुझे पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ भारत जाने का मौका मिला था, जब प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ओबामा के बीच मुलाकात हुई और दोनों नेताओं ने उद्योग जगत के लोगों के साथ बात की। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने जो भाषण दिया वह उन तमाम जबरदस्त भाषण में से एक था, जिसे मैंने सुना था।’ WION की खबर के अनुसार अमरीकी संसद की अध्यक्ष पेलोसी ने कहा कि हमारे पास अपनी सोच, जानकारी और रणनीति है, लेकिन संदेश काफी अहम होता है, प्रधानमंत्री मोदी इसमें मास्टर हैं। श्रोता उनके हाथ में होते हैं। वे श्रोता को मंत्रमुग्ध कर देते हैं।

भूटान के पीएम मोदी को देश के लिए कठोर फैसले लेने वाला नेता बताया
प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करने वालों में एक नाम है भूटान के पीएम लोतेय शेरिंग का। पीएम लोतेय शेरिंग ने प्रधानमंत्री मोदी को सहज और सरल स्वाभाव का ऐसा नेता बताया है, जो अपने देश को आगे ले जाने का अच्छा इरादा रखता है। उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी देश को आगे ले जाने के लिए कठोर फैसले लेने से भी नहीं हिचकते हैं। इतना ही नहीं भूटान के प्रधानमंत्री लोतेय शेरिंग ने पीएम मोदी द्वारा लिखित एक्जाम वॉरियर्स किताब की तारीफ करते हुए अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट भी लिखी है। उन्होंने लिखा, “मैंने किताब पढ़ी है। यह किताब युवाओं को ध्‍यान में रखकर लिखी गई है। इस किताब के जरिए एग्‍जाम के डर को कम किया गया है।”प्रधानमंत्री मोदी ला रहे भारत के अच्‍छे दिन- सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री
सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में भारत में कारोबार करना काफी आसान हो गया है। ऊर्जा मंत्री खालिद ए अल-फलीह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी भारत में अच्छे दिनों के वादे को पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि श्री मोदी के कार्यकाल में भारत में एफडीआई में तेजी आई है। भारत के कच्चे तेल की जरूरत को पूरा करने की प्रतिबद्धता जताते हुए उन्होंने कहा कि वह दुनिया के सबसे तेजी से बढ़ते ऊर्जा उपभोक्ता देश में ईंधन के खुदरा और पेट्रोरसायन कारोबार में निवेश का इच्छुक है।

 

ब्रिटेन के पूर्व पीएम कैमरन ने की तारीफ: कहा- भारत भाग्यशाली है, क्योंकि उसके पास मोदी हैं
हाल ही में ब्रिटेन के पूर्व पीएम डेविड कैमरन ने प्रधानमंत्री मोदी की सराहना करते हुए कहा कि भारत भाग्यशाली है कि उसके पास स्पष्ट दृष्टि वाला नेतृत्व है। इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स की वार्षिक आम बैठक में एक सवाल के जवाब में कैमरन ने कहा कि, भारत भाग्यशाली है कि उसके पास स्पष्ट दृष्टि वाला नेतृत्व है। जब मैं प्रधानमंत्री मोदी से मिला तो मैंने देखा कि उनके पास दीर्घकालिक समस्याओं को लेकर गहरी सोच है। प्रधानमंत्री कैमरन ने यह भी कहा कि भारत सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक है और इसे अपने आकार की सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था कहा जाता है।

फ्रांसीसी राष्ट्रपति भी हुए प्रधानमंत्री मोदी के मुरीद
फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भी प्रधानमंत्री मोदी की जमकर प्रशंसा की। प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा करते हुए राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा कि, ‘वह प्रधानमंत्री मोदी के विजन, विशेष रूप से जलवायु परिवर्तन के प्रति उनकी प्रतिबद्धता से प्रभावित हैं।’ राष्ट्रपति ने कहा कि, ‘हम इस एजेंडे में भारत के साथ हैं, विशेष रूप से अंतर्राष्ट्रीय सोलर एलायंस को लेकर।’ इंडिया टुडे पत्रिका के साथ इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि, ‘मेरे विचार में आजादी और व्यक्तिगत दर्शन के साथ पीएम मोदी बहुत बुद्धिमान व्यक्ति हैं। वह भारत की संप्रभुता के साथ बहुत घनिष्ठ हैं, जैसा मैं अपने देश की संप्रभुता के साथ हूं।’

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने भी की प्रशंसा
इसके पहले फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने प्रशंसा करते हुए कहा था कि, ”मैं प्रधानमंत्री मोदी के दृढ़निश्चय और कूटनीतिक सूझबूझ का कायल हूं। पीएम नरेंद्र मोदी ने क्लाइमेट चेंज कॉन्फ्रेंस में अहम भूमिका निभाई और दुनिया को नई राह दिखाई।”

प्रधानमंत्री मोदी महान देशभक्त हैं: नेतन्याहू
इजरायल के प्रधानमंत्री रहे बेंजामिन नेतन्याहू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच और कार्यशैली के कायल रहे हैं। नेतन्याहू ने कहा था कि पीएम मोदी पूरी तरह से भारत के विकास के लिए समर्पित हैं। उन्होंने पीएम मोदी को महान देशभक्त बताया और कहा कि पीएम मोदी वही करते हैं, जो भारत के लिए अच्छा होता है। बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी को क्रांतिकारी नेता बताया और कहा कि उनका विजन बहुत स्पष्ट है। प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए नेतन्याहू ने कहा कि पीएम मोदी के इजरायल दौरे से हमारी दोस्ती शुरू हुई थी, हमारी दोस्ती दोनों देशों में शांति लाएगी, मेरी यह यात्रा शांति, समृद्धि और विकास के लिए है, शांति और खुशहाली के लिए यह साझेदारी अहम है।

शिंजो आबे ने की पीएम मोदी की प्रशंसा
जापान के भूतपूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे पीएम मोदी के अच्छे दोस्तों में शामिल रहे हैं। शिंजो आबे भी कई मौके पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा कर चुके हैं। अहमदाबाद में पीएम मोदी के साथ अहमदाबाद-मुंबई के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन परियोजना की आधारशिला रखने के अवसर पर उन्होंने पीएम मोदी की प्रगतिशील सोच की तारीफ करते हुए कहा था कि अब दोनों देशों का सहयोग सिर्फ द्विपक्षीय नहीं रहा है, बल्कि यह सामरिक और वैश्विक साझेदारी में विकसित हुआ है। उन्होंने कहा कि भारत और जापान स्वतंत्रता, लोकतंत्र, मानव अधिकार और कानून का नियम जैसे बुनियादी मूल्यों को साझा करते हैं। उस वक्त आबे ने अपने भाषण में जय इंडिया, जय जापान का नारा भी दिया।भारत को तरक्की के रास्ते पर ले जा रहे हैं पीएम मोदी
ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री रहे मैल्कम टर्नबुल भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना कर चुके हैं। पूर्व प्रधानमंत्री टर्नबुल जब भारत के चार दिवसीय दौरे पर आए थे, तब उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत तरक्की और विकास के असाधारण रास्ते पर बढ़ रहा है। मैल्कम टर्नबुल ने कहा कि हमारा भारत के साथ मजबूत रिश्ता है और इसे और मजबूत करना है। हम इतिहास और मूल्यों के द्वारा एक-दूसरे से जुड़े हैं। उन्होंने कहा था कि दोनों देश तरक्की और विकास के रास्ते की यात्रा पर आगे चल रहे हैं। आज पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत की उपलब्ध‍ियों की पूरी दुनिया में सराहना हो रही है, ऐसे में हम भारत के साथ रिश्तों को और गहरा करना चाहते हैं।चीनी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी की तारीफ में पढ़े कसीदे
चीन हमारा पड़ोसी है, और कुछ मुद्दों पर दोनों के बीच विवाद भी है, लेकिन चीन और उसके नेता प्रधानमंत्री मोदी की ताकत से अच्छी तरह वाकिफ हैं। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी कई मौके पर पीएम मोदी की प्रशंसा कर चुके हैं और देश ही नहीं बल्कि वैश्विक मसलों पर उनके विचारों से सहमति जता चुके हैं। पीएम मोदी ने 2014 में जब देश की बागडोर संभाली थी, उसी वर्ष सितंबर में चीनी राष्ट्रपति का भारत दौरा हुआ था। उस दौरे में पीएम मोदी ने चीनी राष्ट्रपति के स्वागत में अहमदाबाद में साबरमती के तट पर स्वागत के विशेष इंतजाम किए थे। जर्मनी के हैमबर्ग में जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर ब्रिक्स देशों की बैठक में चीनी राष्ट्रपति ने आतंकवाद के खिलाफ भारत के मजबूत संकल्प को सराहनीय बताया। उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ भारत के कड़े रुख और ब्रिक्स देशों के बीच सामंजस्य स्थापित करने में प्रधानमंत्री मोदी की भूमिका की सराहना भी की।

नीदरलैंड के प्रधानमंत्री ने की प्रशंसा
नीदरलैंड के प्रधानमंत्री मार्क रूट ने प्रशंसा करते हुए कहा कि, ”प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत ग्लोबल इकोनॉमिक पॉवर बन चुका है, हम भारत के साथ कई क्षेत्रों में सहयोग के लिए उत्सुक हैं।”

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने की सराहना
अफगानिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति अशरफ गनी ने पीएम मोदी की सराहना करते हुए कहा कि, ”प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक अच्छे वक्ता और कुशल राजनैतिक व्यक्ति हैं। उनके अफगानिस्तान दौरे के बाद दोनों देशों के बीच रिश्ते और मजबूत हुए हैं। भारत और अफगानिस्तान स्वाभाविक मित्र हैं अफगानिस्तान के विकास के लिए भारत ने अहम योगदान दिया है।”भूटान के प्रधानमंत्री ने की पीएम मोदी की प्रशंसा
भूटान के प्रधानमंत्री श्री श्रिंग टॉग्बे ने प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि, ”प्रधानमंत्री मोदी बहुत ही स्नेहशील व्यक्ति हैं और उनको काफी ज्ञान है और वे भूटान के हितैषी हैं। वे हमारे नरेशों को बहुत आदर की नज़र से देखते हैं। वे भारत-भूटान संबंधों के विवरणों को अच्छी तरह जानते हैं और इसीलिए उद्देश्य एवं आशा की भावना जागती है।”

अमेरिकी जज ने की मोदी सरकार के ‘स्वच्छ गंगा मिशन’ की तारीफ
अमेरिका में हवाई सुप्रीम कोर्ट के जज माइकल डी विल्सन ने मोदी सरकार के ‘स्वच्छ गंगा मिशन’ की तारीफ की है। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी गंगा के प्रति सांस्कृतिक आस्था रखते हैं। जज विल्सन ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी नदी की चिंता करते हैं। ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी और डब्ल्यूडब्ल्यूएफ-इंडिया द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि, ‘कोई जब गंगा में जाता है, तो वह सिर्फ भीगता नहीं है। वह प्रेरणा ग्रहण करता है। यह एक शानदार सामुदायिक परियोजना है। तमाम जहर के बावजूद गंगा को छोड़ा नहीं गया है, लोग अब भी इसके प्रति श्रद्धा रखते हैं। इसलिए मुझे लगता है कि इसे स्वच्छ बनाया जाएगा। एक भारतीय समाधान होगा जिसमें एक महान दृष्टिकोण होगा। भारत के प्रधानमंत्री को गंगा नदी की चिंता है। वह नदी की परवाह करते है।’

‘स्वच्छ भारत अभियान’ के लिए बिल गेट्स ने की प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ
स्वच्छ भारत अभियान की सफलता को देखते हुए देश विदेश में इस अभियान की जमकर तारीफ हो रही है। माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स भी प्रधानमंत्री मोदी की पहल पर शुरू किए गए ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के मुरीद हो गए हैं। बिल गेट्स ने स्वच्छ भारत के बारे में कहा नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व और भारत सरकार ने स्वच्छता में सुधार की दिशा में अहम भूमिका निभाई है। अब समय है कि स्वच्छ भारत को सफल बनाएं। बिल गेट्स ने हाल ही में न्यूयॉर्क में एक कार्यक्रम के दौरान अपने भाषण में स्वच्छ भारत अभियान का उल्लेख किया था। बिल एवं मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन के उपाध्यक्ष ने अपने भाषण में कहा था, ‘स्वच्छता की तरफ ध्यान दिलाने के लिए भारत सरकार को बधाई दी जानी चाहिए क्योंकि भारत में कुपोषण का दर अपेक्षा से कहीं अधिक है। इसका मतलब है कि कई बच्चों की मानसिक और शारीरिक क्षमता का विकास नहीं हो रहा है।’

डब्ल्यूएचओ ने की स्वच्छ भारत अभियान की तारीफ
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत अभियान की तारीफ की है। ‘स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण)’ के स्वास्थ्य लाभों पर अपने अध्ययन में डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि इस कार्यक्रम से तीन लाख से अधिक लोगों की जिंदगियां बच सकती हैं। डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञ रिचर्ड जॉनस्टन ने कहा कि अनुमान है कि ‘स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण)’ से 2014 और अक्तूबर, 2019 के बीच तीन लाख से अधिक लोगों को मौत के मुंह में जाने से बचा लिया जाएगा। रिचर्ड ने कहा कि 2014 में स्वच्छ भारत मिशन शुरू होने से पहले स्वच्छता नहीं होने से हर साल डायरिया के 19.9 करोड़ मामले सामने आते थे। ये धीरे-धीरे घट रहे हैं और अक्तूबर, 2019 तक सुरक्षित स्वच्छता सुविधाओं का यूनिवर्सल इस्तेमाल पूरा हो जाने से इसका पूरी तरह सफाया हो जाएगा। अध्ययन में पेयजल आपूर्ति, स्वच्छता सेवाओं, व्यक्तिगत स्वच्छता में सुधार का सबूत मिला जिसका सकारात्मक स्वास्थ्य प्रभाव रहा।

नोबेल वैज्ञानिक ने की प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ
जालंधर में 106वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस में हिस्सा ले रहे दो नोबेल पुरस्कार विजेता वैज्ञानिकों ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के विपरीत भारतीय प्रधानमंत्री देश के विकास के लिए विज्ञान के महत्व को समझते हैं और देश में इसको बढ़ावा देने के लिए विजन भी रखते हैं। रसायन में नोबेल पुरस्कार विजेता इजरायल के प्रो अवराम हशर्को ने कहा कि सभी राजनेता विज्ञान के महत्व को नहीं समझते हैं, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी इसमें काफी दिलचस्पी लेते हैं, जो काफी महत्वपूर्ण है। नोबेल पुरस्कार विजेता प्रो थॉमस सुडोफ ने कहा कि अमेरिका में ट्रम्प के नेतृत्व वाली सरकार विज्ञान और अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए पर्याप्त खर्च नहीं कर रही है, जबकि इस संबंध में पीएम मोदी का एप्रोच उम्मीदों से भरा है। प्रो सुडोफ ने कहा कि पीएम मोदी ने साइंस इवेंट के लिए जिस समझ का परिचय दिया और जो तैयारी की थी, उससे वह काफी प्रभावित हुए। विषयों पर उनकी अच्छी पकड़ थी। सुडोफ ने कहा कि मैंने उन्हें यह समझाने की कोशिश की कि एक देश के लिए फंडामेंटल साइंस कल्चर का होना बेहद जरूरी है। वह इससे सहमत भी हुए।

अमेरिकी फोरम के अध्यक्ष ने कहा- उनसे सीखें विश्व के नेता
अमेरिका के शीर्ष उद्योगपति और यूएस-इंडिया स्ट्रीटिजिक पार्टनरशिप फोरम के अध्यक्ष जॉन टी चैम्बर्स ने प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा की है। चैम्बर्स ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जो भी करते हैं निडरता से करते हैं, इसलिए दुनिया के नेताओं को उनसे सीख लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी दुनिया के शीर्ष नेताओं में इसलिए शुमार हैं क्योंकि वह दूरदर्शी हैं और जोखिम उठाने को तैयार हैं। अन्य नेताओं की अपेक्षा प्रधानमंत्री मोदी समझते हैं कि बदलाव के लिए समग्र नीति जरूरी है। इसलिए उन्होंने स्किल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया, मेक इन इंडिया और नोटबंदी जैसे कदम उठाए हैं जिससे भारत आने वाले वर्षो में अग्रणी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। चैम्बर्स ने कहा कि भारत पूरी दुनिया के लिए न सिर्फ एक उभरती अर्थव्यवस्था के रूप में उदाहरण होगा बल्कि एक विकसित देश के रूप में सबके सामने होगा। चैम्बर्स ने यह बात एक किताब ‘द पाथ अहेड: ट्रांसफॉर्मेटिव आइडिया फॉर इंडिया’ की प्रस्तावना में कही है।

रजनीकांत ने की प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ, बताया करिश्माई नेता
प्रधानमंत्री मोदी की कार्य करने की शैली ही ऐसी है कि हर कोई उनकी तारीफ करता है। लोकसभा चुनाव में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के बाद सुपरस्टार रजनीकांत ने प्रधानमंत्री मोदी को करिश्माई नेता कहा। रजनीकांत ने कहा कि यह जीत मोदी की जीत है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी आज के दौर के करिश्माई नेता हैं। रजनीकांत 30 मई को प्रधानमंत्री मोदी के शपथग्रहण समारोह में शामिल होंगे।

लाल बहादुर शास्त्री के बेटे ने पीएम मोदी की तारीफ
पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के बेटे सुनील शास्त्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बिल्कुल मेरे पिता की तरह काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी दुनिया भर में भारत का सम्मान बढ़ा रहे हैं। सुनील शास्त्री ने कहा कि वे देश के भीतर व्यापक विकास योजनाओं से सबका साथ सबका विकास कर रहे हैं। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, लाल बहादुर शास्त्री के बेटे ने यह भी कहा कि आज की भारतीय राजनीति में प्रधानमंत्री मोदी का कोई विकल्प नहीं है।

सुनील शास्त्री ने इसके पहले भी कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी मेरे पिता की तरह बहुत मेहनत करते हैं।

पूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा ने की प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ
पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खुल कर तारीफ कर चुके हैं। पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि, ‘भाजपा के आदर्श अटल बिहारी वाजपेयी की तुलना में जनता के बीच भाषण देने में पीएम मोदी दो कदम आगे हैं। पीएम मोदी ज्यादा शार्प हैं।’ पूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा ने श्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री राज्‍यों के मुद्दों को समझते हैं। प्रधानमंत्री जब भी किसी राज्‍य में जाते हैं, वहां के मुद्दों को समझते हुए उनके बारे में अपनी राय रखते हैं।

 

Leave a Reply