Home समाचार कोरोना के खिलाफ लंबी लड़ाई में न थकना है-न हारना है, बस...

कोरोना के खिलाफ लंबी लड़ाई में न थकना है-न हारना है, बस जीतना है: प्रधानमंत्री मोदी

480
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के 40वें स्थापना दिवस पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से कोरोना महामारी के खिलाफ जारी युद्ध में अपना योगदान देने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लंबी है, इसलिए न थकना है और न ही हारना है, सिर्फ जीतना है।  

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए भारत के अब तक के प्रयासों ने दुनिया के सामने एक अलग ही उदाहरण प्रस्तुत किया है। भारत दुनिया के उन देशों में है, जिसने कोरोना वायरस की गंभीरता को समझा और समय रहते इसके खिलाफ एक व्यापक जंग की शुरुआत की।

उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट पर विदेश से आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग हो, विदेश में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने की बात हो, दुनिया के कई देशों से भारत में आने वाले हवाई यातायात को बंद करने का कठिन निर्णय हो, इस महामारी से निपटने के लिए मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने का प्रयास हो, हर स्तर पर, एक के बाद एक भारत ने प्रोएक्टिव होकर कई फैसले लिए। राज्य सरकारों के सहयोग से इन फैसलों को गति भी मिली। भारत ने जितनी तेजी से काम किया, जितनी समग्रता से काम किया है। आज उसकी प्रसंशा सिर्फ भारत ने ही नहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है। 

उन्होंने कहा कि तमाम देश एकजुट होकर कोरोना का मुकाबला करें, इसके लिए सार्क देशों की विशेष बैठक हो या G-20 देशों का विशेष सम्मेलन, भारत ने इन सारे आयोजनों में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि इस दौरान दुनिया के अनेक देशों के राष्ट्राध्यक्षों से भारत लगातार संपर्क में है,उनकी भी बातचीत होती रहती है। सभी देशों ने भारत के प्रयासों की सराहना की है।

प्रधानमंत्री ने कहा है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को सिखाया गया है कि दल से बड़ा देश है और देश 130 करोड़ लोगों का है। उन्होंने कहा कि भारत जैसा इतना बड़ा देश, 130 करोड़ लोगों का देश, लॉकडाउन के समय भारत की जनता ने जिस तरह की Maturity दिखाई है,वह अभूतपूर्व है। हम भारत के कोटि-कोटि जनों का जितना नमन करें, उतना कम है। कोई कल्पना नहीं कर सकता था कि इस विशाल देश में, लोग इस तरह अनुशासन और सेवा भाव का पालन करेंगे। 

 अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं को एक ही मंत्र सिखाया गया है कि दल से बड़ा देश है। सेवा हमारे संस्कार में है। कोरोना के इस मुश्किल घड़ी में भारतीय जनता पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं पर राष्ट्रसेवा और मानव सेवा का दायित्व और भी ज्यादा बढ़ जाता है।

इस दौरान उन्होंने कोरोना महामारी के मद्देनजर गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं से पांच आग्रह किए।

-गरीबों को राशन के लिए अविरत सेवा अभियान चलाएं

-अपने साथ 5-7 अन्य लोगों के लिए फेस-कवर बनवाएं

-नर्सेस और डॉक्टर्स, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी, बैंक और पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी व आवश्यक सेवाओं में जुटे हुए सभी कर्मचारियों को धन्यवाद अभियान के लिए पांच वर्ग बनाएं

-‘आरोग्य सेतु एप’ की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं और कम से कम 40 लोगों के मोबाइल पर ये एप इंस्टॉल करवाएं

-PM-CARES फंड में भाजपा कार्यकर्ता दान दें और दूसरों को भी दान देने के लिए प्रेरित करें

 

 

Leave a Reply