Home समाचार ‘लाशों पर राजनीति’ कांग्रेस और राहुल गांधी की स्टाइल बन गई है

‘लाशों पर राजनीति’ कांग्रेस और राहुल गांधी की स्टाइल बन गई है

180
SHARE

राहुल गांधी को समझना चाहिए कि वे अब बच्चे नहीं रहे, संसदीय तजुर्बा के हिसाब से और पार्टी में मिले दायित्व और तरजीह के हिसाब से वे अब वरिष्ठ नेता बन चुके हैं, लेकिन देश को शर्मसार करने से बाज नहीं आते।  देश में लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस की स्टाइल रही है। अब राहुल गांधी भी अपनी पार्टी की उसी स्टाइल को आगे बढ़ाने में लग चुके हैं। तभी तो केंद्रीय  स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने कांग्रेस और राहुल गांधी दोनों को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने राहुल गांधी के एक ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा है कि पेडों से भले ही गिद्ध लुप्त हो रहे हों लेकिन लगता है उनकी ऊर्जा धरती के गिद्धों में समाहित हो रही है।

दरअसल राहुल गांधी ने न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार की एक कटिंग को अपने ट्वटीट का तथ्य बनाते हुए भारत सरकार पर संदेह जताया है। उन्होंने लिखा है कि नंबर झूठ नहीं बोलते लेकिन भारत सरकार झूठ बोलती है। राहुल गांधी वैश्विक महामारी कोरोना से देश में हुई मौत पर अब राजनीति करनी शुरू कर दी है। उन्होंने देशवासियों की लाशों की गिनती को अपनी राजनीति का केंद्रबिंदु बना लिया है। राहुल गांधी के इसी ट्वीट का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन जी ने लिखा है कि राहुल गांधी को दिल्ली से अधिक न्यूयॉर्क पर भरोसा है। राहुल गांधी के साथ कांग्रेस को जवाब देते हुए उन्होंने कहा है कि लाशों पर राजनीति करना कोई धरती के गिद्धों से सीखे।              

Leave a Reply