Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 18 फरवरी

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 18 फरवरी

350
SHARE

18 फरवरी 2015

बेंगलुरू में आयोजित एयरो इंडिया शो में भाग लिया, भारतीय विज्ञान संस्‍थान स्थित नैनो सांइस इंजीनियरिंग केन्‍द्र राष्‍ट्र को समर्पित किया, बेंगलुरू में राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ और स्‍नायु विज्ञान संस्‍थान (NIMHANS) के 19वें दीक्षांत समारोह में उद्बोधन, राष्‍ट्रीय जैविक विज्ञान केंद्र स्थित स्‍टेम सेल अनुसंधान संस्‍थान में वै‍ज्ञानिकों के साथ विचार-विमर्श किया। 

18 फरवरी 2016

मध्य प्रदेश के सीहोर में फसल बीमा योजना के लिए संचालनगत दिशा-निर्देशों का अनावरण किया, सीहोर में किसानों की विशाल रैली को संबोधित किया।

18 फरवरी 2018

नवी मुम्‍बई अंतर्राष्‍ट्रीय हवाई अड्डे के भूमि पूजन समारोह में शामिल हुए, जेएनपीटी पर चौथे कंटेनर टर्मिनल को राष्‍ट्र को समर्पित किया, मुम्‍बई स्थित वाधवानी इंस्‍टीट्यूट ऑफ आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का उद्घाटन किया, मैग्नेटिक महाराष्‍ट्र: कन्वर्जेंस 2018 के उद्घाटन अवसर पर उद्बोधन, श्री रामकृष्ण परमहंस की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

18 फरवरी 2019

राष्ट्रपति भवन में आयोजित रस्मी स्वागत समारोह के दौरान अर्जेंटीना गणराज्‍य के राष्‍ट्रपति मौरिसियो मैक्री का स्वागत किया, संयुक्त प्रेस वक्तव्य और कई समझौतों पर हस्ताक्षर, टैगोर सांस्कृतिक सद्भावना पुरस्कार प्रदान करने के अवसर पर उद्बोधन।

Leave a Reply