Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 30 मार्च

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 30 मार्च

163
SHARE

30 मार्च 2015
राष्ट्रपति भवन में आयोजित पद्म पुरस्कार समारोह में उपस्थित हुए, अलीबाबा कंपनी के सीईओ जैक मा से मुलाकात। 

30 मार्च 2016
एक दिन के सरकारी दौरे पर बेल्जियम पहुंचे, बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स मिशेल से मुलाकात, बेल्जियम के पीएम के साथ देवस्थल, उत्तराखंड में एरीज टेलीस्कोप का रिमोट से उद्घाटन किया।

30 मार्च 2017
नई दिल्ली में अधाकारियों के साथ प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की प्रगति की समीक्षा की और निर्देश दिए।

30 मार्च 2018
वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से नैरोबी के कच्छी लेउआ पटेल समाज के रजत जयंती समारोह में संबोधन, स्मार्ट इंडिया हैकथान 2018 के ग्रैंड फिनाले में उद्बोधन।

30 मार्च 2019
असम के मोरान व गोहपुर और अरुणाचल प्रदेश के Aalo में आयोजित विशानल जनसभाओं को संबोधित किया।

30 मार्च 2020

समाज कल्याण संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ विचार-विमर्श किया, दुनिया भर में भारत के दूतावासों और उच्चायोगों के प्रमुखों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की।

30 मार्च 2021

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर केरल, तमिलनाडु और पुदुचेरी में आयोजित चुनावी रैलियों को संबोधित किया।

30 मार्च 2022

नई दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 5वें बिम्सटेक शिखर सम्मेलन को संबोधित किया, केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक की अध्यक्षता की।

 

Leave a Reply