Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 22 नवम्बर

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 22 नवम्बर

160
SHARE

22 नवम्बर 2014
जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ में जनसभा को संबोधित किया। 

22 नवम्बर 2015
मलेशिया में रामकृष्ण मिशन का दौरा और स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण, मलेशिया इंटरनेशनल कल्चरल सेंटर में भारतीय समुदाय को संबोधित किया,पूर्व एशिया शिखर सम्मेलन में उद्बोधन।

22 नवम्बर 2016
केदार नाथ साहनी के जीवन पर आधारित किताब का दिल्ली में विमोचन किया। 

22 नवम्बर 2017

प्रो-एक्टिव शासन एवं समय पर कार्यान्‍वयन के लिए ITC आधारित बहु-मॉडल प्‍लेटफॉर्म प्रगति के माध्‍यम से 23वीं बातचीत की अध्‍यक्षता, SU-30 MKI से ब्रह्मोस की प्रथम सफल टेस्ट फायरिंग पर वैज्ञानिकों को बधाई दी। 

22 नवम्बर 2018
दिल्ली के विज्ञान भवन से 124 जिलों को कवर करने वाली शहरी गैस वितरण (CGD) परियोजना को हरी झंडी दिखाई। 

22 नवम्बर 2019

श्री सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में हिस्सा लिया, बैठक में गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी मौजूद रहे। 

22 नवम्बर 2020

उत्‍तर प्रदेश विंध्‍याचल क्षेत्र में ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजना की आधारशिला रखी, सऊदी अरब की ओर से वर्चुअल माध्यम से आयोजित 15वें जी20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया।

22 नवम्बर 2021

राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा रक्षा अलंकरण समारोह के दौरान उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply