Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीः 22 जनवरी

इतिहास के झरोखे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीः 22 जनवरी

543
SHARE

22 जनवरी 2015

हरियाणा के पानीपत से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और सुकन्या समृद्धि योजना की शुभारंभ किया और जनसभा को संबोधित किया। 

22 जनवरी 2016
लखनऊ में बाबासाहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय के छठवें दीक्षांत समारोह में शामिल हुए, लखनऊ में ई-रिक्शा वितरण समारोह में संबोधन, रिक्शा चालकों और उनके परिवारों के साथ बातचीत, वाराणसी में आयोजित सामाजिक आधिकारिता शिविर में जरूरत के कई सामान व सहायक उपकरण वितरित किए, महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई।

22 जनवरी 2018

विश्व आर्थिक मंच के सम्मेलन के लिए दावोस पहंचे, दुनिया भर की कंपनियों के सीईओ के डिनर की मेजबानी, दावोस में वैश्विक कंपनियों के सीईओ के साथ गोलमेज बैठक में शामिल हुए।

22 जनवरी 2019

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में 15वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2019 में शिरकत की, मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ के साथ द्विपक्षीय बैठक की, वाराणसी में एकीकृत टेक्सटाइल ऑफिस कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन करने के लिए पट्टिका का अनावरण किया।

22 जनवरी 2020

नई दिल्ली में 32वें ‘प्रगति’ बैठक की अध्यक्षता की और अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की समीक्षा की।  

22 जनवरी 2021

तेजपुर विश्वविद्यालय के 18वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया, वाराणसी में कोविड टीकाकरण अभियान के लाभार्थियों और टीके लगाने वालों से बातचीत।

Leave a Reply