Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 20 मई

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 20 मई

223
SHARE

20 मई 2014

भाजपा संसदीय पार्टी के सर्वसम्मति से नेता चुने गए, वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने नाम प्रपोज किया,  संसद पहुंचने पर संसद भवन की सीढ़ियों पर माथा टेका।

 

20 मई 2015

भारत-सिंगापुर सामरिक वार्ता के आगंतुक सदस्‍यों से मुलाकात, 1965 के माउंट एवरेस्‍ट अभियान दल के सदस्‍यों से अभियान की स्‍वर्ण जयंती पर मुलाकात।

20 मई 2017

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी को उनके दोबारा चुने जाने पर बधाई दी और दोनों देशों के बीच ‘विशिष्ट संबंधों’ को मजबूत करने की भारत की प्रतिबद्धता को दोहराया।

20 मई 2019

भारतीय विदेश सेवा के 2018 बैच के प्रशिक्षु अधिकारियों से मुलाकात, ज्यादातर एक्जिट पोल में एनडीए को आम चुनाव-2019 में बहुमत।

20 मई 2020

आयुष्मान भारत योजना की एक करोड़ वीं लाभार्थी पूजा थापा ने टेलीफोन पर बातचीत की।

20 मई 2021

कोरोना स्थिति को लेकर 10 राज्यों के जिलाधिकारियों और क्षेत्रीय अधिकारियों के साथ अहम बैठक की।

20 मई 2022

राजस्थान के जयपुर में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया।

 

Leave a Reply