Home समाचार पीएम मोदी की अपील का दिखा असर, मिट्टी के दीए और मोमबत्ती...

पीएम मोदी की अपील का दिखा असर, मिट्टी के दीए और मोमबत्ती की बिक्री में आई तेजी

279
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अपील पर देशवासी आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों की बत्तियां बंद करेंगे और दीए, मोमबत्ती या मोबाइल फ्लैश की लाइटें जलाएंगे। इसके जरिए देशवासी कोरोना वायरस को हराने के लिए सामूहिक शक्ति का परिचय देंगे। प्रधानमंत्री मोदी की अपील का असर ये है कि शहर के साथ साथ गांव में महिलाओं से लेकर पुरुषों तक इस अभियान में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने में जुट गये हैं। आज रात शहर से लेकर गांव तक के लिए दीवाली की रात होगी। 

प्रधानमंत्री मोदी की अपील के बाद लोगों में खासा उत्साह देखा जा रहा है। लोग दीप जलाने के लिए पूरी तैयारी करते देखे गए। लोगों का कहना है कि कोरोना की इस जंग से जीतने के लिए वे अपने घरों में दीपक जलायेंगे ताकि एकजुटता का प्रदर्शन हो सके और घरों में सकरात्मक ऊर्जा प्रवेश कर सके। इसको लेकर शनिवार को कई लोग दीया की खरीदारी करते भी नजर आये। पिछले दो दिनों में मिट्टी के दिए और मोमबत्तियों की मांग में तेजी से इजाफा हुआ है। हालांकि यह सीजन मिट्टी के दीए बिकने का नहीं है, फिर भी लोग जरूरी सामान के साथ मोमबत्ती और मिट्टी के दिए खरीद रहे हैं।

लॉकडाउन में जहां लोगों के काम-धंधे ठप हैं, आमदनी के जरिए लगभग खत्म हो गए हैं, ऐसे में दीए बनाने वालों के लिए प्रधानमंत्री मोदी की अपील बड़े ही काम की साबित हो रही है। अभी गर्मी भी शुरू नहीं हुई हैं, जिससे उनके घड़े या सुराही बिकने शुरू नहीं हुए हैं। नवरात्री में अगर थोड़ा-बहुत काम भी चलता तो लॉकडाउन के चलते पिट गया। लेकिन रविवार को दीए जलाने की प्रधानमंत्री मोदी की अपील मिट्टी के बर्तनों का काम करने वाले परिवारों के लिए राहत लेकर आई।

दिल्ली ही नहीं देश के अलग-अलग कोनों से मिट्टी के दीपक और मोमबत्ती बिकने की खबरें आ रही हैं। बिहार के पटना से भी मिट्टी के दीए खरीदते हुए लोगों को देखा गया। 

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को देशवासियों से अपील की थी कि वे 5 अप्रैल, रविवार की रात अपने घरों के बाहर दीए और मोमबत्ती जलाएं। उन्होंने कहा था, ‘ रात 9 बजे, घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं और उस समय यदि घर की सभी लाइटें बंद करेंगे, चारों तरफ जब हर व्यक्ति एक-एक दीया जलाएगा, तब प्रकाश की उस महाशक्ति का एहसास होगा, जिसमें एक ही मकसद से हम सब लड़ रहे हैं, ये उजागर होगा।’

प्रधानमंत्री मोदी ने दीए और मोमबत्ती जलाते समय भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा है कि किसी भी हालत में सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन नहीं करना है। कोरोना की चेन तोड़ने का यही रामबाण इलाज है।

Leave a Reply